मुफ्त राशन योजना को मार्च 2022 तक बढ़ाने की तैयारी में योगी सरकार, एक किलो दाल, तेल और नमक के पैकेट के जरिए दिल जीतने की कवायद

योगी सरकार मौजूदा केंद्रीय खाद्य वितरण ‘पीएम गरीब कल्याण अन्न योजना’ को अगले साल मार्च तक गरीबों के बीच मुफ्त राशन पहुंचाने की योजना पर भी काम कर रही है।

Cm Yogi Free Ration
उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (फाइल/PTI)

आगामी विधानसभा चुनावों को देखते हुए राजनीतिक दल मुफ्त योजनाओं के जरिए जनता का दिल जीतकर उनका वोट लेने की कवायद में जुटे हुए हैं। इसी कड़ी में राज्य की योगी सरकार इन दिनों मुफ्त राशन योजना को अगले साल मार्च तक बढ़ाने पर विचार कर रही है। टाइम्स ऑफ इंडिया में छपी एक रिपोर्ट के अनुसार योगी सरकार मौजूदा केंद्रीय खाद्य वितरण कार्यक्रम ‘पीएम गरीब कल्याण अन्न योजना’ को आगे बढ़ाते हुए अगले साल मार्च तक गरीबों के बीच मुफ्त राशन पहुंचाने की योजना पर भी काम कर रही है। बताते चलें कि इस योजना को कोविड काल के दौरान शुरू किया गया था। पूर्व में पीएम मोदी द्वारा की गई घोषणा के अनुसार, यह योजना नवंबर तक चलाई जानी है।

रिपोर्ट के अनुसार मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के साथ बैठकों के दौरान पार्टी के पदाधिकारियों से लेकर अलग क्षेत्रीय संगठनों और विधायकों ने राशन बांटे जाने की इस योजना की तारीफ करते हुए सुझाव दिया है कि इसे अगले साल मार्च तक जारी रखना चाहिए। सूत्रों ने बताया कि मुख्यमंत्री ने फीडबैक पर तुरंत प्रतिक्रिया तो नहीं दी लेकिन इसके बाद अपनी टीम के साथ इस पर चर्चा करते हुए एक प्रस्ताव तैयार करने का निर्देश दिया।

सीएम योगी ने अपनी टीम को इसके आर्थिक पक्ष को देखते हुए यह पता लगाने के लिए भी कहा है कि क्या राज्य सरकार द्वारा इस तरह की योजना को लागू किया जा सकता है। केंद्र सरकार की योजना के तहत 3 किलो गेहूं और 2 किलो चावल दिया जाता है। राज्य सरकार इसमें 1 किलो दाल, 1 लीटर तेल और नमक का एक पैकेट जोड़ने की योजना बना रही है।

पढें राज्य समाचार (Rajya News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।