ताज़ा खबर
 

डेरे के समर्थन और विरोध में छाए उत्साही गीत

पंजाब के मशहूर लोक गायक जोरा रंधावा ने करीब एक साल पहले जब हाई कोर्ट में पेशी के लम्हों को पंजाबी गीत में पिरोकर गाया तो उन्होंने यह नहीं सोचा होगा कि डेरा सच्चा सौदा के प्रमुख की पेशी के समय यह सोशल मीडिया पर वायरल होगा।

नई दिल्ली | August 25, 2017 1:21 AM
डेरा सच्चा सौदा के प्रमुख गुरमीत राम रहीम सिंह।

संजीव शर्मा
पंजाब के मशहूर लोक गायक जोरा रंधावा ने करीब एक साल पहले जब हाई कोर्ट में पेशी के लम्हों को पंजाबी गीत में पिरोकर गाया तो उन्होंने यह नहीं सोचा होगा कि डेरा सच्चा सौदा के प्रमुख की पेशी के समय यह सोशल मीडिया पर वायरल होगा। इस गीत को वाट्स ऐप ग्रुपों में खूब साझा (शेयर) किया जा रहा है। यह सब तब हो रहा है जब सोशल साइटों, सोशल मीडिया पर पुलिस की निगरानी है। रोक के बावजूद पिछले तीन दिनों से सोशल मीडिया पर डेरा सच्चा सौदा के खिलाफ और समर्थन में जमकर प्रचार हो रहा है। एक पक्ष डेरे के विरोध में इस तरह के गीत व नारे जारी कर रहा है तो डेरा अनुयायी वाट्स ऐप गु्रपों में डेरा सच्चा सौदा द्वारा किए जा रहे मानवता के कार्यों का प्रचार करते हुए डेरा प्रमुख को एक ऐसे व्यक्ति के रूप में पेश किया जा रहा है जिसके अपने कानून हैं, अपनी अलग सरकार है।

इस समय वाट्स ऐप ग्रुपों में डेरा प्रमुख के विरुद्ध कई ऐसे गीत चल रहे हैं जो उनकी अदालत में पेशी के संबंध में हैं। इस समय पंजाबी लोक गायक जोरा रंधावा का वह गीत सबसे अधिक देखा व सुना जा रहा है जिसमें एक जट्ट सिख की हाई कोर्ट में पेशी से पहले बने तनावपूर्ण माहौल का वृतांत सुनाया गया है। इस गीत को यू-टयूब पर अब तक तीन करोड़ 31 लाख 9 हजार 83 लोग देख चुके हैं। इसके अलावा कुछ शरारती तत्वों ने बाबा राम रहीम के फोटो को पंजाबी लोक गायक गिप्पी ग्रेवाल के गीत ‘तेरी सोहणिये गवाही बुधवार नूं, पिट्ठ ना लवांदी जट्ट दी’ के साथ जोड़कर प्रचारित करना शुरू कर दिया है। गिप्पी ग्रेवाल के इस गीत को तो अब तक एक करोड़ से अधिक लोग देख चुके हैं, लेकिन वाट्स ऐप पर इसे दूसरे तरीके से प्रचारित किया जा रहा है।
एक तरफ जहां डेरा प्रमुख के विरोध में इस तरह के गीतों के माध्यम से प्रचार किया जा रहा है वहीं दूसरी तरफ डेरा समर्थकों द्वारा अपने गुरु के समर्थन में खुलेआम अभियान चलाया जा रहा है।

इस पर भी किसी तरह की कोई निगरानी नहीं की जा रही है। डेरा अनुयायियों द्वारा जहां डेरा सच्चा सौदा द्वारा किए जा रहे मानवता के 133 कार्यों का एक वीडियो बनाकर वाट्स ऐप ग्रुपों में प्रचारित किया जा रहा है, वहीं प्रेमियों द्वारा ऐसे पोस्टर भी जारी किए गए हैं जिनमें राम रहीम को देश के कानून में रहकर खुद अपनी सरकार चलाने वाला व्यक्ति बताया गया है। इन पोस्टरों में एक सवाल किया गया है कि गुरमीत राम रहीम कौन है। इसका जवाब इसी पोस्टर में दिया गया है।
इस पोस्टर के माध्यम से भारतीय सेना को सीधे तौर पर चुनौती देते हुए कहा गया है कि देश की एनडीआरएफ में इतने सिपाही नहीं हैं, उससे ज्यादा बिना वेतन के एक फौज बनाकर उसका नेतृत्व करने वाले व्यक्ति का नाम राम रहीम है। इस पोस्टर में भी डेरा प्रमुख की ओर से किए जाने वाले कल्याणकारी कार्यों को आक्रामक तरीके से पेश करके सोशल मीडिया पर प्रचारित किया जा रहा है।

Next Stories
1 गुरमीत राम रहीम रेप केस फैसला: हरियाणा में खलबली, दो दिन बंद रहेंगे सरकारी दफ्तर और कॉलेज
2 कोर्ट में जज ने कहा- संंगठन की मदद से की गई दाभोलकर, पनसारे की हत्‍या, दोनों कत्‍ल के जुड़े हैं तार
3 बच्‍चे को ‘छक्‍का’ कहने वाले मां-बाप को इस टीवी एक्‍टर ने सुनाई खरी-खोटी, मांगने लगे माफी
ये पढ़ा क्या?
X