ताज़ा खबर
 

नीलम पहनने के बाद पलट गई अमिताभ बच्चन की किस्मत, जानें कैसे लकी चार्म साबित हुआ यह रत्न

अमिताभ बच्चन की राशि तुला है और लग्न कुंभ है और उनकी कुंडली के चौथे भाव में शनि बैठा है।

Author December 26, 2017 4:23 PM
अमिताभ बच्चन की बुध की दशा 1990 से शुरू हुई।

बॉलीवुड के महानायक आज हर किसी के पसंदीदा कलाकार हैं लेकिन उनकी जिंदगी में एक समय ऐसा भी था जब वो बिल्कुल दिवालिया होने वाले थे। माना जाता है उस समय में उन्होनें अपने हाथ की उंगली में ऐसा रत्न धारण किया कि उसके बाद उनकी पूरी जिंदगी बदल गई और आज सभी कलाकार उनके आगे कमजोर हैं। अमिताभ बच्चन ने अंगूठी में नीलम धारण किया है। इस रत्न को चमत्कारी रत्न माना जाता है। ये जिसे सूट कर जाए उसकी किस्मत पलट जाती है और जिसे ना करे वो बादशाहत से सड़क पर भी आ सकता है।

1996 के पास जब अमिताभ बच्चन की कंपनी एबीसीएल डूबने लगी थी और उनपर मुश्किलों का दौर आ गया था, तब उन्होनें नीलम रत्न धारण किया था। इसके बाद ही उन्हें कौन बनेगा करोड़पति होस्ट करने का ऑफर मिल गया था। इसके बाद अमिताभ बच्चन की चमक बढ़ती ही चली गई थी और उनका फिल्मी करियर फिर से चल पड़ा और आज भी उनके आगे कोई नहीं टिक सकता है। अमिताभ बच्चन को अब शायद ही किसी चीज की कमी होगी लेकिन आज भी वो वास्तु और ज्योतिष शास्त्र को मानते हैं। ये उनके हाथ की उंगलियों को देखकर पता लगाया जा सकता है। नीलम को अमिताभ अपने लिए लकी चार्म मानते हैं और 2 को अपना लकी नंबर मानते हैं।

अमिताभ बच्चन की राशि तुला है और लग्न कुंभ है। उनकी कुंडली के चौथे भाव में शनि बैठा है। यही शनि उन्हें महानायक बनाता है। क्योंकि शनि यहां बहुत प्रबल है। मंगल और सूर्य के वजह से इनके स्वास्थ्य की समस्याएं आ सकती हैं। अमिताभ बच्चन की बुध की दशा 1990 से शुरू हुई। बुध की दशा ने उन्हें फायदे भी दिए हैं तो वहीं बुध ने अमिताभ को कई तरह की परेशानियां भी आई हैं। उनकी कुंडली के शक्ति शनि है। शनि ने उन्हें संघर्ष करने की ताकत दी। नीलम पहने के बाद उनका शनि और भी मजबूत हो गई।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

X