ताज़ा खबर
 

Durga Ashtami 2020: दुर्गाष्टमी के दिन घर में खुशहाली के लिए किये जाते हैं ये खास उपाय

Maha Ashtmi Puja 2020: दुर्गा अष्टमी (Durga Ashtami) को सूर्यास्त के बाद 11 सुहागिन महिलाओं को लाल चूड़ियां और सिंदूर भेंट करने से धन लाभ के योग बनते हैं।

chaitra navratri, navratri, navratri 2020, navratri dates, chaitra navratri 2020, maha ashtmi date 2020, maha ashtmi important things, chaitra navratri puja, maha ashtmi totka, maha ashtmi puja vidhi, maha ashtmi puja mantra, navratri puja vidhi, navratri puja mantra, navratri puja samagri, navratri puja muhurat, maa durga, durga avatar, maa durga 9 avatar, maa mahagauri, maha ashtmi upaayघर में सुख-समृद्धि बनाए रखने के लिए नवरात्रि में इन उपायों को किया जाता है।

Maha Ashtmi Puja 2020: चैत्र नवरात्रि हिन्‍दुओं के प्रमुख त्‍योहारों में से एक है। 9 दिनों तक चलने वाले इस त्योहार को बेहद पवित्र माना जाता है। इस दौरान मां दुर्गा के सभी नौ रूपों की पूजा की जाती है। मां को प्रसन्न करने और उनका आशीर्वाद प्राप्त करने के लिए चैत्र नवरात्रि को बेहद अहम माना जाता है। इनमें से ही एक महत्वपूर्ण दिन है महा अष्टमी (Navratri Ashtami), इस दिन दुर्गा मां के महागौरी रूप की पूजा की जाती है। मां महागौरी की पूजा करने से भक्तों के सभी कष्ट दूर हो जाते हैं और श्रद्धालु जीवन में पवित्र और अक्षय पुण्यों को प्राप्त करते हैं। ऐसे में आइए जानते हैं कि जीवन में सुख-समृद्धि और खुशहाली पाने के लिए महा अष्टमी के दिन क्या उपाय किये जाते हैं…

1. पीपल के ग्यारह पत्तों पर राम नाम लिखें और उन की माला बनाकर हनुमानजी को पहना दें। इससे सभी प्रकार की परेशानियां दूर होती हैं। वहीं, आर्थिक दशा को सुधारने के लिए पान में गुलाब की 7 पंखुरियां रखकर मां दुर्गा को अर्पित करें।

2. अगर दांपत्य जीवन में व्यवधान हो और पति पत्नी में अनबन हो तो अष्टमी की रात चंदन और केसर पाउडर मिलाकर पान के पत्ते पर रखें । फिर दुर्गा मां की फोटो के सामने बैठ कर चंडी स्तोत्र का पाठ करें। रोजाना इस पाउडर का तिलक लगाएं।

3. दुर्गा अष्टमी की रात में लाल कंबल के आसन पर बैठकर “ऊँ ऐं हृीं क्लीं महागौर्ये नमः” मंत्र का 1 हजार बार जाप करें। इसके अलावा, अगर आपके दैनिक जीवन के कार्यों में बहुत रुकावटें आ रही हैं तो माता के मंदिर में पान बीड़ा चढ़ाएं। इस पान में कत्था, गुलकंद, सौंफ, खोपरे का बूरा और सुमन कतरी के साथ ही लौंग का जोड़ा रखें। इसमें सुपारी व चूना न डालें।

4. अष्टमी की रात को महागौरी के स्वरूप को दूध से भरी कटोरी में विराजित कर चांदी का सिक्का चढ़ाएं, और दूसरे दिन से उस सिक्के को हमेशा अपनी जेब में रखने से आपके पास धन आने का मार्ग खुल जाएगा।

5. अगर काम में मेहनत करने के बावजूद सफलता हाथ नहीं लगती है या बार-बार कोई विघ्न आते हों तो अष्टमी को बेल के कोमल पत्तों पर लाल चन्दन लगा कर मां जगदम्बा को अर्पण करें। साथ ही इस मंत्र का जाप करें “ॐ ह्रीं नमः । ॐ श्रीं नमः ।” और थोड़ी देर बैठ कर प्रार्थना। इस मंत्र का जाप करने से राज योग बनता है। गुरु मंत्र का जप और कभी -कभी इन मंत्रों का जाप नवरात्रि में खास तौर पर करें।

6. अगर संभव हो तो दुर्गाष्टमी की रात में किसी प्राचीन दुर्गा मंदिर में जाकर देवी मां के चरणों में 8 कमल के फूल चढ़ाने से माता रानी जल्दी प्रसन्न होती हैं। इसके अलावा, रात में ही अपने घर के मुख्य दरवाजे पर रात 12 बजे गाय के घी का एक दीपक जलाने से सारे दुर्भाग्य दूर हो जाते हैं।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 Ram Navami 2020 Date: कब मनाई जायेगी राम नवमी? जानिए कैसे मनाया जाता भगवान राम के जन्मोत्सव का दिन
2 मेष संक्रांति 2020: अप्रैल में सूर्य बदलेंगे अपनी राशि, जानिए सभी राशि वालों पर इसका क्या पड़ेगा असर
3 नवरात्रि व्रत कैसे करें पूरा, क्या है इसकी विधि और कन्या पूजन का तरीका
यह पढ़ा क्या?
X