ताज़ा खबर
 
title-bar

इसके जरिए जान सकते हैं व्यक्ति का स्वभाव, जानिए क्या होता है बर्थमार्क

ज्योतिष शास्त्र में माना जाता है कि बर्थमार्क व्यक्ति के जीवन और उसके स्वभाव के बारे में कई राज खोलता है।

डॉक्टरों का मानना है कि गर्भधारण के समय माता की गतिविधियों के कारण बच्चे के शरीर पर निशान बन जाते हैं।

शरीर पर निशान होने के अर्थ कुछ भी हो सकते हैं, कुछ लोगों का मानना है कि बर्थमार्क पूर्वजन्म से संबंधित होता है। वैज्ञानिकों के अनुसार बर्थ मार्क जेनेटिकली होते हैं। यदि माता-पिता के शरीर के किसी हिस्से पर निशान है तो संभवतः बच्चे के शरीर पर भी वो निशान हो सकता है। डॉक्टरों का मानना है कि गर्भधारण के समय माता की गतिविधियों के कारण बच्चे के शरीर पर निशान बन जाते हैं। ज्योतिष शास्त्र में इसे लेकर कुछ अलग मान्यताएं हैं कि बर्थमार्क का कई बार सौभाग्य लेकर आता है तो कई बार दुर्भाग्य, ये इस बात पर निर्भर करता है कि मार्क या निशान किस हिस्से पर है। कई लोग जानना चाहते हैं कि बर्थ मार्क का हमारे स्वाभाव पर क्या असर पड़ता है तो आज हम बताने जा रहे हैं कि शरीर के अलग-अलवग हिस्सों पर बर्थ मार्क का क्या अर्थ हो सकता है।

-पेट पर बर्थ मार्क है तो इसका अर्थ हो सकता है कि आप बहुत लालची और हमेशा अपने बारे में सोचने वाले व्यक्ति हो सकते हैं।
– मुंह के पास किसी भी तरह का जन्मचिन्ह होने का अर्थ होता है कि व्यक्ति अधिक बोलता है। इसके साथ ही वो संवेदनशील प्रकृति वाले होते हैं। अपनी वाक्पट्टुता के कारण वो धन अर्जित कर सकते हैं और उनके पास धन की कमी नहीं रहती है।
– गालों पर बर्थमार्क होने का अर्थ होता है कि व्यक्ति बहुत जुनूनी है, इसके साथ उसमें अधिक कामुकता है। जिन लोगों के उल्टे गाल पर बर्थमार्क होता है उनका जीवन अवसादपूर्ण रहता है।

– स्तन पर या उनके आस-पास किसील प्रकार का चिन्ह है तो इसका अर्थ होता है कि व्यक्ति हर काम में सफलता प्राप्त करेगा। इसके साथ कुछ लोगों का सेंस ऑफ ह्यूमर अच्छा हो सकता है।
– माथे के बीच में चिन्ह हो तो ऐसा व्यक्ति जीवन में कई प्रेम संबंध बनाता है।
– भुजा पर चिन्ह हो तो व्यक्ति का लगाव बच्चों की परवरिश में अधिक होता है।
– मसूढ़ों पर बर्थमार्क होने का कारण है कि व्यक्ति का जीवन अस्त-व्यस्त रहेगा।

– किसी की पीठ पर चिन्ह होने का कारण होता है कि व्यक्ति ईमानदार और खुले विचारों वाला है।
– उंगली पर चिन्ह होने का अर्थ होता कि व्यक्ति को स्वतंत्र रहना पसंद है और वो किसी पर निर्भर नहीं रहना पसंद करता है।
– जांघों पर चिन्ह जीवन में सौभाग्य लेकर आता है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App