ताज़ा खबर
 

पीएम मोदी के हेलीपैड की खातिर पेड़ कटवा दिए, टीएमसी ने बीजेपी नेताओं के खिलाफ कराया केस

"सत्ताधारी पार्टी हमें परेशान करने के लिए किसी भी हद तक जा सकती है। यह पहली बार नहीं है जब पुलिस हम पर झूठे केस चला रही है। कोंटाई में हमारे कार्यकर्ताओं पर रैली के बाद हमला किया गया और पीटा गया।"

Author February 4, 2019 10:58 AM
अमित शाह और ममता बनर्जी (फोटो सोर्स : Express Group Photo)

नॉर्थ 24 परगना के ठाकुरनगर में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की जनसभा के एक दिन बाद, जिला तृणमूल कांग्रेस ने हेलीपैड बनाने के लिए पेड़ काटने पर भाजपा नेताओं के खिलाफ पुलिस में शिकायत दर्ज कराई है। इस बीच, पूर्वी मिदनापुर के कोंटाई में एक रैली में अपने हालिया भाषण के दौरान भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह और अन्य नेताओं के खिलाफ “हिंसा भड़काने” का प्रयास करने के आरोप में एक और मामला दर्ज किया गया। हालांकि, उत्तर 24 परगना और पूर्वी मिदनापुर के पुलिस अधिकारी इस मुद्दे पर कुछ बोलने से बचते दिखे।

राज्य के खाद्य मंत्री और गायघाटा से विधायक ज्योतिप्रिय मल्लिक ने कहा, हमने मुकुल रॉय सहित भाजपा नेताओं के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई है। स्थानीय लोगों द्वारा एक सामूहिक याचिका भी प्रस्तुत की गई है। ठाकुरनगर में मोदी के लिए एक हेलीपैड बनाने के लिए भाजपा नेताओं ने बिना अनुमति के दर्जनों पेड़ काट दिए। गिरे पेड़ों को लगाना गैरकानूनी है। हमने पुलिस को तत्काल कार्रवाई करने के लिए कहा है। प्रधानमंत्री की जनसभा शनिवार को नामसुद्र (एससी) मटुआ आंदोलन के केंद्र, ठाकुरनगर में आयोजित की गई थी। आयोजन स्थल के पास आयोजकों द्वारा पीएम के हेलीकॉप्टर को उतरने के लिए एक हेलीपैड बनाया गया था।

इस बीच, कोंताई के शेरपुर गांव के निवासी अतनु गिरि द्वारा दायर एक शिकायत के आधार पर, पुलिस ने शाह और अन्य भाजपा नेताओं के खिलाफ “उनके भाषण के माध्यम से हिंसा भड़काने का प्रयास” करने के लिए एक प्राथमिकी दर्ज की। शिकायत के बाद, पुलिस ने आईपीसी की धारा 500 (मानहानि), 503 (आपराधिक धमकी), 504 (भड़काऊ भाषण), 427 (नुकसान पहुंचाने वाले दुराचार), 436, 153 ए (धर्म, जन्म स्थान आदि के आधार पर विभिन्न समूहों के बीच दुश्मनी को बढ़ावा देना) के तहत मामला दर्ज किया है। 30 जनवरी को टीएमसी और भाजपा के कार्यकर्ता कोंटाई में शाह की रैली के बाद भिड़ गए, जिसमें दर्जनों घायल हो गए। भाजपा कार्यकर्ताओं को ले जा रही बसों और अन्य वाहनों पर हमला किया गया और तोड़फोड़ की गई, जबकि एक टीएमसी कार्यालय में तोड़फोड़ की गई। बाद में पुलिस ने इस मामले में 11 लोगों को गिरफ्तार किया।

भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष दिलीप घोष ने कहा कि सत्ताधारी पार्टी हमें परेशान करने के लिए किसी भी हद तक जा सकती है। यह पहली बार नहीं है जब पुलिस हम पर झूठे केस चला रही है। कोंटाई में हमारे कार्यकर्ताओं पर रैली के बाद हमला किया गया और पीटा गया। उन्हें ले जा रही बसों में तोड़फोड़ की गई। अब अचानक हमारी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष और हममें से कुछ के खिलाफ शिकायत दर्ज की गई है। हमें पता चला है कि पुलिस ने एक केस शुरू किया है। हम बंगाल में और क्या उम्मीद कर सकते हैं जहां पुलिस तृणमूल कांग्रेस के हाथों में एक टूल बन गई है। हमने यह भी सुना है कि पेड़ों की कटाई के लिए शिकायत दर्ज की गई है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App