ताज़ा खबर
 

आंध्र प्रदेशः YSR कांग्रेस का आरोप- पुलिस प्रमोशन में हुई गड़बड़ी, 37 में से 35 अधिकारी CM नायडू की जाति से

जगन का यह आरोप लोकसभा चुनाव से ठीक पहले आया है। ऐसे में चंद्रबाबू नायडू के लिए ऐसे आरोप मुश्किल खड़ी कर सकते हैं।

Author February 4, 2019 5:12 PM
जगनमोहन रेड्डी (फोटो एएनआई)

आंध्र प्रदेश में पुलिस महकमे में हुए प्रमोशन को लेकर राजनीतिक विवाद खड़ा हो गया है। वाईएसआर कांग्रेस पार्टी के अध्यक्ष जगन एम रेड्डी ने राज्य के मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू को निशाने पर लिया है। उनका आरोप है कि राज्य में नियमों का उल्लंघन करके प्रमोशन दिए जा रहे हैं। इसके साथ ही रेड्डी ने मुख्यमंत्री पर जातिवाद से प्रेरित होकर प्रमोशन करने का भी आरोप लगाया है। रेड्डी ने इस मामले में चुनाव आयोग का ध्यान आकर्षित करने के लिए नोटिस दिया है।

’37 में से 35 पदोन्नत नायडू के समुदाय से’: रेड्डी ने कहा, ‘हाल ही में आंध्र प्रदेश में सर्किल इंस्पेक्टर्स को डीएसपी (डिप्टी इंस्पेक्टर ऑफ पुलिस) बनाया गया है। इनमें से 37 अधिकारियों के नाम शामिल हैं जिनमें से 35 चंद्रबाबू नायडू के समुदाय से आते हैं।’ जगन का यह आरोप लोकसभा चुनाव से ठीक पहले आया है। ऐसे में चंद्रबाबू नायडू के लिए ऐसे आरोप मुश्किल खड़ी कर सकते हैं।

आंधप्रदेश की सियासत में रेड्डीः वाईएसआर कांग्रेस 176 सीटों वाली आंध्र प्रदेश विधानसभा में मुख्य विपक्षी दल है। आंधप्रदेश के साथ-साथ तेलंगाना में भी इसका थोड़ा-बहुत जनाधार है। 2014 में हुए लोकसभा चुनाव में वाईएसआर कांग्रेस को नौ सीटों पर जीत मिली थी। वाईएसआरसीपी का पूरा नाम युवजन सुरक्षा रिथू कांग्रेस पार्टी है। जगनमोहन दिवंगत मुख्यमंत्री वाईएस राजशेखर रेड्डी के बेटे हैं। एक हेलिकॉप्टर हादसे में राजशेखर रेड्डी की मौत हो गई थी। करीब एक महीने तक उनका हेलिकॉप्टर लापता रहा था। अक्टूबर 2018 में जगनमोहन रेड्डी पर हमला किया गया था, एनआईए ने अपनी चार्जशीट में दावा किया है कि यह हमला जान लेने के इरादे से किया था।

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App