ताज़ा खबर
 

सद्गुरु के अनुसार जानिए ध्यान करते समय नींद से कैसे बचें

सद्गुरु कहते हैं कि सबसे पहले यह जानना आवश्यक है कि नींद क्या है। अगर दिन के किसी भी समय नींद से जिंदगी में कोई रुकावट आ रही है तो व्यक्ति को अपने स्वास्थ्य की जांच करवानी चाहिए।

सद्गुरु जग्गी वासुदेव।

अक्सर कई लोगों को साधना और पूजा-पाठ करते वक्त आंखें बंद करते ही नींद आने लगती है। साधना के वक्त आने वाली नींद उन्हें साधना में बाधा पहुंचाती है। वैसे साधक जिन्हें साधना करते वक्त नींद आती है, उनके मन में यह प्रश्न आता है कि आखिर इसके उपाय क्या हैं? इसी प्रश्न को लेकर सद्गुरु जग्गी वासुदेव से एक साधक ने पूछा कहा कि उसे साधना करते वक्त नींद आ जाती है। उन्हें ऐसा केवल थकान की वजह से नहीं होता, बल्कि आंखें बंद करते ही होने लगता है। साथ ही साथ वह साधक सद्गुरु से यह भी जानना चाहा कि साधना के समय आने वाली नींद से बचने के क्या उपाय हैं? आगे जानते हैं कि इस पर सद्गुरु ने क्या जवाब दिया।

सद्गुरु कहते हैं कि सबसे पहले यह जानना आवश्यक है कि नींद क्या है। अगर दिन के किसी भी समय नींद से जिंदगी में कोई रुकावट आ रही है तो व्यक्ति को अपने स्वास्थ्य की जांच करवानी चाहिए। साथ ही यह देखना चाहिए की शरीर में कोई गड़बड़ तो नहीं है! जब इंसान बीमार होता है तो व्यक्ति सामान्य से अधिक सोने लगता है। इस बारे में सद्गुरु ने दूसरी बात बताई कि इसके लिए व्यक्ति का भोजन भी जिम्मेदार है। कम से कम थोड़ी मात्र में शाकाहारी भोजन और कच्चा खाना मनुष्य के सामान्य स्वास्थ्य के लिए बेहद जरूरी है। जब व्यक्ति भोजन को पकता है तो बड़ी मात्र में प्राण शक्ति नष्ट हो जाती है। इसके कारण भी शरीर में आलस्य आ जाता है। अगर व्यक्ति थोड़ी मात्रा में कच्ची और ताजी चीजें खाए तो उसकी नींद कम हो जाएगी।

व्यक्ति की सजगता इस बात पर निर्भर करती है कि वह अपनी ऊर्जा को कितना संभालकर रखता है। अगर इंसान ध्यान करना चाहता है तो उसकी सजगता सिर्फ मन के स्तर पर नहीं बल्कि ऊर्जा के स्तर पर भी होनी चाहिए। इसमें मदद करने के लिए आमतौर पर योग के रास्ते पर चलने वाले लोगों को ये सलाह दी जाती है कि उन्हें सिर्फ 24 कौर खाना चाहिए। साथ ही हर कौर को कम से कम चौबीस बार चबाना चाहिए। इससे भोजन अंदर जाने से पहले ही मुंह में पच जाएगा और सुस्ती नहीं लाएगा। अगर व्यक्ति शाम के भोजन के समय ऐसा करे और रात को सोए तो वह आसानी से सुबह साढ़े तीन बजे उठ सकता है और ध्यान कर सकता है।

Next Stories
1 International Yoga Day 2019: जानिए, गोरखनाथ के ‘हठयोग’ का रहस्य
2 Horoscope Today, June 21, 2019: मेष राशि वालों का बढ़ेगा खर्च, इन 5 राशि के जातकों को मिलेगा बिजनेस से लाभ
3 संत इंद्रदेव जी महाराज के अनुसार जानिए, अच्छे लोगों के साथ क्यों होता है बुरा
ये पढ़ा क्या?
X