ताज़ा खबर
 

ये उपाय करके आप बच सकते हैं शनि की महादशा से

शनि के बारें में ज्योतिषी कहते हैं कि शनि की कुल 19 दशा 19 साल की होती है।
अहमदनगर का शनि शिगनापुर मंदिर (photo source- PTI)

हमारी कुंडली में 9 ग्रह होते हैं जिनमें से शनि एक है। शनि गृह को मारक गृह भी कहा जाता है। ज्योतिषियों का कहना है कि शनि के कुंडली में गलत जगह पर होने से जिंदगी में उथल-पुथल मचा सकता है। जिस व्यक्ति पर शनि की महादशा चल रही है उस व्यक्ति के लिए समय अशुभ माना जाता है। जब तक शनि का महादशा चलती है। तब तक व्यक्ति तरक्की नहीं कर सकता।

ज्योतिषियों के अनुसार इस समय शनि ग्रह की महादशा धनु राशि मकर राशि और वृश्चिक राशि के लोग पर चल रही है। इन राशि के लोगों को सावधान रहने की जरुरत है। ये लोग शनि की क्रूर दृष्टि का शिकार हो सकते हैं।

ज्योतिषी कहते हैं कि इन तीन राशियों के लोगों को सावधान रहने की जरुरत है क्योंकि शनि की अशुभ दशा चल रही है। आने वाले समय में इन लोगों की मुसीबतें बढ़ सकती हैं। शनि को खुश करने के लिए कुछ उपाय भी बताए गए हैं। शनि को खुश करने के लिए शनि बीज मंत्र: ॐ प्रां प्रीं प्रौं सः शनैश्चराय नमः मंत्र को रोज 108 बार जाप करना चाहिए।

शनि को खुश करने के लिए ज्योतिषी सलाह देते हैं कि काले घोड़े की नाल अथवा नाव की कील से बनी हुई अंगूठी को दाएं हाथ की मध्यमा अंगुलि में पहनने से भी शनि देव खुश होते हैं। लेकिन अंगूठी को पहनते समय ध्यान रहे कि अंगूठी को शुक्रवार की रात में सरसो के तेल में डुबो कर रख दें और उसके बाद पहन लें और तेल का दीपक जला दें।

अगर आप उपरोक्त उपाय करने में समर्थ नहीं हैं तो पीड़ित जातक को हनुमान चालीसा और बजरंग बाण का पाठ करना चाहिए। ऐसा करने से भी शनि देव खुश होते हैं।

शनि के बारें में ज्योतिषी कहते हैं कि शनि की कुल 19 दशा 19 साल की होती है। अगर किसी व्यक्ति पर साढ़ेसाती और दो ढैय्या का समय को जोड़ दिया जाए तो शनि की महादशा व्यक्ति के जीवन को 31 साल तक प्रभावित करती है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.