ताज़ा खबर
 

बंगाल: हिंसक हुआ प्रदर्शन, दो की गई जान, पुलिस की दस गाड़ियां आग के हवाले

बंगाल में पॉवर प्रोजेक्ट को लेकर हो रहे विरोध प्रदर्शन ने मंगलवार (17 जनवरी) को हिंसक रूप ले लिया।

बंगाल के 24 परनगना में प्रदर्शन करते लोगों की तस्वीर।

बंगाल में पॉवर प्रोजेक्ट को लेकर हो रहे विरोध प्रदर्शन ने मंगलवार (17 जनवरी) को हिंसक रूप ले लिया। उस हिंसा में दो लोगों की मौत भी हो गई। प्रदर्शन कर रहे लोगों का आरोप है कि पुलिस की गोली से जानें गई। वहीं पुलिस का कहना है कि उनकी तरफ से गोली चलाई ही नहीं गई। प्रदर्शन में शख्स की जान जाने के अलावा लगभग पुलिस की दस गाड़ियां भी आग के हवाले की गई। जिन लोगों की जान गई उसमें से एक का नाम मुफीजुल अली खान था। 26 साल का मुफीजुल कोलकाता के पास का ही रहने वाला था। हॉस्पिटल ने कहा कि मुफीजुल की पीठ पर गोली का जख्म मिला। मौत ही वजह ज्यादा खून बह जाना बताया गया।

पुलिस ने अपने बचाव में कहा है कि बेकाबू भीड़ ने उनकी लगभग दस गाड़ियों को आग लगा दी। पुलिस ने यह भी कहा कि गोलियां भी पुलिस ने नहीं बल्कि भीड़ की तरफ से ही चलाई गई थीं। पुलिस ने आगे बताया कि वह किसी बाहर के शख्स और माओवादी लोगों के शामिल होने के एंगल से भी मामले की जांच कर रही है।

बंगाल का भानगर इलाका पिछले साल के अक्टूबर से जल रहा है। दरअसल वहां पश्चिम बंगाल और बिहार के एक हिस्से में पॉवर ग्रिड लगाने की बात हुई थी। जिसका किसानों ने विरोध किया। 2013 में वहां की 13 एकड़ जमीन ली गई थी। लेकिन बाद में किसानों ने विरोध करना शुरू किया।

किसानों ने आरोप लगाया कि उन्हें मार्केट वेल्यू के हिसाब से पैसा नहीं दिया गया। तब से किसान अपनी जमीन वापस मांग रहे हैं। फिलहाल काम रुका हुआ है। पुलिस ने कुछ लोगों को हिरासत में भी लिया है। जिसमें से एक का नाम कालू शेख है।

बंगाल: ज़मीन को लेकर हिंसक हुआ प्रदर्शन, 2 लोगों की मौत

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App। जनसत्‍ता टेलीग्राम पर भी है, जुड़ने के ल‍िए क्‍ल‍िक करें।

Next Stories
1 नोटबंदी से मुर्शिदाबाद में तीन लाख मजदूरों की रोजी गई
2 नबन्ना भवन के बाहर से सेना हटी, कल रात से अब तक बाहर नहीं आईं सीएम ममता बनर्जी
ये पढ़ा क्या?
X