Yogi adityanath attacks on shiv sena chief Uddhav Thackeray that he does not need to learn manners from him - उद्धव ठाकरे के चप्पल मारने वाले बयान पर योगी आदित्यनाथ का पलटवार, बोले- वो हमें ना सिखाएं - Jansatta
ताज़ा खबर
 

उद्धव ठाकरे के चप्पल मारने वाले बयान पर योगी आदित्यनाथ का पलटवार, बोले- वो हमें ना सिखाएं

पिछले कुछ समय से बीजेपी और शिवसेना के बीच तनाव की स्थिति बनी हुई है। महाराष्ट्र में दोनों पार्टी सत्ता में भले ही एकसाथ है, लेकिन फिर भी दोनों पार्टियों ने नेताओं के बीच तलखी कम होते नजर नहीं आ रही है। शुक्रवार को ठाकरे ने सीएम योगी पर जमकर निशाना साधा था।

यूपी सीएम योगी आदित्यनाथ और उद्धव ठाकरे (एक्सप्रेस आर्काइव फोटो)

शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे के चप्पलों से पीटने वाले बयान पर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यानाथ ने जवाब दे दिया है। सीएम योगी ने कहा है कि उन्हें ठाकरे से शिष्टाचार सीखने की जरूरत नहीं है। इसके साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि उनके अंदर ठाकरे से ज्यादा शिष्टाचार है। समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक यूपी सीएम ने कहा, ‘उन्हें सच्चाई पता नहीं है। उद्धव ठाकरे से शिष्टाचार सीखने की उन्हें कोई जरूरत नहीं है। मेरे अंदर उनसे कहीं ज्यादा शिष्टाचा है और मैं जानता हूं कि कैसे श्रद्धांजलि दी जाती है। मुझे उनसे कुछ भी सीखने की जरूरत नहीं है।’

दरअसल, पिछले कुछ समय से बीजेपी और शिवसेना के बीच तनाव की स्थिति बनी हुई है। महाराष्ट्र में दोनों पार्टी सत्ता में भले ही एकसाथ है, लेकिन फिर भी दोनों पार्टियों ने नेताओं के बीच तलखी कम होते नजर नहीं आ रही है। शुक्रवार को ठाकरे ने सीएम योगी पर जमकर निशाना साधा था। उन्होंने कहा था कि योगी आदित्यनाथ को चप्पलों से पीटना चाहिए। ठाकरे का कहना था कि शिवाजी की प्रतिमा पर माल्यार्पण करते वक्त योगी आदित्यनाथ ने खड़ाऊं पहन रखे थे, उन्होंने ऐसा करके शिवाजी का अपमान किया। इसी मामले पर ठाकरे ने चप्पलों से पीटाई करने जैसी आपत्तिजनक टिप्पणी की।

ठाकरे ने कहा था, ‘ईश्वर के प्रतिरूप शिवाजी महाराज की प्रतिमा के सामने जाने से पहले खड़ाऊं उतारना उनके प्रति सम्मान जाहिर करना है और यह एक सामान्य प्रक्रिया है। योगी ने ऐसा नहीं किया। उनसे और क्या अपेक्षा की जा सकती है? यह शिवाजी महाराज का अपमान है।’ उद्धव ठाकरे ने कहा कि अगर आदित्यनाथ एक योगी हैं तो शिवाजी ‘श्रीमंत योगी’ हैं। इसके अलावा ठाकरे ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी की नई पीढ़ी में हिंदुत्व के आदर्श उन्हें नहीं दिखते। उन्होंने कहा कि सत्ता में आने के बाद बीजेपी में अहंकार आ गया है और 28 मई को होने वाला पालघर लोकसभा उपचुनाव घमंड और वफादारी के बीच फैसला करेगा।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App