ताज़ा खबर
 

ज्योतिष शास्त्र: इन तीन राशियों में नेतृत्व क्षमता होती है जबरदस्त, क्या आप भी हैं इनमें?

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार सिंह को अग्नि तत्व की राशि माना गया है। इस राशि के लोग अत्यधिक साहसिक होते हैं। साथ ही सिंह राशि के जातकों में संघर्ष करने की भी क्षमता अपार होती है।

Author नई दिल्ली | January 9, 2019 5:29 PM
सांकेतिक तस्वीर।

ज्योतिष शास्त्र में अग्नि तत्व से संबंधित तीन राशियां मानी गई हैं। ऐसा कहा जाता है कि इन तीन राशियों में अग्नि तत्व की अधिकता होती है। अग्नि तत्त्व की राशियों में सूर्य ग्रह उच्चस्थ होते हैं। सूर्य के उच्चस्थ यानि प्रबल होने से इन राशियों के जातकों में साहस कूट-कूटकर भरा होता है। साथ ही इन राशियों में नेतृत्व क्षमता भी जबरदस्त होती है। यही कारण है कि इन राशियों के लोग जिस काम में अपना हाथ डालते हैं वह सफलतापूर्वक संपन्न होता है। ये हैं वो तीन राशियां-

मेष राशि: अग्नि तत्व में सबसे पहली मेष राशि मानी गई है। ज्योतिष के अनुसार इस राशि का स्वामी ग्रह मंगल होता है। यह सूर्य की सबसे अधिक प्रिय राशि है। इस राशि में असीम ऊर्जा होती है। साथ ही मेष राशि में चंचलता भी अत्यधिक होती है। यही कारण है कि इस राशि के लोग किसी भी कार्य को जल्द से जल्द सम्पन्न करने की क्षमता रखते हैं। इस राशि के जातकों का दिमाग अस्थिर होता है। इसके चलते ये किसी कार्य में अधिक प्रमाणिक नहीं हो पाते। इस राशि के जातकों को सूर्य की उपासना अधिक से अधिक करनी चाहिए।

सिंह राशि: ज्योतिष शास्त्र के अनुसार सिंह को भी अग्नि तत्व की राशि माना गया है। इस राशि के लोग अत्यधिक साहसिक होते हैं। साथ ही सिंह राशि के जातकों में संघर्ष करने की भी क्षमता अपार होती है। सिंह राशि के जातक प्रायः राजनीति में भी आत्यधिक रुचि लेते हैं और नेतृत्व भी करते हैं। सिंह राशि का भी स्वामी ग्रह स्वयं सूर्य ही हैं। इस राशि की सबसे बड़ी कमजोरी अपने ऊपर अतिविश्वास करना है। इस राशि के जातकों को रत्न में मूंगा धारण करना चाहिए। साथ ही गायत्री की आराधना करना भी इनके लिए श्रेष्ठ माना गया है।

धनु राशि: धनु को भी अग्नि तत्व से संबंधित राशि माना गया है। धनु राशि का स्वामी ग्रह बृहस्पति है। लेकिन सूर्य की कृपा से ऐसे लोग अत्यधिक भाग्यशाली होते हैं। इसक जातकों के पास साहस का कोई अंत नहीं होता। सूर्य की कृपा से धनु राशि के जातक बेहद भाग्यशाली होते हैं। इस राशि के लोगों में नेतृत्व करने की क्षमता काफी होती है। इस राशि के लोगों को अपनी वाणी पर नियंत्रण नहीं रहता। धनु के लोगों को माणिक रत्न धारण करना लाभदायक होता है। इसके अलावा इन लोगों को सूर्य की उपासना करनी चाहिए।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App