scorecardresearch

Akshaya Tritiya 2021 Date, Puja Vidhi, Timings: अबूझ मुहूर्तों में से एक है अक्षय तृतीया, जानिए इसकी पूजा विधि, महत्व, मंत्र, आरती और मुहूर्त

Akshaya Tritiya 2021 Date, Puja Vidhi, Shubh Muhurat, Timings: ये एक ऐसी तिथि है जिसमें कोई भी शुभ कार्य करने के लिए या कोई नयी वस्तु की खरीदारी के लिए पंचांग देखकर शुभ मुहूर्त निकालने की जरूरत नहीं पड़ती है।

Akshaya Tritiya 2021 Date, Puja Vidhi, Timings: अबूझ मुहूर्तों में से एक है अक्षय तृतीया, जानिए इसकी पूजा विधि, महत्व, मंत्र, आरती और मुहूर्त
Akshaya Tritiya 2021 Puja: मान्यता है कि भगवान विष्णु के छठे अवतार श्री परशुराम का जन्म भी अक्षय तृतीया को ही हुआ था।

Akshaya Tritiya 2021 Date, Puja Vidhi, Shubh Muhurat Timings: वैशाख माह के शुक्ल पक्ष की तृतीया तिथि बेहद ही शुभ मानी जाती है। जिसे अक्षय तृतीया के नाम से जाना जाता है। इस दिन कोई भी शुभ काम करने के लिए मुहूर्त देखने की जरूरत नहीं पड़ती। विवाह के लिए भी ये दिन शुभ माना गया है। कहा जाता है कि इस दिन किये गये कार्य सफल होते हैं और उनमें किसी भी तरह की बाधाएं नहीं आती। जानिए अक्षय तृतीया का महत्व, पूजा विधि और मुहूर्त…

अक्षय तृतीया महत्त्व:
मान्यता है कि भगवान विष्णु के छठे अवतार श्री परशुराम का जन्म भी अक्षय तृतीया को ही हुआ था।
सतयुग और त्रेतायुग का प्रारंभ भी इसी दिन हुआ था।
भगवान विष्णु के अवतार नर-नारायण और हयग्रीव का अवतरण भी इसी तिथि में हुआ माना जाता है।
मान्यता है कि वेद व्यास एवं श्रीगणेश द्वारा महाभारत ग्रन्थ के लेखन का प्रारंभ भी इसी तिथि से हुआ था।
ये महाभारत के युद्ध का समापन दिन भी माना जाता है।
द्वापर युग का समापन भी अक्षय तृतीया पर हुआ माना गया है।
मान्यताओं अनुसार माँ गंगा का धरती पर आगमन इस शुभ तिथि पर ही हुआ था।
भक्तों के लिए तीर्थस्थल श्री बद्रीनाथ के कपाट भी इसी तिथि को खोले जाते हैं।
साल में केवल एक बार वृन्दावन के श्री बांके बिहारी जी मंदिर में श्री विग्रह के चरणों के दर्शन होते हैं।

बेहद ही शुभ है अक्षय तृतीया की तिथि: ये एक ऐसी तिथि है जिसमें कोई भी शुभ कार्य करने के लिए या कोई नयी वस्तु की खरीदारी के लिए पंचांग देखकर शुभ मुहूर्त निकालने की जरूरत नहीं पड़ती है। मान्यता है कि इस दिन पितृ पक्ष में किये गए पिंडदान का अक्षय परिणाम मिलता है। इस तिथि पर उपवास रखने, स्नान दान करने से भी अनंत फल की प्राप्ति होने की मान्यता है। इस व्रत से मिलने वाला फल कभी कम न होने वाला, न घटने वाला और कभी नष्ट न होने वाला होता है। घर पर शुभ मुहूर्त में इस विधि से करें अक्षय तृतीया की पूजा, जानिए सोने की खरीदारी का भी समय

