ताज़ा खबर
 

ब‍िहार: बैल को ग‍िरफ्तार कराने थाने पहुंच गया युवक, कहा- तुरंत कीज‍िए एफआईआर

बिहार में एक युवक ने थाने पहुंच बैल पर एफआईआर दर्ज कर जल्द से जल्द गिरफ्तार करने की मांग की। घटना पूर्णिया जिले की है।

तस्वीर का इस्तेमाल प्रतीकात्मक तौर पर किया गया है। (एक्सप्रेस फाइल फोटो)

बिहार के पूर्णिया जिले में एक अजीबो-गरीब मामला सामने आया है। गंभीर रूप से जख्मी युवक ने थाने पहुंच उसे घायल करने वाले के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने और गिरफ्तार करने को कहा। पुलिस ने जब युवक से पूरी घटना की जानकारी ली, तो आरोपी के बारे में सुन जवान भी हैरान रह गए। दरअसल अारोपी एक जानवर है। युवक ने थाने पहुंच एक बैल के खिलाफ एफआईआर लिखने और उसे गिरफ्तार करने की मांग की। मामला पूर्णिया जिले के सहबज्ज गांव का है। बैल ने ही युवक पर हमला कर उसे बुरी तरह से घायल कर दिया। इस पूरे मामले पर थानाध्यक्ष ने कहा कि घायल युवक ने बैल सहित पांच अन्य लोगों के खिलाफ शिकायत दर्ज करवाई है। पूरे मामले की जांच करवायी जा रही है।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, पूर्णिया जिले के सहबज्जा गांव में इन दिनों एक बैल का आतंक छाया हुआ है। बैल ने अबतक करीब अाधा दर्जन लोगों को घायल कर दिया है। इस संबंध में गांव में पंचायत भी हुई। पंचायत में यह फैसला लिया गया कि बैल को उसके मालिक हमेशा खूंटे में बांधकर रखेंगे। लेकिन जैसे ही किसी वजह से बैल खूंटे से खुल जाता है, वह लोगों के लिए खतरनाक हो जाता है। काफी मुश्किल उसे उसे काबू किया जाता है।

HOT DEALS
  • Lenovo K8 Plus 32GB Fine Gold
    ₹ 8190 MRP ₹ 10999 -26%
    ₹410 Cashback
  • Moto C Plus 16 GB 2 GB Starry Black
    ₹ 7999 MRP ₹ 7999 -0%
    ₹0 Cashback

 

शिकायतकर्ता ने बताया कि, “सुबह में वह शौच करने के लिए खेत पर जा रहे थे। इसी दौरान बैल ने उनके उपर हमला कर दिया। अपने सिंग से वार कर उन्हें बुरी तरह घायल कर दिया। आसपास के लोगों ने किसी तरह उनकी जान बचायी और स्थानीय अस्पताल में भर्ती करवाया। इसके बाद वे थाने पहुंचे और आवेदन दिया।” शिकायतकर्ता की हालत देखते हुए उन्हें स्थानीय अस्पताल से पूर्णिया रेफर किया गया है। स्थानीय लोगों के अनुसार, इससे पहले भी बैल कई लोगों को घायल कर चुका है। बैल की वजह से लोग अकेले खेत की तरफ जाने से डरने लगे हैं। हालांकि, लोगों का कहना है कि इस मामले को स्थानीय स्तर पर ही निपटा लिया जाएगा। घायल युवक के इलाज में होने वाले खर्च को बैल के मालिक द्वारा उठाया जाएगा।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App