बुध की वक्री चाल: कन्या राशि वालों को हो सकता है धन लाभ, जानें और राशियों का हाल

बुध की वक्री चाल का विभिन्न राशियों पर अलग-अलग प्रभाव देखने को मिलेगा। जहां मेष राशि वालों को इससे नुकसान की संभावना है तो वहीं कन्या राशि वालों के लिए बुध की यह चाल लाभदायक सिद्ध होगी।

budh, budh vakri, vakri of budh
बुध की वक्री का विभिन्न राशियों पर अलग अलग प्रभाव देखने को मिलेगा (File Photo)

बुध इस वर्ष तीसरी बार वक्री हुए हैं। 27 सितंबर 2021 की सुबह 10:40 बजे बुध की वक्री चाल की शुरुआत हुई है। ज्योतिषविदों के अनुसार, 18 अक्टूबर तक बुध इसी स्थिति में रहेंगे और इसके बाद कन्या राशि में मार्गी गति से अपनी चाल चलेंगे। बुध की वक्री चाल का विभिन्न राशियों पर अलग-अलग प्रभाव देखने को मिलेगा। जहां मेष राशि वालों को इससे नुकसान की संभावना है तो वहीं कन्या राशि वालों के लिए बुध की यह चाल लाभदायक सिद्ध होगी। वहीं बुध की वक्री चाल से नौकरी खो चुके लोगों को रोजगार के नए अवसर मिलने की संभावना बनेगी।

सभी राशियों पर बुध की वक्री चाल का प्रभाव

कन्या- कन्या राशि के जातकों को इस दौरान धन लाभ की संभावना है। अगर आप नौकरी करते हैं तो वहां भी आपको तरक्की मिल सकती है। इस दौरान अंडा, मांस आदि के सेवन से बचें, इससे लाभ होगा।

सिंह- इस दौरान परिवार से आपके संबंध प्रगाढ़ होंगे और घर में सकारत्मक ऊर्जा का संचार होगा। हालांकि आप कहीं निवेश करने से बचें। बहुत जरूरी होने पर सोच विचार के बाद निवेश करें। भगवान गणेश को लड्डू का भोग लगाना आपके लिए फायदेमंद होगा।

मेष- मेष राशि के जातकों के वैवाहिक जीवन में बुध की वर्की का नकारात्मक असर हो सकता है। यात्रा आदि से बचें और व्यापार में भी सावधानी बरतें। हरे रंग की वस्तुओं का दान करना आपके लिए लाभकारी होगा।

मिथुन- पुराने मित्रों से मिलने के आसार हैं। का दौरान अगर आप किसी प्रोपर्टी को लेकर फंसे हुए हैं तो आपका ये मसला सुलझ सकता है। बुध की वक्री चाल के दौरान आप तुलसी के पौधों की पानी दें।

कर्क- परिवार में स्वास्थ्य संबंधी दिक्कतें आ सकतीं हैं। आप अपनी प्रॉपर्टी के कुछ मुद्दों को लेकर भी परेशानी झेल सकते हैं। इस दौरान अपने खर्चों पर नियंत्रण रखें और गरीबों को दान करें।

वृषभ- आर्थिक नुकसान की संभावना है इसलिए किसी तरह की सट्टेबाजी का सहारा न लें। स्वास्थ्य का भी नुकसान हो सकता है इसलिए अपने सेहत का भरपूर ख्याल रखें। ज्योतिषविदों की मानें तो, बुध की वक्री में हानि को सीमित करने के लिए बुध के दिन उपवास करना लाभकारी होता है।

तुला- जीवन में तनाव हो सकता है इसलिए अपने सेहत का ख्यास ख्याल रखें। इस राशि के जातकों के लिए धार्मिक यात्राओं का योग भी बन रहा है। पीपल के पेड़ को नियमित पानी दें, इससे लाभ होगा।

वृश्चिक राशि- इस दौरान आप अपने फैसले दिमाग से लें। नौकरी में नुकसान हो सकता है इसलिए सावधानी के साथ काम करें। प्रतिदिन सूरज को अर्घ्य दें, लाभ होगा।

मीन- व्यापार में साझेदारों से मतभेद हो सकते हैं। जातकों के खर्च में बढ़ोतरी भी हो सकती है। आप इस दौरान अपने शौक पर काम करें, इससे फायदा होगा। मंदिर में ईश्वर को भोग लगाएं, यह लाभकारी सिद्ध होगा।

धनु- धनु राशि के जातकों के लिए बुध की वक्री बेहद लाभकारी है। अगर आप अपनी पुरानी संपत्ति बेचने या नई संपत्ति खरीदने की सोच रहे हैं तो ये अनुकूल समय है। व्यवसाय में भी लाभ का योग है। इस दौरान आप गरीबों को दान करें।

मकर- नौकरी पाने के लिए कड़ी मशक्कत करनी पड़ सकती है। माता-पिता की सलाह मानें। धार्मिक कामों में लीन होने के योग हैं।

कुंभ- आपके बच्चों के लिए सफलता के नए द्वार खुलेंगे। लेकिन इस दौरान आपकी मित्रता प्रभावित हो सकती है इसलिए मित्रों से मधुर रिश्ता बनाकर रखें। स्वास्थ्य का भी ध्यान रखें।

पढें Religion समाचार (Religion News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट