ताज़ा खबर
 

Maharashtra: बाढ़ से मारे गए 16 लोग, पुणे से सोलापुर और कोल्हापुर तक लबालब भरे हैं सारे बांध

सैकड़ों गांवों में जलजमाव के चलते बाढ़ जैसे हालात बन गए हैं। प्रभावित इलाकों में रेस्क्यू ऑपरेशन भी लगातार जारी हैं। महाराष्ट्र और कर्नाटक के प्रशासन को बाढ़ प्रभावित इलाकों में सेना भी मदद कर रही है।

Author पुणे | August 8, 2019 4:22 AM
प्रतीकात्मक चित्र फोटो सोर्स- इंडियन एक्सप्रेस

महाराष्ट्र के पश्चिमी इलाकों में बुधवार (7 अगस्त) को बाढ़ के चलते मुसीबतें और बढ़ गईं। यहां प्रभावित इलाकों से लगभग 1.32 लाख लोगों को सुरक्षित स्थानों पर शिफ्ट किया गया। भारी बारिश का सबसे ज्यादा असर कोल्हापुर और सांगली जिलों में देखने को मिला। प्राप्त जानकारी के मुताबिक पुणे, सतारा, सांगली, सोलापुर और कोल्हापुर के सभी बांध पूरी तरह से लबालब हैं। पुणे में नदी किनारे बसे सभी गांवों में अलर्ट जारी कर दिया गया है। इन जिलों में अब तक बाढ़ के चलते 16 लोगों की जान जा चुकी है।

सांगली में सबसे ज्यादा बारिशः पुणे डिविजन के कमिश्नर दीपक महैसेकर के आधिकारिक बयान के मुताबिक, ‘मृतकों में चार लोग पुणे, सात सतारा, दो सांगली, दो कोल्हापुर और एक सोलापुर से हैं। राज्य में कुल 28,397 परिवारों के 1,32,360 लोगों को शिफ्ट किया गया है।’ सबसे ज्यादा बारिश सांगली में हुई। इसके बाद सतारा और पुणे का नंबर रहा। सांगली, सतारा और कोल्हापुर में सभी स्कूल-कॉलेज बुधवार को भी बंद रहे।

सेना के 1 हजार जवान कर रहे रेस्क्यूः इन जिलों के सैकड़ों गांवों में जलजमाव के चलते बाढ़ जैसे हालात बन गए हैं। प्रभावित इलाकों में रेस्क्यू ऑपरेशन भी लगातार जारी हैं। महाराष्ट्र और कर्नाटक के प्रशासन को बाढ़ प्रभावित इलाकों में सेना भी मदद कर रही है। डिफेंस के पीआरओ के मुताबिक, ‘सेना के लगभग 1 हजार जवान बेलगाम, बगलकोट, रायचुर, रायगढ़, कोल्हापुर और सांगली जिलों में रेस्क्यू में जुटे हैं।’

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़णवीस ने बाढ के हालात का जायजा लेने के लिए अधिकारियों की एक बैठक भी बुलाई। अलग-अलग जिलों से आए अधिकारियों ने मुख्यमंत्री से चर्चा की और सुरक्षा के उपाय जाने। बता दें कि लंबे समय तक मॉनसून ने प्रदेश की राजधानी मुंबई के लोगों पर भी खूब कहर ढाया। हाल ही में मुंबई और पुणे के बीच एक ट्रेन महालक्ष्मी एक्सप्रेस के जल सैलाब के बीच फंसने की खबर सामने आई थी।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 Prayagraj: बाबा रामदेव बोले- भगवान राम के वंशज हैं मुसलमान, साथ मिलकर बनाएं मंदिर
2 जम्मू-कश्मीर में जवानों को समझाते नजर आए NSA अजीत डोभाल, कहा- आप लोगों का कोई मुकाबला नहीं
3 आइएफएस अधिकारी पांच दिनों से लापता