ताज़ा खबर
 

बिहार: ‘सुशासन’ को गुंडों का सीधा चैलेंज, DIG से इंसाफ मांगने गई महिला से चलती कार में गैंगरेप

महिला का दुर्भाग्य ये था कि जिस पुलिस अधिकारी से मिलने वो पहुंची थी उससे उसकी मुलाकात भी नहीं हो पाई क्योंकि वो अपने दफ़्तर में मौजूद ही नहीं थे।

इस तस्वीर का इस्तेमाल केवल प्रतीक के तौर पर किया गया है। (फाइल फोटो)

बिहार के पश्चिमी चंपारण में एक महिला के साथ चलती कार गैंगरेप का सनसनीखेज मामला सामने आया है। लगभग 40 साल की ये महिला इंसाफ मांगने के लिए बेतिया रेंज के डीआईजी से मिलने गई थी, लौटते वक्त चार बदमाशों ने महिला के साथ एक चलती हुई SUV में 4 लोगों ने गैंगरेप किया। ये महिला पूर्व चंपारण के तुरकौलिया थाना क्षेत्र की रहने वाली है, और पिपराकोठी के पास बेहोशी की हालत में रविवार को पाई गई थी। महिला का शुरूआती इलाज करने वाले मोतिहारी के सिविल सर्जन ने कहा कि पीड़िता की हालत गंभीर है और उसके शरीर पर कई जगह चोट के निशान हैं, बेहतर इलाज के लिए महिला को पीएमसीएच भेज दिया गया है। मेडिकल जांच में महिला के साथ रेप की पुष्टि हो गई है।

अंग्रेजी वेबसाइट द टेलिग्राफ की एक रिपोर्ट के मुताबिक महिला के एक रिश्तेदार ने बताया कि वो डीआईजी अनिल कुमार सिंह से इंसाफ मांगने गई थी, क्योंकि स्थानीय पुलिस उसके साथ मारपीट के एक मामले में कार्रवाई नहीं कर रही थी। पीड़िता के पड़ोसियों ने एक महीने पहले उसके साथ मारपीट की थी। महिला के मुताबिक मनोज ठाकुर नाम के एक शख्स और उसके तीन साथियों ने उसके साथ गैंगरेप किया। इस महिला के मुताबिक मनोज कुमार ने पहले भी उसके साथ मारपीट किया है।

सूत्रों के मुताबिक पीड़िता बेतिया स्टेशन पर शाम 5 बजे एक ट्रेन का इंतजार कर रही थी, लेकिन ये ट्रेन अपने शेड्युल से कई घंटे लेट चल रही थी। इस बीच मनोज ने महिला को अपने साथ ले चलने का ऑफर दिया, घर पहुंचने में हो रही देरी की वजह से महिला ने उसके साथ चलना स्वीकार कर लिया। लेकिन महिला जब उसके साथ SUV में पहुंची तो वहां 3 लोग पहले से ही मौजूद थे, जबतक महिला कुछ बोल पाती उससे पहले ही बदमाशों ने उसे अपने कब्जे में ले लिया और उसे बेहोश कर दिया, इसके बाद दरिंदों ने एक एक कर उसके साथ रेप किया। पुलिस ने आरोपियों की तलाश शुरू कर दी है। महिला का दुर्भाग्य ये था कि जिस पुलिस अधिकारी से मिलने वो पहुंची थी उससे उसकी मुलाकात भी नहीं हो पाई क्योंकि वो अपने दफ़्तर में मौजूद ही नहीं थे।

अरुण जेटली ने अरविंद केजरीवाल पर ठोका 10 करोड़ रुपये की मानहानि का दूसरा मुकदमा

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App