ताज़ा खबर
 

दिल्ली: किराया पूछा तो छेड़ने लगा रिक्शे वाला, युवती ने बीच सड़क सिखाया सबक

महिला आर्किटेक्ट ने दिल्ली पुलिस पर लापरवाही का आरोप लगाया है। उसका आरोप है कि नई दिल्ली रेलवे स्टेशन के बाहर एक रिक्शे वाले ने उसके साथ छेड़खानी की। वह 45 मिनट तक कथित तौर पर पुलिस से मदद मांगती रही, लेकिन पुलिस से उसे कोई मदद नहीं मिली।

तस्वीर का प्रयोग प्रतीक के तौर पर किया गया है। (एक्सप्रेस फाइल फोटो)

दिल्ली की महिला आर्किटेक्ट ने दिल्ली पुलिस पर लापरवाही का आरोप लगाया है। उसका आरोप है कि नई दिल्ली रेलवे स्टेशन के बाहर एक रिक्शे वाले ने उसके साथ छेड़खानी की। इसके बाद उसने रिक्शे वाले को पीटकर बैठा लिया। वह 45 मिनट तक कथित तौर पर पुलिस से मदद मांगती रही, लेकिन पुलिस से उसे कोई मदद नहीं मिली। पीड़ित महिला ने मीडिया को बताया कि उसने गुरुवार (10 मई) को कश्मीरी गेट से नई दिल्ली मेट्रो स्टेशन तक मेट्रो से यात्रा की थी। इसके बाद उसने पहाड़गंज तक जाने के लिए रिक्शा लेने की कोशिश की। महिला ने बताया, रिक्शा वाले ने उससे पहाड़गंज तक जाने के लिए 200 रुपये मांगे। महिला को महसूस हुआ कि​ रिक्शा वाले ने शराब पी रखी है और वह उसे वहीं छोड़कर आगे बढ़ गई। महिला का आरोप है कि इसके बाद रिक्शे वाला दौड़ता हुआ उसके पास आया और उसे गालियां देने लगा।

महिला के मुताबिक उसने अपनी पानी की बोतल रिक्शे वाले के मुंह पर फेंककर मार दी। इसके बाद वह उसे खींचते हुए नई दिल्ली मेट्रो स्टेशन के गेट पर बने नजदीकी पुलिस चौकी पर ले गई। महिला का दावा है कि चौकी का गेट बंद था। पीड़ित महिला ने रिक्शावाले को कुर्सी पर बैठा दिया। लोग वहां जमा होने लगे। लोग सलाह देने लगे कि यहां से चली जाओ और अपना वक्त बरबाद मत करो।

महिला के मुताबिक उसने दिल्ली पुलिस के हेल्पलाइन नंबर पर फोन किया और मदद मांगी। उससे कहा गया कि वह पांच मिनट में मदद भेज रहे हैं। लेकिन महिला का दावा है कि करीब 45 मिनट तक इंतजार करने के बाद भी कोई पुलिसवाला वहां नहीं आया। महिला ने ये पूरा वाकया ट्विटर पर साझा किया है।महिला का दावा है कि पुलिस के न आने के बाद उसने लाठी से रिक्शावाले की जमकर धुनाई की। महिला के मुताबिक उसने तब तक रिक्शा वाले को धुना, जब तक उसके हाथ से खून नहीं निकलने लगा और उसने माफी मांगना शुरू नहीं कर दिया। मैं रुकना नहीं चाहती थी लेकिन मेरे भीतर के इंसान ने मुझे उसे पीटने से रोक लिया। मैंने लाठी फेंक दी और चली गई। इसके बाद भी पुलिस मुझे कहीं दिखाई नहीं दी।

दिल्ली पुलिस ने महिला के ट्वीट पर जवाब देते हुए उससे उसकी कॉल की डिटेल मांगी है। दिल्ली पुलिस ने ट्वीट किया,’कृपा करके हेल्पलाइन नंबर जिस पर आपने कॉल किया था, ठीक तारीख और समय के साथ हमें बताइए, ताकि हम अपनी तरफ से जरूरी कार्रवाई कर सकें।’ वहीं ट्विटर यूजर्स ने इस मामले में पुलिस के रवैये की आलोचना की है जबकि महिला के साहस की तारीफ सभी कर रहे हैं। वहीं समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक दिल्ली पुलिस ने महिला की शिकायत पर कार्रवाई करते हुए दो पुलिस कर्मियों को सस्पेंड कर दिया है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App