अक्षय तृतीया की पूजा विधि: इस दिन भगवान विष्णु और माता लक्ष्मी की आराधना की जाती है। कई स्त्रियाँ अपने परिवार की समृद्धि के लिए इस दिन व्रत भी रखती हैं। इस दिन ब्रह्म मुहूर्त में उठकर नहाने के पानी में गंगा जल मिलाकर स्नान करना चाहिए। इसके बाद श्री विष्णुजी और माँ लक्ष्मी की प्रतिमा पर अक्षत चढ़ाना चाहिए। फूल या श्वेत गुलाब, धुप-अगरबत्ती इत्यादि से इनकी पूजा अर्चना करनी चाहिए। नैवेद्य स्वरूप जौ, गेंहू या फिर सत्तू, ककड़ी, चने की दाल आदि का चढ़ावा चढ़ाना चाहिए। हो सके तो इस दिन ब्राह्मणों को भोजन जरूर कराएं। इस खास दिन पर इन चीजों का दान करना बेहद ही फलदायी माना गया है- फल-फूल, भूमि, जल से भरे घड़े, बर्तन, वस्त्र, गौ, कुल्हड़, पंखे, खड़ाऊं, खरबूजा, चीनी, साग, चावल, नमक, घी आदि। घमंडी और अहंकारी माने जाते हैं इन बर्थ डेट वाले लोग, इनकीं ये खूबी बना देती हैं इन्हें धनवान

अक्षय तृतीया पर करें ये काम:
इस दिन के साफ-सफाई का विशेष ध्यान दें।
बाजार से 11 कौड़ियां लाकर इनका पूजन कर धन के स्थान में रख दें।
इस दिन सात्विक भोजन करें और कलह-कलेश से बचें।
इस दिन जरूरतमंद की मदद जरूर करें। इस दिन किये गये पुण्य कामों का फल कई गुना मिलता है।
इस दिन केसर और हल्दी से देवी लक्ष्मी की पूजा करनी चाहिए।
इस दिन आर्थिक तरक्की के लिए सोने या चांदी से बनी लक्ष्मी की चरण पादुका खरीदकर घर में रखें और इसकी नियमित पूजा करें। अक्षय तृतीया का सोने की खरीदारी से नहीं है कोई सीधा संबंध, तो जानिए कैसे शुरू हुई ये परंपरा

अक्षय तृतीया मुहूर्त:
14 मई अक्षय तृतीया पूजा मुहूर्त- 05:38 AM से 12:18 PM
अवधि- 06 घण्टे 40 मिनट
तृतीया तिथि प्रारम्भ- 14 मई 2021 को 05:38 AM बजे
तृतीया तिथि समाप्त- 15 मई 2021 को 07:59 AM बजे

अन्य शहरों में अक्षय तृतीया मुहूर्त:
06:01 AM से 12:31 PM – पुणे<br />05:38 AM से 12:18 PM – नई दिल्ली<br />05:59 AM से 12:36 PM – अहमदाबाद
05:38 AM से 12:17 PM – नोएडा
05:38 AM से 12:18 PM – गुरुग्राम
05:38 AM से 12:19 PM – चण्डीगढ़
05:44 AM से 12:05 PM – चेन्नई
05:40 AM से 12:23 PM – जयपुर
05:44 AM से 12:12 PM – हैदराबाद
04:56 AM से 07:59 AM मई 15 तक – कोलकाता
06:04 AM से 12:35 PM – मुम्बई
05:55 AM से 12:16 PM – बेंगलूरु

सोना खरीदने का शुभ मुहूर्त:
अक्षय तृतीया 14 मई को सोना खरीदने का समय- 05:38 AM से 05:30 AM मई 15
अवधि- 23 घण्टे 52 मिनट
15 मई को सोना खरीदने का शुभ मुहूर्त- 05:30 AM से 07:59 AM
अवधि- 02 घण्टे 29 मिनट

इस राशि वालों पर शनि साढ़े साती का पहला चरण होने वाला शुरू, हो जाएं सतर्क

Live Blog

14:57 (IST)14 May 2021
अक्षय तृतीया के दिन क्या करें?

