ताज़ा खबर
 

Saraswati Puja Bhojpuri Bhajan: ‘हमनी के छोरी के नगरिया नू हो’… सरस्वती पूजा पर Pawan Singh का यह गाना किया जा रहा है बहुत अधिक पसंद

Saraswati Puja Bhojpuri Bhajan: सरस्वती पूजा पर भोजपुरी स्टार पवन सिंह के स्वर में गाया गया गाना 'हमनी के छोरी के नगरिया नू हो कहवां जाइबू हे माई' यूट्यूब पर लाखों बार देखा-सुना गया है।

खेसारी लाल और पावन सिंह के सरस्वती पूजा के गाने।

Saraswati Puja Bhojpuri Bhajan: सरस्वती पूजा पर भक्ति गीत सुनने की परंपरा रही है। पूजा में भक्तिमय माहौल बनाने के लिए देवी सरस्वती के भक्ति गीत बहुतायत में सुने जाते हैं। मूर्ति स्थापना से लेकर पूजन और विसर्जन तक पूजा पंडालों में सरस्वती जी के भक्ति गीत बजाए जाते हैं। कई भोजपुरी गायक ऐसे हैं जिन्होंने मां सरस्वती के गीत गाए हैं। खेसारी लाल यादव, पावन सिंह और अनु दुबे के गाने यूट्यूब पर टॉप सर्च में हैं। अनु दुबे के स्वर में गाया हुआ गाना ‘मां शारदे कहां तू वीणा बाजा रही है…’ इन दिनों यूट्यूब पर खूब सुना जा रहा है। इस गाने को यूट्यूब पर तीन मिलियन से अधिक बार सुना गया है। इसके अलावा कई भोजपुरी गाने भी हैं जो यूट्यूब पर वायरल हो रहे हैं तो आप भी सुनिए ये शानदार गीत…

वौसे तो सरस्वती पूजा पर कई गायकों ने आपने गाने रिलीज किए हैं, लेकिन सबसे ज्यादा पसंद अनु दुबे के गाने को किया गया है।

भोजपुरी स्टार पवन सिंह के स्वर में गाया गया गाना ‘हमनी के छोरी के नगरिया नू हो कहवां जाइबू हे माई’ यूट्यूब पर लाखों बार देखा-सुना गया है। इस गाने को यूट्यूब पर 11 मीलियन से अधिक व्यूज मिले हैं।

खेसारी लाल यादव का ही गाया हुआ ‘विनती करत बानी… गाने को भी यूट्यूब पर लाखों व्यूज मिले हैं। इस गाने में भोजपुरी स्टार खेसारी लाल देवी सरस्वती से विनती कर रहे हैं। भोजपुरी सिंगर खेसारी लाल यादव ने भी सरस्वती भजन गाये हैं। साल 2020 के सरस्वती पूजा के लिए इन्होंने खास गीतों की शृंखला को लेकर भक्तों के सामने आए हैं। ‘माई के चुनरी लागे लखनऊआ’ गाना इन दिनों यूट्यूब पर कई बार देखा गया है।

‘हे हंसवाहिनी… विद्यादायिनी तेरी जय जय हो’ यह गाना अक्षरा सिंह के स्वर में गाया गया है। यूट्यूब पर ये गाना धूम मचाया हुआ है।

‘सरस्वती जी आपको लाखों प्रणाम’ ये गाना भोजपुरी गायक खेसारी लाल यादव ने गाया है। इस DJ रीमिक्स गाने को यूट्यूब पर बहुत अधिक पसंद किया गया है।

इस बार बसंत पंचमी पर सरस्वती पूजा के बारे में कुछ पंडितों का मानना है कि पंचमी तिथि का प्रारंभ 29 जनवरी से हो रहा है इसलिए इसी दिन बसंत पंचमी मनाई जायेगी। इसके अलावा कुछ पंडित बता रहे हैं कि 29 जनवरी को पंचमी तिथि का प्रारंभ सूर्योदय के एक प्रहर बाद है। ऐसे में 30 जनवरी को सरस्वती पूजा करना ज्यादा अच्छा रहेगा।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 Saraswati Puja 2020: मां शारदे की आरती, वंदना, कथा और पूजा विधि विस्तार से जानें यहां
2 आज का पंचांग (Aaj Ka Panchang) 29 January 2020: शुभ रवि योग में मनाया जायेगा बसंत पंचमी का त्योहार, जानिए सरस्वती पूजा का समय
3 Love Horoscope 29 January 2020: कन्या और कुंभ को सिंगल को मिल सकता है मिंगल होने का मौका, सावधान रहें मीन वाले लव कपल्स