ताज़ा खबर
 

Ram Mandir Bhumi Pujan Date, Time: 32 सेकेंड के शुभ मुहूर्त में 21 पुजारी संपन्न कराएंगे भूमि पूजन, जानिये

Ayodhya Ram Mandir Bhumi Pujan Date, Time, Shubh Muhurat: भूमि पूजन के इस कार्यक्रम में काशी, अयोध्या, दिल्ली, प्रयाग के विद्वानों को बुलाया गया है। रिपोर्ट्स के मुताबिक पूरे कार्यक्रम को कुल 21 पुजारी संपन्न करवाएंगे।

ayodhya ram mandir bhumi pujan, ayodhya ram mandir bhumi pujan dateराम मंदिर के भूमि पूजन से जुड़ी जानकारी-

अयोध्या में राम मंदिर के भूमि पूजन को लेकर उत्सव जैसा माहौल है। भूमि पूजन के अनुष्ठान की शुरुआत हो चुकी है। मुख्य कार्यक्रम 5 अगस्त को। इसकी तैयारियां जोर-शोर से चल रही हैं। खुद सीएम योगी सभी तैयारियों पर नजर रखे हुए हैं। बता दें कि सुरक्षा को देखते हुए मंगलवार शाम को ही अयोध्या की सीमाएं सील कर दी जाएंगी। राम मंदिर का भूमि पूजन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी करेंगे। वहीं, इस कार्यक्रम में संघ प्रमुख मोहन भागवत, उत्तर प्रदेश की राज्यपाल आनंदी बेन पटेल और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी मौजूद होंगे। रिपोर्ट्स के मुताबिक, पीएम मोदी भूमि पूजन के बाद लोगों को संबोधित भी करेंगे। पढ़ें- राम मंदिर के भूमि पूजन से जुड़ी सभी जानकारी…

राम मंदिर के भूमि पूजन का मुहूर्त: रिपोर्ट्स के मुताबिक, भूमि पूजन से पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पहले हनुमानगढ़ी जाएंगे। इसके बाद पूजन करेंगे। भूमि पूजन का शुभ मुहूर्त 32 सेंकेड का है जो मध्याह 12 बजकर 44 मिनट 8 सेकेंड से लेकर 12 बजकर 44 मिनट 40 सेकेंड के बीच का है।

गौरी गणेश के पूजन के साथ शुरू हुआ अनुष्ठान: बता दें कि भूमि पूजन से जुड़ा अनुष्ठान गौरी गणेश के पूजन के साथ शुरू हो चुका है। बता दें कि भूमि पूजन में देशभर के 135 संतों को आमंत्रित किया गया है। वहीं, सीएम योगी ने कहा है कि इस उपलक्ष्य में लोग अपने घरों में दीपक जलाएं।

दीप जलाने की भी हो रही है तैयारी: अयोध्या में भूमि पूजन के साथ बड़े पैमाने पर दीपक भी जलाएंगे। इसके लिए पर्यटन विभाग की तरफ से मिट्टी के दीये, सरसो के तेल आदि की आपूर्ति की गई है। लाइटिंग का कार्य भी शुरू हो गया है।

21 पुजारियों की टीम संपन्न कराएगी अनुष्ठान : भूमि पूजन के इस कार्यक्रम में काशी, अयोध्या, दिल्ली, प्रयाग के विद्वानों को बुलाया गया है। रिपोर्ट्स के मुताबिक पूरे कार्यक्रम को कुल 21 पुजारी संपन्न करवाएंगे। ऐसी मान्यता है कि हनुमान जी अयोध्या के अधिष्ठाता हैं, इसलिए सबसे पहले उन्हीं की पूजा होगी।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 कब मनाई जाएगी कजरी तीज, जानिए महत्व, शुभ मुहूर्त और पूजा विधि
2 कब मनाई जाएगी कृष्ण जन्माष्टमी, जानिये इस दिन का क्या है महत्व और शुभ मुहूर्त
3 Horoscope Today, 4 August 2020: मेष से मीन राशि वाले यहां जानें अपने आज के दिन का हाल
ये पढ़ा क्या?
X