अक्षय तृतीया के दिन ब्राह्मणों को भोजन करवाना कल्याणकारी समझा जाता है। मान्यता है कि इस दिन सत्तू अवश्य खाना चाहिए तथा नए वस्त्र और आभूषण पहनने चाहिए। गौ, भूमि, स्वर्ण पात्र इत्यादि का दान भी इस दिन किया जाता है। 

13:10 (IST)14 May 2021
भगवान विष्णु को कीजिए इन मंत्रों के जाप से प्रसन्न…

ॐ नमो भगवते वासुदेवाय
श्रीकृष्ण गोविन्द हरे मुरारे। हे नाथ नारायण वासुदेवाय।।
ॐ नारायणाय विद्महे। वासुदेवाय धीमहि। तन्नो विष्णु प्रचोदयात्।।
ॐ हूं विष्णवे नम:
ॐ विष्णवे नम:

12:26 (IST)14 May 2021
शुभ योगों में मनाई जा रही है अक्षय तृतीया…

इस वर्ष अक्षय तृतीया के दिन लक्ष्मी नारायण योग, सर्वार्थ सिद्धि योग और गजकेसरी योग का निर्माण हो रहा है। साथ ही अक्षय तृतीया शुक्रवार के दिन पड़ रही है और शुक्रवार का दिन माँ लक्ष्मी को समर्पित होता है, ऐसे में धन प्राप्ति के उपाय और सुख समृद्धि के लिए भी यह दिन बेहद ख़ास रहने वाला है।

11:50 (IST)14 May 2021
अक्षय तृतीया पर इन चीजों का कर सकते हैं दान…

इसी दिन ब्राह्मणों को भोजन करवाएं और उनका आशीर्वाद प्राप्त करें। साथ ही फल-फूल, बर्तन, वस्त्र, गौ, भूमि, जल से भरे घड़े, कुल्हड़, पंखे, खड़ाऊं, चावल, नमक, घी, खरबूजा, चीनी, साग, आदि दान करना पुण्यकारी माना जाता है।

10:59 (IST)14 May 2021
अक्षय तृतीया का मुहूर्त:

अक्षय तृतीया 14 मई सुबह 05:38 से शुरू होकर 15 मई सुबह 07:59 बजे तक रहेगी। पूजा का सबसे शुभ मुहूर्त सुबह 5:38 बजे से दोपहर 12:18 बजे तक रहेगा। बाकी सुविधा अनुसार आप दिन में किसी भी समय पूजा कर सकते हैं।

10:13 (IST)14 May 2021
अक्षय तृतीया पर मां लक्ष्मी-विष्णु जी की एक साथ करें पूजा…

सौभाग्य और समृद्धि के लिए आज मां लक्ष्मी और भगवान विष्णु की अलग-अलग पूजा नहीं करना चाहिए, क्योंकि दोनों पति-पत्नी है। इस दिन दोनों की एक साथ पूजा करने से अक्षय पुण्य की प्राप्ति होती है। 

09:53 (IST)14 May 2021
अक्षय तृतीया पर परशुराम और हयग्रीव की भी होती है पूजा…

अक्षय तृतीया के दिन ही भगवान विष्‍णु के 3 प्रमुख अवतारों का प्राकट्य हुआ था। इनमें परशुराम, हयग्रीव और नर-नारायण शामिल हैं। इस वजह से भी अक्षय तृतीया को बेहद शुभ और अबूझ मुहूर्त के तौर पर देखा जाता है। इस दिन भगवान विष्णु सहित परशुराम और हयग्रीव की भी पूजा की जाती है।

09:10 (IST)14 May 2021
Vishnu Ji Ki Aarti: भगवान विष्णु की आरती…

ॐ जय जगदीश हरे, स्वामी! जय जगदीश हरे।
भक्तजनों के संकट क्षण में दूर करे॥

जो ध्यावै फल पावै, दुख बिनसे मन का।
सुख-संपत्ति घर आवै, कष्ट मिटे तन का॥ ॐ जय…॥

मात-पिता तुम मेरे, शरण गहूं किसकी।
तुम बिनु और न दूजा, आस करूं जिसकी॥ ॐ जय…॥

तुम पूरन परमात्मा, तुम अंतरयामी॥
पारब्रह्म परेमश्वर, तुम सबके स्वामी॥ ॐ जय…॥

तुम करुणा के सागर तुम पालनकर्ता।
मैं मूरख खल कामी, कृपा करो भर्ता॥ ॐ जय…॥

तुम हो एक अगोचर, सबके प्राणपति।
किस विधि मिलूं दयामय! तुमको मैं कुमति॥ ॐ जय…॥
दीनबंधु दुखहर्ता, तुम ठाकुर मेरे।
अपने हाथ उठाओ, द्वार पड़ा तेरे॥ ॐ जय…॥

