ताज़ा खबर
 

Brihaspativar Puja Aarti: गुरुवार व्रत में करें ॐ जय बृहस्पति देवा… से बृहस्पतिवार की आरती

Brihaspativar Puja Aarti, Bhajan, Puja Vidhi: गुरुवार व्रत में बृहस्पति देव की आरती का विशेष महत्व शास्त्रों में बताया गया है। कहते हैं कि बृहस्पति की आराधना से मनोवांछित वरदान मिलता है।

Author नई दिल्ली | February 7, 2019 6:20 PM
बृहस्पति देव।

Brihaspativar Puja Aarti, Bhajan, Puja Vidhi: गुरुवार व्रत में बृहस्पति देव की आरती का विशेष महत्व शास्त्रों में बताया गया है। कहते हैं कि बृहस्पति की आराधना से मनोवांछित वरदान मिलता है। इसलिए ऐसे जातक जिनकी शादी नहीं हो रही हो, उन्हें अथवा जिनका अपने जीवन साथी से सामंजस्य नहीं बनता हो, उन्हें भी गुरु को प्रसन्न रखने की सलाह दी जाती है। इसी क्रम में आज हम आपको गुरुवार व्रत के लिए बृहस्पति देव की आरती बता रहे हैं। आगे जानते हैं बृहस्पतिदेव को प्रसन्न करने के लिए ॐ जय बृहस्पति देवा… आरती।

ॐ जय बृहस्पति देवा, जय बृहस्पति देवा।
छिन-छिन भोग लगाऊं, कदली फल मेवा।।
ॐ जय बृहस्पति देवा।।

तुम पूर्ण परमात्मा, तुम अंतर्यामी।
जगतपिता जगदीश्वर, तुम सबके स्वामी।।
ॐ जय बृहस्पति देवा।।

चरणामृत निज निर्मल, सब पातक हर्ता।
सकल मनोरथ दायक, कृपा करो भर्ता।।
ॐ जय बृहस्पति देवा।।

तन, मन, धन अर्पण कर, जो जन शरण पड़े।
प्रभु प्रकट तब होकर, आकर द्वार खड़े।।
ॐ जय बृहस्पति देवा।।

दीनदयाल दयानिधि, भक्तन हितकारी।
पाप दोष सब हर्ता, भव बंधन हारी।।
ॐ जय बृहस्पति देवा।।

सकल मनोरथ दायक, सब संशय तारो।
विषय विकार मिटाओ, संतन सुखकारी।।
ॐ जय बृहस्पति देवा।।

जो कोई आरती तेरी प्रेम सहित गावे।
जेष्टानंद बंद सो-सो निश्चय पावे।।
ॐ जय बृहस्पति देवा।।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App