ताज़ा खबर
 

ज्योतिष के अनुसार जानिए शुक्र ग्रह का जीवन पर क्या पड़ता है प्रभाव

शुक्र के पास दो राशियां होती हैं। यह वृषभ और तुला राशि का स्वामी है। वहीं मीन राशि शुक्र की सबसे प्रिय राशि है। मीन राशि में शुक्र उच्च का हो जाता है।

astrology, Venus, Venus planet, impact of Venus planet, shukra grah, shukra grah ke prabhav, Venus Planet Effect, Venus Planet Effect on life, religion news, astrology newsसांकेतिक तस्वीर।

ज्योतिष के अनुसार शुक्र को ग्रहों में मंत्रणा का मालिक मानते हैं। बृहस्पति और शुक्र दोनों गुरु माने जाते हैं। शुक्र को दैत्य गुरु और बृहस्पति को देव गुरु माना जाता है। गुरु तत्व की जो भूमिका और गुण है वह शुक्र के अंदर पाया जाता है। जिस कारण से शुक्र को बड़ा महत्वपूर्ण माना जाता है। इसके अलावा जीवन में जितना भी सुख है उसका कारक शुक्र ग्रह ही है। कहते हैं कि ठंढे ग्लास का पानी पीने से लेकर पलंग पर सोने तक का सुख कैसा भी सुख हो बिना शुक्र के नहीं मिल सकता। लेकिन क्या आप जानते हैं कि शुक्र ग्रह का जीवन पर क्या प्रभाव पड़ता है? यदि नहीं, तो आगे हम आपको ज्योतिष के अनुसार यह बताते हैं।

शुक्र के पास दो राशियां होती हैं। यह वृषभ और तुला राशि का स्वामी है। वहीं मीन राशि शुक्र की सबसे प्रिय राशि है। मीन राशि में शुक्र उच्च का हो जाता है। साथ ही शुक्र का सबसे कमजोर पक्ष कन्या राशि होती है। कन्या राशि में शुक्र सबसे कमजोर होता है। अगर कुंडली में शुक्र अच्छा हो तो व्यक्ति का प्रेजेंटेशन बहुत अच्छा होता है। साथ ही जातक अपने जीवन में यश और नाम कमाते हैं। इसके अलावा शुक्र अगर अच्छा होता है तो ऐसे लोगों के पास ग्लैमर दौड़ने लगता है। ऐसे लोगों को नाम, यश पाने में दिक्कत नहीं होती। किसी भी पुरुष के वैवाहिक जीवन का मालिक शुक्र है। इसलिए अगर शुक्र अच्छा होता है तो पुरुष का वैवाहिक जीवन बहुत अच्छा रहता है।

वहीं यदि किसी महिला का शुक्र अच्छा है तो उसे बड़े अच्छे स्वभाव का पति मिलता है जो उसको बहुत प्रेम से रखता है और वैवाहिक जीवन को सुंदर बना देता है। शुक्र अगर अच्छा होता है तो ऐसे लोग हामेशा नौजवान दिखाई देते हैं। साथ ही जीवन में वैभव की कमी नहीं होती है। वहीं जब कुंडली में शुक्र खराब हो जाता है तो व्यक्ति को जीवन में सुख नहीं मिलता है। शुक्र यदि कमजोर या खराब हो तो व्यक्ति को वैवाहिक जीवन में तालमेल अच्छा नहीं होता है। यदि किसी पुरुष का शुक्र खराब या कमजोर हो जाए तो उसे पत्नी का सुख नहीं मिलता। इसके अलावा कभी-कभी पुरुषों का चरित्र ही कमजोर हो जाता है। जीवन में किसी भी तरह के सुख को पाने के लिए शुक्र की भूमिका बहुत ज्यादा होती है।

Next Stories
1 सूर्य को जल देने से ये पांच लाभ होने की है मान्यता, जानिए विधि
2 जानिए, क्यों कहा जाता है अजा एकादशी व्रत करने से घर में मां लक्ष्मी का होता है वास
3 जानिए, शमी के पेड़ से शनिदेव का क्या है संबंध, क्यों इसे चढ़ाने से शनि होते हैं प्रसन्न?
ये पढ़ा क्या?
X