ताज़ा खबर
 

महान व्यक्तित्वों के जन्मदिन पर अब नहीं हुआ करेगी छुट्टी, योगी आदित्य नाथ का ऐलान

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शुक्रवार (14 अप्रैल) को बाब साहेब अंबेडकर के जन्म दिवस पर उनको याद किया।

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शुक्रवार (14 अप्रैल) को बाब साहेब अंबेडकर के जन्म दिवस पर उनको याद किया। इसके लिए वह एक कार्यक्रम में हिस्सा लेने के लिए लखनऊ पहुंचे। वहां उन्होंने कहा कि आने वाले दिनों में किसी भी महान व्यक्तित्व के जन्मदिन पर छुट्टी नहीं हुआ करेगी। इसके अलावा बच्चों को उस दिन उनके बारे में पढ़ाया जाएगा।

योगी ने बाबासाहेब भीमराव अंबेडकर के 126वें जन्मदिन पर आयोजित एक कार्यक्रम में कहा, ‘‘महापुरूषों के जन्मदिन पर स्कूलों में अवकाश नहीं होना चाहिए बल्कि उनके बारे में छात्रों को शिक्षित करने के लिए दो घंटे का विशेष कार्यक्रम आयोजित करना चाहिए।’’ उन्होंने कहा कि बच्चों को महापुरूषों के जीवन, परंपराओं और देश के लिए उनके योगदान के बारे में पढने के लिए प्रेरित करना चाहिए। योगी ने कहा कि उनकी सरकार के शासन में कोई भेदभाव और अन्याय नहीं होगा। सरकार राज्य की 22 करोड़ आबादी की सुरक्षा के लिए प्रतिबद्ध है। किसी को कानून तोड़ने की इजाजत नहीं होगी। उन्होंने कहा कि अंबेडकर देश की कीमत पर राजनीति करने के खिलाफ थे। उत्तर प्रदेश के राज्यपाल राम नाईक ने इस मौके पर अंबेडकर को श्रद्धांजलि देते हुए कार्यक्रम को संबोधित किया।

खबरों के मुताबिक, सबसे ज्यादा छुट्टियां यूपी में होती हैं। साल के 365 दिनों में से यूपी में 192 दिन सरकारी छुट्टियां होती हैं। इनमें सार्वजनिक अवकाश 38 दिन, अर्जित अवकाश-30, कैजुअल अवकाश 15, ऐच्छिक अवकाश-2 और लोकल हॉलीडे 3 दिन होता है।

इससे पहले योगी आदित्य नाथ ने बैसाखी के मौके पर 13 अप्रैल को राज्य में एडवांस एम्बुलेंस सेवा-108 का उद्घाटन किया था। इस मौके पर उन्होंने कहा था कि इस सेवा से राज्यवासियों को लाभ होगा और उनका स्वास्थ्य सुधरेगा। मुख्यमंत्री ने एलान किया था कि हर 15 मिनट पर लोगों को एम्बुलेंस उपलब्ध होगी। योगी आदित्यनाथ ने इस 108 एम्बुलेंस सेवा को जनता के प्रति जवाबदेह बनाने की बात भी कही। उन्होंने कहा कि अगर एम्बुलेन्स में उपकरण नहीं चले तो संचालक पर 10 हजार रुपये का जुर्माना लगेगा।

देखिए संबंधित वीडियो

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App