चाणक्य नीति से जानिए कौन से 4 भेद किसी को नहीं बताना चाहिए

Chanakya neeti: चाणक्य नीति के मुताबिक कुछ बातें ऐसी होती हैं जिन्हें किसी को नहीं बताना चााहिए

chankya niti, chankya neeti, चाणक्य नीति
चाणक्य के अनुसार लोगों को अपने जीवन साथी से जुड़ी निजी बातों को भी गुप्त रखना चाहिए

Chanakya Niti In Hindi: महान ज्ञानी और कूटनीतिज्ञ आचार्य चाणक्य ने अपने विचारों को ग्रंथ चाणक्य नीति में समाहित किया है। वर्तमान समय में भी इस नीति पुस्तक की प्रमाणिकता कम नहीं हुई है। न्होंने अपने जीवन के अनुभवों और बुद्धिमता से ही ये ग्रंथ लिखा है। इस किताब में आचार्य ने व्यावहारिक जीवन और गृहस्थ जीवन से जुड़ी कई बातें बताई हैं। चाणक्य नीति में जिक्र मिलता है कि लोगों को कुछ बातों को अपने तक ही रखना चाहिए।

चाणक्य नीति के मुताबिक कुछ बातें ऐसी होती हैं जिन्हें किसी को नहीं बताना चााहिए। इसके पीछे वजह ये हो सकती है कि इन्हें जानकर किसी को बुरा लग सकता है, कोई आहत हो सकता है या फिर आपकी खिल्ली भी उड़ सकती है। ऐसे में अपनी निजी बातों को गुप्त रखने से आपको ही लाभ होगा। आइए जानते हैं कि वो कौन सी बातें हैं जो कभी किसी से शेयर नहीं करनी चाहिए –

आर्थिक नुकसान हो तो: आचार्य चाणक्य के अनुसार जिन लोगों को आर्थिक नुकसान हुआ हो तो इसे बाहर वालों को बताने से बचना चाहिए। उनके मुतबिक जो लोग पैसों की दिक्कत होने पर दूसरों से शेयर करते हैं तो मदद की बजाय उन्हें निराशा हाथ लग सकती है। इतना ही नहीं, आपकी परेशानियों को जानकर लोग आपसे दूरियां भी बनाने लगेंगे।

वैवाहिक जीवन की अनबन: चाणक्य के अनुसार लोगों को अपने जीवन साथी से जुड़ी निजी बातों को भी गुप्त रखना चाहिए। वो कहते हैं कि यदि पति-पत्नी अपने पार्टनर्स से हुई लड़ाई या उनके अवगुणों को दूसरों से शेयर करेंगे तो लोग न केवल उनका मजाक उड़ाएंगे, बल्कि भविष्य में भी जोड़ियों के बीच खटास पैदा कर सकते हैं।

खुद तक रखें अपनी परेशानी: अपनी नीति पुस्तक में चाणक्य ने लिखा है कि अक्सर लोग सामने मीठी बातें करते हैं जिससे हम उनके बहकावे में आ जाते हैं। लेकिन यही लोग आपकी परेशानी जानने के बाद पीठ पीछे मजाक उड़ाते हैं या बुराई करते हैं। इसलिए लोगों को अपनी तकलीफों को दूसरों से शेयर करने से बचना चाहिए। चाणक्य कहते हैं कि उन्हें आपकी परेशानियों से कोई लेना-देना नहीं होता है।

न गाएं अपने अपमान की गाथा: आचार्य के मुताबिक अगर किसी ने आपकी बेइज्जती की है तो इस घटना को अपने तक रखना ही बेहतर है। दूसरों को बताने से उनके मन में भी आपके प्रति जो इज्जत है, उसमें कमी आएगी।

पढें Religion समाचार (Religion News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट