ताज़ा खबर
 

सावधान! रेल पटरियों पर ‘यमराज’ की दस्तक, कंधे पर उठा ले जाते हैं लोग

पश्चिम रेलवे के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी रविंदर भाकर ने शुक्रवार को बताया कि यह अभियान अंधेरी और मलाड स्टेशनों पर चलाया गया जो बहुत प्रभावी रहा । इसके बाद इस अभियान को अन्य स्टेशनों पर चलाया जा रहा है।

Author  मुंबई | Updated: November 8, 2019 6:45 PM
रेलवे ट्रैक पर दिख जाते हैं यमराज और कंधे पर बिठा ले जाते हैं लोग

पश्चिम रेलवे ने अवैध रूप से रेल पटरी पार कर अपनी जान जोखिम में डालने वाले लोगों को जागरूक बनाने के लिए एक अनोखी पहल की है। इसके लिए न्याय और मृत्यु के देवता ‘यमराज’ की पोशाक पहने रेलवे सुरक्षा बल के जवानों को स्टेशनों एवं आस पास के इलाकों में ऐसे लोगों को रोकने के लिए तैनात किया गया है। रेलवे के एक अधिकारी ने बताया कि जब कुछ ही दूरी पर मौत का खतरा होता है और लोग शार्ट कट मारने के लिए पटरियों को पार करने की कोशिश करते हैं तो ये कर्मचारी ‘यमराज’ का अभिनय करते हुए ऐसे लोगों को अपने कंधे पर उठा कर ले जाते हैं।

पश्चिम रेलवे के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी रविंदर भाकर ने शुक्रवार को बताया कि यह अभियान अंधेरी और मलाड स्टेशनों पर चलाया गया जो बहुत प्रभावी रहा । इसके बाद इस अभियान को अन्य स्टेशनों पर चलाया जा रहा है। उन्होंने बताया, ‘‘यमराज की वेशभूषा में रेलवे सुरक्षा बल के जवान लोगों को पटरियां पार करने से रोकते हैं।

हम आने वाले दिनों में कुछ इलाकों में ऐसा करेंगे ।’’ मुंबई उपनगरीय ट्रेनों में 70 लाख लोग रोज यात्रा करते हैं और हर रोज आठ से दस लोगों की मौत हो जाती है। भाकर ने बताया कि अक्टूबर 2019 तक पश्चिम रेलवे, रेलवे अधिनियम की धारा 147 के तहत 13 हजार 463 लोगों को सजा सुना चुकी है जो इसी अवधि में पिछले साल की अपेक्षा 30 फीसदी अधिक है।

(इनपुट भाषा)

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 भाजपा, शिवसेना के बीच नहीं हुआ सत्ता साझेदारी का कोई करार: गडकरी
2 डिजिटल प्लेटफॉर्म पर आईं देशभर की वक्फ सम्पत्तियां, 100 % पूरा हुआ डिजिटलीकरणः नकवी
3 सचिन पायलट ने बताया भाजपा-शिवसेना में फूट का कारण, कहा- न तो कांग्रेस जिम्मेदार है और न NCP