ताज़ा खबर
 

योगी के मंत्री ने खाई कसम, जब तक कोरोना खत्म नहीं होगा, अन्न नहीं ग्रहण करूंगा

योगी सरकार में नगर विकास राज्यमंत्री महेश चंद्र गुप्ता ने ऐलान किया है कि जब तक देश में कोरोना महामारी खत्म नहीं होती तब तक अन्न ग्रहण नहीं करेंगे।

कोरोना के कारण हो रही मौतों से आहत होकर महेश चंद्र गुप्ता ने अन्न त्यागने का ऐलान किया। Photo Source- Twitter @MaheshCGuptaBJP

योगी सरकार में नगर विकास राज्यमंत्री महेश चंद्र गुप्ता ने ऐलान किया है कि जब तक देश में कोरोना महामारी खत्म नहीं होती तब तक अन्न ग्रहण नहीं करेंगे। उनका दावा है कि उन्होंने आतंकवाद के खात्मे के लिए पांच साल पहले अन्न जल का त्याग कर दिया था। अब इस प्रतिज्ञा में कोरोना भी शामिल हो गया है। राज्यमंत्री के अनुसार देश में कोरोना के कारण हुई मौतों से आहत होने के चलते उन्होंने यह प्रतिज्ञा ली है। महेश चंद्र गुप्ता ने कहा कि जब आप भूखे प्यासे रहकर दूसरों के लिए प्रार्थना करते हैं तो ईश्वर की आप पर कृपा होती है। उन्होंने 26 अप्रैल से अन्न जल त्याग दिया है और जब तक कोरोना महामारी खत्म नहीं हो जाती तब तक वह अन्न जल ग्रहण नहीं करेंगे।

आतंकवाद के लिए भी त्यागा था अन्न: महेश चंद्र गुप्ता का दावा है कि साल 2008 में जब देश में आतंकी घटनाएं तेजी से बढ़ रही थीं, देश के जवान हर रोज शहीद हो रहे थे तो इन घटनाओं से परेशान होकर उन्होंने अन्न त्यागने का फैसला किया था। बकौल गुप्ता, आज इसी का परिणाम है कि देश में आतंकवाद की कमर टूट चुकी है।

पीएम मोदी को बताया विश्व नायक: कोरोना के खिलाफ लड़ाई में महेश चंद्र गुप्ता ने पीएम मोदी को विश्व का नायक बताते हुए कहा कि आज पूरा विश्व पीएम मोदी की कार्यशैली का कायल है। उन्होंने कई देशों को संजीवनी दी। सीएम योगी की तारीफ करते हुए महेश चंद्र ने कहा कि दूसरी लहर में मुख्यमंत्री ने जबरदस्त काम किया, उन्होंने अपनी जान की परवाह किए बगैर पूरे राज्य में दौरे किया, जिसके बाद कोरोना की स्थिति नियंत्रित हुई, हालांकि इस दौरान योगी आदित्यनाथ खुद कोरोना की चपेट में आ गए थे।

बांध के लिए त्यागा था एक वक्त का अन्न: महेश चंद्र गुप्ता अपनी प्रतिज्ञाओं के लिए पहले भी चर्चित हो चुके हैं। कोरोना और आतंकवाद से पहले वह एक बांध को लेकर अन्न त्यागने की प्रतिज्ञा ले चुके हैं। गुप्ता ने बंदायू के दहगंवा के गांवों में आई बाढ़ का दौरा करते हुए ऐलान किया था कि जब तक ईसमपुर से मालपुर तक बाध नहीं बन जाएगा, तब तक एक समय ही अन्न ग्रहण करेंगे। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि वहां अब बांध बन चुका है।

उत्तर प्रदेश तीसरी लहर के लिए तैयार: महेश चंद्र के अनुसार उत्तर प्रदेश ने दूसरी लहर पर काबू पा लिया था और तीसरी लहर के लिए भी तैयारियां पूरी हो चुकी हैं। सभी जरूरी मशीनरी की आपूर्ति की जा रही है, बच्चों के लिए खास वार्ड तैयार किए जा रहे हैं।

उत्तर प्रदेश में कोरोना: केंद्र स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा जारी आंकड़ों के अनुसार उत्तर प्रदेश में कोरोना संक्रमण की स्थिति नियंत्रित मालूम पड़ रही है। बुधवार शाम जारी आंकड़ों के अनुसार राज्य में एक्टिव मरीजों की संख्या 1036 रह गई है। राज्य में अब तक 17 लाख 8 हजार से भी ज्यादा लोग इस खतरनाक वायरस की चपेट में आ चुके हैं। जबकि 22739 मरीजों की मौत हो चुकी है।

 

Next Stories
1 चपरासी से हुआ प्रमोशन तो और मांगने लगा दहेज, नहीं मिला तो पत्नी के कर दिए 12 टुकड़े
2 बीजेपी प्रवक्ता शाइना एनसी बोलीं- ऑक्सीजन की कमी से कोरोना मौतों पर सरकार का पक्ष दुरुस्त, देखें उनकी दलीलें
3 जब कोरोना से हुई मौतों पर सदन में बोलने लगे मनोज झा, भावुक हो गए लोग, सोशल मीडिया पर की जमकर तारीफ़
ये पढ़ा क्या?
X