विषय विकार मिटाओ, पाप हरो देवा।
श्रद्धा-भक्ति बढ़ाओ, संतन की सेवा॥ ॐ जय…॥

तन-मन-धन और संपत्ति, सब कुछ है तेरा।
तेरा तुझको अर्पण क्या लागे मेरा॥ ॐ जय…॥

जगदीश्वरजी की आरती जो कोई नर गावे।
कहत शिवानंद स्वामी, मनवांछित फल पावे॥ ॐ जय…॥

08:40 (IST)14 May 2021
अक्षय तृतीया पर दान का महत्व:

हिंदू धर्म में दान को सबसे बड़ा पुण्य कर्म माना जाता है। लेकिन अक्षय तृतीया के दिन दान करना और भी अधिक फलदायी होता है। इस दिन घड़ी, कलश, चीनी, पंखे, छाते, चावल, दाल, अन्न, वस्त्र या फल आदि किसी भी चीज का दान कर सकते हैं।

08:25 (IST)14 May 2021
अक्षय तृतीया पर गंगा स्नान न कर पाएं तो क्या करें

कोरोना संक्रमण के चलते गंगा स्नान नहीं कर पा रहे थे तो इसमें परेशान होने की जरूरत नहीं है। आप घर पर ही नहाने के पानी में गंगा जल मिलाकर स्नान कर अपने सभी पाप और कष्ट दूर कर सकते हैं। स्नान करने के बाद जरूरतमंद लोगों को जरूरी चीजों का दान भी करें।

05:01 (IST)14 May 2021
अक्षय तृतीया पर दान करने से घर में आती है समृद्धि

अक्षय तृतीया का मतलब है जो क्षय न हो, यानी नष्ट न हो। इस दिन दान-पुण्य करने से जीवन में आ रही परेशानियां दूर हो जाती हैं। इस दिन जल से भरा घड़ा, शक्कर, बर्फी, सफेद वस्त्र, गुड़, नमक, शरबत, चांदी, चावल का दान बेहद शुभ माना जाता है। अक्षय तृतीया के दिन धार्मिक पुस्तकों और फलों का दान भी किया जा सकता है। अगर इस दिन आप जरूरतमंदों की सहायता करेंगे तो आपके जीवन में सुख सुविधाएं बनी रहेंगी।

03:48 (IST)14 May 2021
हिंदू परंपरा में सबसे शुभ पर्व है अक्षय तृतीया

अक्षय तृतीया हिंदू परंपरा में सबसे शुभ पर्व है। इस दिन किसी भी तरह के कार्य को आरंभ करने में उसमें सफलता जरूर मिलती है। अक्षय तृतीया पर हर क्षण शुभ मुहूर्त होता है। मान्यता है कि इस दिन दान देने से बहुत पुण्य मिलता है।

21:17 (IST)13 May 2021
अक्षय तृतीया का दिन होता है खास…

अक्षय तृतीया एक ऐसी तिथि है जिसमें कोई भी शुभ कार्य करने के लिए या कोई नयी वस्तु की खरीदारी के लिए पंचांग देखकर शुभ मुहूर्त निकालने की जरूरत नहीं पड़ती है। मान्यता है कि इस दिन पितृ पक्ष में किये गए पिंडदान का अक्षय परिणाम मिलता है।

19:21 (IST)13 May 2021
अक्षय तृतीया के दिन करें इन खास चीजों का दान…

अक्षय तृतीया के खास दिन पर इन चीजों का दान करना बेहद ही फलदायी माना गया है- फल-फूल, भूमि, जल से भरे घड़े, बर्तन, वस्त्र, गौ, कुल्हड़, पंखे, खड़ाऊं, खरबूजा, चीनी, साग, चावल, नमक, घी आदि।

