ताज़ा खबर
 

दो साल तक होता रहा गैंगरेप, मां बनी तो बच्चे को कर दिया दूर, बेटा मिला तो 26 साल बाद करवाया मुकदमा

पीड़िता के मुताबिक, दुष्कर्म की घटना के करीब छह साल बाद उसकी शादी हो गई, लेकिन किसी तरह उसके पति को उसके साथ हुई घटनाओं का पता चल गया और उसने महिला को छोड़ दिया।

Sexual Abuse, Woman Harassmentपुलिस का कहना है कि इस घटना पर तहरीर लड़की के परिवारवालों के बयान के अनुसार ही दर्ज की गई है। (प्रतीकात्मक फोटो)

उत्तर प्रदेश के बरेली से एक चौंकाने वाला मामला सामने आया है। यहां एक महिला ने 26 साल पुराने गैंगरेप के मामले में अब केस दर्ज कराया है। वह भी अपने बेटे की ओर से जोर दिए जाने पर। बकौल पीड़ित महिला- 1994 में जब वह शाहजहांपुर में अपनी बहन के घर में रहती थी, तब उसके दो रिश्तेदारों ने ही उसके साथ दो साल तक गैंगरेप किया था। करीब एक साल बाद 13 साल की उम्र में ही जब वह प्रेग्नेंट हो गई, तो परिवारवालों ने उसके बच्चे को उससे दूर कर दिया। हालांकि, 26 साल बाद बेटा एक बार फिर अपनी मां से मिला और अब दोनों ने मामले में न्याय पाने के लिए कानून का सहारा लेने की ठानी है।

क्या था पूरा मामला?: पीड़ित महिला के मुताबिक, “1995 में जब वह रिश्तेदारों के गैंगरेप का शिकार होने के बाद गर्भवती हो गई, तो उसने अपनी बहन को सब बताया। लेकिन आरोपियों ने शिकायत पर उसे मारने की धमकी दे डाली।” पीड़िता ने बताया कि इसके बाद परिजनों ने उसका गर्भपात कराने की कोशिश की, लेकिन डॉक्टरों ने छोटी उम्र का जोखिम बताकर ऐसा करने से इनकार कर दिया।

महिला के मुताबिक, इसके बाद उसके जीजा का ट्रांसफर हो गया और वह अपनी बहन के साथ नए शहर पहुंच गई, जहां उसने एक लड़के को जन्म दिया। हालांकि, परिवारवालों ने उसके बच्चे को हरदोई में दूर के रिश्तेदारों को बच्चा दे दिया। इस घटना के करीब छह साल बाद 2000 में उसकी शादी हो गई। हालांकि, किसी तरह उसके पति को उसके साथ हुई दुष्कर्म की घटना का पता चल गया और उसने महिला को छोड़ दिया।

बेटे के जोर देने के बाद लगाई न्याय की गुहार: पुलिस में दर्ज एफआईआर के मुताबिक, इतने सालों तक दूर रहने के बाद पीड़िता के बेटे को किसी तरह पता चल गया कि उसे गोद लिया गया है और उसकी असली मां कौन है। इसके बाद पिछले साल ही लड़का अपनी मां से मिला और अपने पिता के बारे में पूछा। महिला के मुताबिक, पहले तो वह इस बारे में बताने से हिचकीं, लेकिन जब बेटे ने आत्महत्या करने की धमकी दी, तो उन्होंने पूरी घटना के बारे में उसे बता दिया। पीड़िता ने बताया कि उसके 24 साल के बेटे ने उसे न्याय पाने के लिए प्रेरित किया और पुलिस में शिकायत दर्ज कराई। इसी हफ्ते चीफ ज्यूडिशियल मजिस्ट्रेट कोर्ट ने उन्हें एफआईआर दर्ज कराने के आदेश दिए।

Next Stories
1 यूपी: अस्पताल के बाहर बच्ची ने तोड़ा दम, बाल अधिकार आयोग ने कहा- हो कार्रवाई
2 अपने ही कमेंट पर फंस गए प्रशांत किशोर, हुआ सवाल- ट्रोल आर्मी के जनक आप ही हैं? दिया ये जवाब
3 बिहार: सरकारी कार्यक्रम में मंत्री की जगह एक्शन में दिखे उनके भाई, नीतीश कुमार बोले- अनजाने में हो गई गलती, मुझे नहीं था मालूम
ये पढ़ा क्या?
X