ताज़ा खबर
 

कानपुर, आगरा और मेरठ में मेट्रो प्रोजेक्ट में रफ्तार, योगी सरकार ने लिया अहम फैसला

उत्तर प्रदेश में प्रस्तावित मेट्रो परियोजनाओं को लेकर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ काफी गंभीर हैं।

Author लखनऊ | Published on: May 25, 2018 3:54 PM
लखनऊ मेट्रो रेल कार्पोरेशन (एलएमआरसी) के अधिकारियों की मानें तो कानुपर, मेरठ और अगरा में मेट्रो परियोजना की डिटेल प्रोजेक्ट रिपोर्ट (डीपीआर) की मंजूरी उप्र सरकार से मिल गई है।

उत्तर प्रदेश में प्रस्तावित मेट्रो परियोजनाओं को लेकर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ काफी गंभीर हैं। लखनऊ मेट्रो रेल कार्पोरेशन (एलएमआरसी) के अधिकारियों की मानें तो कानुपर, मेरठ और अगरा में मेट्रो परियोजना की डिटेल प्रोजेक्ट रिपोर्ट (डीपीआर) की मंजूरी उप्र सरकार से मिल गई है। इसके बाद अब इस डीपीआर को केंद्र सरकार की मंजूरी के लिए भेजा गया है। उम्मीद है कि जल्द ही यह केंद्रीय कैबिनेट में भी पास हो जाएगा। एलएमआरसी के निदेशक कुमार केशव ने आईएएनएस के साथ विशेष बातचीत में इसकी जानकारी दी। उन्होंने कहा, ” उप्र सरकार ने कानपुर, मेरठ और आगरा में मेट्रो के लिए बनाई गई डीपीआर को मंजूरी दे दी है। यह प्रस्ताव अब केंद्र के पास भेज दिया गया है।”

उन्होंने बताया कि केंद्रीय शहरी विकास मंत्रालय की तरफ से मंजूरी मिलने के बाद इस डीपीआर को केंद्रीय कैबिनेट में भेजा जाएगा। कैबिनेट की मंजूरी मिलने के बाद आगे का काम शुरू किया जाएगा। कुमार केशव ने कहा, ” वर्तमान में लखनऊ में प्रस्तावित चारबाग-बसंतकुज कारीडोर के डीपीआर को भी शासन से मंजूरी मिल गई है। जल्द ही यह प्रस्ताव भी मंजूरी के लिए केंद्र भेजा जाएगा। वहां से मंजूरी के बाद इन तीनों शहरों में मेट्रो रेल परियोजना के निर्माण का रास्ता साफ हो जाएगा।”

गौरतलब है कि राज्य सरकार यूपी के बड़े शहरों में मेट्रो चलाने को लेकर गंभीर है। केंद्रीय नीति के आधार पर इसके लिए संशोधित प्रस्ताव तैयार कराए जा रहे हैं। सूत्रों की माने तो मेरठ, कानपुर व आगरा में मेट्रो रेल के लिए संशोधित डीपीआर तैयार किया गया है। केंद्र सरकार 2017 में नई मेट्रो नीति लेकर आई है। केंद्र ने राज्यों को इसके आधार पर डीपीआर बनाकर भेजने को कहा था, उसके बाद ही एलएमआरसी की तरफ से मेरठ, कानपुर और आगरा के लिए डीपीआर भेजा गया है।

आवास एवं शहरी नियोजन विभाग ने केंद्रीय नीति के आधार पर मेट्रो रेल के लिए डीपीआर तैयार कराया है। विभागीय सूत्रों के मुताबिक मेरठ में 32़ 95 किलोमीटर, कानपुर में 32 किलोमीटर और आगरा में 30 किलोमीटर मेट्रो चलेगी। इन तीनों शहरों में मेट्रो के लिए दो कारिडोर बनाए जाएंगे। दोनों कारिडोर का काम वर्ष 2024 में पूरा होने की संभावना है। इन तीनों शहरों में मेट्रो पर करीब चार हजार करोड़ रुपये के करीब खर्च आएगा।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
ये पढ़ा क्या?
X