18:33 (IST)13 May 2021
अक्षय तृतीया के दिन सोना खरीदने का शुभ मुहूर्त…

अक्षय तृतीया 14 मई को सोना खरीदने का समय- 05:38 AM से 05:30 AM मई 15
अवधि- 23 घण्टे 52 मिनट
15 मई को सोना खरीदने का शुभ मुहूर्त- 05:30 AM से 07:59 AM
अवधि- 02 घण्टे 29 मिनट

17:58 (IST)13 May 2021
अक्षय तृतीया के दिन व्रत रखने की है धारणा…

अक्षय तृतीया के दिन भगवान विष्णु और माता लक्ष्मी की आराधना की जाती है। कई स्त्रियाँ अपने परिवार की समृद्धि के लिए इस दिन व्रत भी रखती हैं। 

17:04 (IST)13 May 2021
अक्षय तृतीया का मुहूर्त:

अक्षय तृतीया 14 मई सुबह 05:38 से शुरू होकर 15 मई सुबह 07:59 बजे तक रहेगी। पूजा का सबसे शुभ मुहूर्त सुबह 5:38 बजे से दोपहर 12:18 बजे तक रहेगा। बाकी सुविधा अनुसार आप दिन में किसी भी समय पूजा कर सकते हैं।

16:35 (IST)13 May 2021
अक्षय तृतीया पर गंगा स्नान का होता है विशेष महत्व…

इस दिन गंगा स्नान करना काफी शुभ माना जाता है। कहते हैं कि इस पवित्र दिन पर जो मनुष्य गंगा जी में आस्था की डुबकी लगाता है उसके सभी पाप नष्ट हो जाते हैं। 

15:58 (IST)13 May 2021
अक्षय तृतीया के दिन धन प्राप्ति के लिए क्या करें?

मां लक्ष्मी को गुलाबी पुष्प अर्पित करें. उन्हें एक स्फटिक की माला अर्पित करें. उसी माला से कम से कम 108 बार विशेष मंत्र का जाप करें. मंत्र होगा- ॐ ह्रीं श्रीं लक्ष्मीवासुदेवाय नमः. इस माला को अपने गले में धारण कर लें.

15:04 (IST)13 May 2021
बेहद ही शुभ दिन है अक्षय तृतीया…

ये एक ऐसी तिथि है जिसमें कोई भी शुभ कार्य करने के लिए पंचांग देखकर शुभ मुहूर्त निकालने की जरूरत नहीं पड़ती है। मान्यता है कि इस दिन उपवास रखने, स्नान दान करने से भी अनंत फल की प्राप्ति होने की मान्यता है। इस व्रत से मिलने वाला फल कभी कम न होने वाला, न घटने वाला और कभी नष्ट न होने वाला होता है। 

14:39 (IST)13 May 2021
अक्षय तृतीया का सोने की खरीदारी से नहीं है कोई सीधा संबंध, तो जानिए कैसे शुरू हुई ये परंपरा…

अक्षय तृतीया पर लोग सोना ख़रीदते तो हैं पर कमाल की बात यह है की इस मुहूर्त का स्वर्ण या गहनों की खरीददारी से कोई सीधा सरोकार ही नहीं है। यह तो हमारे लोभी मनोवृत्ति का एक प्रगाढ़ भौतिक स्वरूप है जिसका प्रयोग बदलते समय के साथ बाज़ार ने अपने विस्तार व लाभ तथा लोभ की पुष्टि लिये किया। पूरी खबर पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

13:46 (IST)13 May 2021
15 मई को भी कर सकते हैं सोने की खरीदारी…

अक्षय तृतीया 15 मई को 07:59 ए एम बजे तक रहेगी। इसलिए इस दिन भी सुबह 05:30 ए एम से 07:59 ए एम तक का समय सोने की खरीदारी के लिए शुभ रहेगा।

