आम‍िर खान पर राहु का साया, फ‍िर क‍िसी व‍िवाद में घ‍िर सकते हैं ‘सीक्रेट सुपरस्‍टार’

आमिर खान की कुंडली में बृहस्पति काफी मजबूत स्थिति में है, जो उन्हें मिस्टर परफेक्टनिस्ट बनाता है।

Awards Show, Award Show night, Awads Show perforrmanec, Tv Awards, Kangan ranaut, Ajay devgan, emraan hashmi, Akshay Kumar, Sunny deol, Aamir khanगजनी, दंगल, थ्री इडियट्स और धूम जैसी सुपरहिट फिल्में कर चुके मिस्टर परफेक्शनिस्ट आमिर खान भी अवॉर्ड शो में नहीं जाते। उन्होंने जो जीता वही सिकंदर, रंगीला, हम हैं राही प्यार को इग्नोर करने के बाद से कसम खाई थी कि वे कभी ऐसे शो में नहीं जाएंगे। लिहाजा आज भी इन फंक्शन में कभी नहीं दिखते।

बॉलीवुड अभिनेता आमिर खान संजीदा अभिनय के लिए जाने जाते हैं। आमिर खान कई बार विवादों में भी घिर चुके हैं। नरेंद्र मोदी के प्रधानमंत्री बनने के बाद उन्होंने बयान दिया था कि ‘भारत में असहिष्णुता’ फैल गई है, जिसके बाद काफी विवाद हुआ था। आमिर खान की कुंडली में राहु की मजबूत स्थिति की वजह से यह विवाद पैदा हुआ था। हालांकि, उनकी कुंडली में बृहस्पति भी मजबूत स्थिति में, जिसकी वजह से वह मिस्टर परफेक्टनिस्ट हैं। आइए जानते हैं आमिर खान की कुंडली क्या कहती है।

आमिर खान की कुंडली कुंभ लगन और कर्क राशि की है। उनके लगन में शुक्र, सूर्य और शनि विद्यमान हैं। शुक्र कुंभ लगन का सबसे अहम ग्रह है। दूसरे खाने में बुध खुद मौजूद है। इसे वाणी का ग्रह कहा जाता है। इसलिए उनमें वाणी की प्रखरता है। बृहस्पति कुंडली के तीसरे खाने में मौजूद है, जो उनके अभिनय को ज्यादा गंभीर और जिम्मेदार बनाता है। चंद्रमा छठे खाने में और मंगल सातवें खाने में बैठा है। राहु और केतु चौथे और दसवें खाने में हैं। किसी अभिनेता के किसी खाने में राहु-केतु आ जाते हैं तो उन्हें अलग-अलग किरदार निभाने में मदद मिलती है। इनके कुंडली में ग्रहों की स्थिति संतुलित है। जलतत्व का इलाका मजबूत है, जो कि रचनात्मकता पैदा करता है।

आमिर खान की कुंडली का विश्लेषण ज्योतिर्विद शैलेंद्र पांडे ने टीवी चैनल तेज के लिए किया है।

ये सितारें बनाते हैं आमिर को मिस्टर परफेक्टनिस्ट-
आमिर खान की कुंडली में बृहस्पति तीसरे खाने में बैठा है। यह तय करता है कि आदमी के करियर की लाइन कितनी सही होगी। अभिव्यक्ति का ग्रह बुध भी बृहस्पति की राशि में हैं। बृहस्पति कर्म के स्वामी मंगल को भी प्रभावित कर रहा है। यह इतना मजबूत प्रभाव है जो उन्हें जिम्मेदार अभिनेता बनाता है। इससे ही परफेक्शन का प्रभाव पैदा होता है। गंभीर विषय और संजीदा अभिनय में बृहस्पति उनकी सहायता करता है।

फिर किसी विवाद में घिर सकते हैं-
आमिर खान की पिछले दिनों राहु और बृहस्पति की दशाएं चल रही थीं। राहु ऐसा ग्रह है जो कल्पनात्मक समस्याएं पैदा करता है। ये दोनों ही ग्रह उनकी कुंडली के अनुकूल नहीं हैं। यह सोशल ताकत को कम कर देता है। बृहस्पति अपनी जिम्मेदारी का एहसास कराता है। इसकी वजह उनके मन में जो आए, उसे बोल देने के लिए बृहस्पति मजबूर करता है। राहु, मंगल से केंद्र में है और साथ ही कुंडली के चौथे भाव में मौजूद है। नकारात्मक दशा आने पर यह काफी खतरनाक साबित हो सकता है। जहां एक ओर यह जनता का पसंदीदा बना देता है, वहीं नेगेटिव स्थिति आने पर उन्हें आपके बारे में नकारात्मक सोचने के लिए मजबूर कर देता है।

चौथे खाने में अगर राहु बैठ जाए तो इससे मान-सम्मान की दिक्कतें पैदा हो जाती है। इससे बिना बात के विवाद पैदा होते हैं। जब भी ऐसा राहु हो तो विवादों से बचना चाहिए। आमिर खान के लिए विवाद अभी खत्म नहीं हुए हैं, बल्कि 2018-19 में यह दोबारा लौट सकते हैं। इसलिए उन्हें सावधान रहने की जरूरत है।

Next Stories
1 Janmashtami Songs 2017: बिना व्रत भी कर सकते हैं भगवान कृष्ण की उपासना, सुनें-यें भजन और गीत
2 जन्माष्टमी 2017: प्रेम विवाह और संतान प्राप्ति के लिए ऐसे करें भगवान श्री कृष्ण की भक्ति
3 Happy Janmashtami: करना चाहते हैं भगवान श्रीकृष्ण को खुश तो करें ये उपाय, मनोकामना होगी पूरी
ये पढ़ा क्या?
X