ताज़ा खबर
 

Astrology 2020: हाथ की इन रेखाओं को देखकर आप जान सकते हैं अपना भविष्य

ज्योतिष अनुसार हाथ की रेखाओं में हमारा भविष्य छिपा रहता है। इसलिए किसी की भी हथेली को देखकर उस व्यक्ति के बारे में संपूर्ण जानकारी हासिल की जा सकती है।

हथेली की रेखाओं से कैसे जानें अपना भविष्य?

Jyotish Gyan: हर कोई अपना भविष्य जानने का इच्छुक रहता है। जिसके लिए वह विभिन्न ज्योतिषों के पास जाकर या किसी न किसी माध्यम से अपने फ्यूचर के बारे में जानकारी हासिल करता है। लेकिन आप अपने आने वाले समय के बारे में अपनी हाथ की रेखाओं से भी जान सकते हैं। ज्योतिष अनुसार हाथ की रेखाओं में हमारा भविष्य छिपा रहता है। इसलिए किसी की भी हथेली को देखकर उस व्यक्ति के बारे में संपूर्ण जानकारी हासिल की जा सकती है।

मस्तिष्क रेखा: यह रेखा हथेली के मध्य भाग में आड़ी स्थिति में रहती है। ये जीवन रेखा के प्रारंभिक स्थान के पास से शुरू होकर दूसरी तरफ जाती है। इस रेखा को देखकर व्यक्ति की बौद्धिक क्षमता का पता चलता है। यदि यह रेखा जीवन रेखा के ऊपर से होकर जा रही है तो इसका मतलब आपकी सोच और समझ सही संतुलन में है। अगर ये रेखा लंबी और बड़ी हो तो इसका मतलब है कि आपका दिमाग किसी और के द्वारा नियंत्रित होता है। दो या अधिक रेखाओं का मतलब है कि आप एक अच्छे इंसान हैं।

जीवन रेखा: जीवन रेखा शुक्र क्षेत्र यानी अंगूठे के नीचे वाले भाग को घेरे रहती है। यह रेखा तर्जनी फिंगर और अंगूठे के मध्य से शुरू होती है और मणिबंध तक जाती है। जहां यह रेखा स्पष्ट और लंबी हो इसका मतलब है अच्छा स्वास्थ्य। टूटी हुई रेखा का मतलब है तनाव, चोट, बीमारियां।

ह्रदय रेखा: यह रेखा मस्तिष्क रेखा के समानांतर चलती है। इस रेखा की शुरुआत हथेली पर बुध क्षेत्र यानी सबसे छोटी अंगुली के नीचे वाले भाग से होती है और गुरु क्षेत्र तक जाती है। इस रेखा से व्यक्ति की बौद्धिक क्षमता, आचरण, स्वभाव, ह्रदय रोग आदि के बारे में पता चलता है। इस रेखा के स्पष्ट होने पर व्यक्ति जीवन में सफलता हासिल करता है।

भाग्य रेखा: इससे भाग्य के बारे में पता चलता है। हर व्यक्ति के हाथ में ये रेखा नहीं होती। अगर ये रेखा गहरी है तो आपका जीवन एक नाटकीय रूप से आगे बढ़ेगा, बारीक होने का मतलब है कि आप किसी और के नियंत्रण में रहेंगे। दो या उससे अधिक रेखा होने का मतलब है कि व्यक्ति बुद्धिमान होगा।

विवाह की रेखा: ये रेखा छोटी उंगली और ह्रदय रेखा के बीच में होती है। इस रेखा के स्पष्ट होने का मतलब है कि जातक का वैवाहिक जीवन उत्तम रहेगा। विवाह रेखा का टूटा होना अच्छा नहीं माना जाता।

चंद्र रेखा: ये रेखा व्यक्ति के विदेश जाने के योग और भाग्य के बारे में बताती है। हाथ में इस रेखा की मौजूदगी विदेश यात्रा की सूचक होती है।

Next Stories
1 Mercury Transit 2020: जनवरी में बुध ग्रह का होने वाला है राशि परिवर्तन, जानिए किस राशि वालों की बढ़ेंगी टेंशन
2 Anup Jalota Bhajan: देखें भजन सम्राट अनूप जलोटा के फेमस भजन, ऐसी लागी लगन मीरा हो गई मगन…
3 आज का पंचांग (Aaj Ka Panchang) 21 January 2020: पंचांग अनुसार जानिए षटतिला एकादशी व्रत के पारण का समय और दिन के सभी मुहूर्त
ये पढ़ा क्या?
X