13:02 (IST)13 May 2021
अपने शहर का अक्षय तृतीया का मुहूर्त यहां देखें…

06:01 ए एम से 12:31 पी एम – पुणे
05:38 ए एम से 12:18 पी एम – नई दिल्ली
05:44 ए एम से 12:05 पी एम – चेन्नई
05:40 ए एम से 12:23 पी एम – जयपुर
05:44 ए एम से 12:12 पी एम – हैदराबाद
05:38 ए एम से 12:18 पी एम – गुरुग्राम
05:38 ए एम से 12:19 पी एम – चण्डीगढ़
04:56 ए एम से 07:59 ए एम, मई 15 – कोलकाता
06:04 ए एम से 12:35 पी एम – मुम्बई
05:55 ए एम से 12:16 पी एम – बेंगलूरु
05:59 ए एम से 12:36 पी एम – अहमदाबाद
05:38 ए एम से 12:17 पी एम – नोएडा

12:08 (IST)13 May 2021
अक्षय तृतीया का महत्व:

अक्षय तृतीया के दिन अबूझ मुहूर्त रहता है। यानी इस दिन कोई भी शुभ काम बिना मुहूर्त देखे किये जा सकते हैं। मान्यता है कि इस दिन भगवान विष्णु और माता लक्ष्मी की पूजा करने से शुभ फल की प्राप्ति होती है। धार्मिक मान्यताओं के अनुसार अक्षय तृतीया के दिन भगवान परशुराम का जन्म हुआ था। इस पवित्र दिन पर दान- पुण्य करने का भी बहुत अधिक महत्व होता है। अक्षय तृतीया के पर सोना खरीदने की भी परंपरा है। ऐसा माना जाता है कि इस दिन सोने की खरीददारी करने से घर-परिवार में सुख- समृद्धि आती है।

11:34 (IST)13 May 2021
अक्षय तृतीया का शुभ मुहूर्त…

05:38 AM से 12:19 PM – चण्डीगढ़
05:44 AM से 12:05 PM – चेन्नई
05:40 AM से 12:23 PM – जयपुर
05:44 AM से 12:12 PM – हैदराबाद

10:58 (IST)13 May 2021
Gold Buying Time On Akshaya Tritiya 2021: अक्षय तृतीया पर सोना खरीदने का शुभ मुहूर्त:

अक्षय तृतीया सोने की खरीदारी शुक्रवार, मई 14, 2021 को
अक्षय तृतीया पर सोना खरीदने का समय – 05:38 ए एम से 05:30 ए एम, मई 15
अवधि – 23 घण्टे 52 मिनट्स

10:06 (IST)13 May 2021
अक्षय तृतीया की सरल पूजा विधि…

प्रातः काल घर में शीतल जल से स्नान करें। इसके बाद भगवान विष्णु और मां लक्ष्मी की पूजा करें और उन्हें सफेद फूल अर्पित करें। इसके बाद मंत्रों का जाप करें। फिर कुछ दान का संकल्प करें।

09:40 (IST)13 May 2021
अक्षय तृतीया पर इन चीजों का कर सकते हैं दान…

कहा जाता है कि अक्षय तृतीया के दिन दान-पुण्य करने से जीवन में आ रही परेशानियां दूर हो जाती हैं। इस दिन जल से भरा घड़ा, शक्कर, बर्फी, सफेद वस्त्र, गुड़, नमक, शरबत, चांदी, चावल का दान बेहद शुभ माना जाता है। अक्षय तृतीया के दिन धार्मिक पुस्तकों और फलों का दान भी किया जा सकता है। अगर इस दिन आप जरूरतमंदों की सहायता करेंगे तो आपके जीवन में सुख सुविधाएं बनी रहेंगी।

09:23 (IST)13 May 2021
अक्षय तृतीया पर क्यों खरीदा जाता है सोना, जानिए

इस दिन मां लक्ष्मी की पूजा होती है। इस दिन नये व्यापार का प्रारंभ करना काफी फलदायी होता है। कहा जाता है कि इस दिन किया गया निवेश कई गुना बढ़ जाता है। ऐसी मान्यता है कि इस दिन अगर हम भौतिक संसाधन जुटाएं तो वे हमारे पास हमेशा के लिए बने रहते हैं। इसलिए ये खास दिन नया काम शुरू करने, बर्तन, सोना, चांदी जैसी कीमती वस्तुओं की खरीदारी करने के लिए शुभ माना गया है। ये भी कहा जाता है कि इस दिन खरीदा गया सोना पीढ़ियों के साथ बढ़ता चला जाता है।

पढें Religion (Religion News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

अपडेट