ताज़ा खबर
 

बंगाल में अच्छे मुसलमान से नहीं पड़ा है ममता बनर्जी पाला, TMC के आरोप पर ओवैसी बोले- मुझे पैसे से कोई खरीद नहीं सकता

ममता बनर्जी ने कहा था कि भाजपा असदुद्दीन की पार्टी को पश्चिम बंगाल में लाना चाहती है जिससे कि ध्रुवीकरण हो सके। असद ने उन्हें जवाब दिया है।

mamata banarjee, asaduddin owaisiअसदुद्दीन ओवैसी ने ममता बनर्जी पर किया पलटवार

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने असदुददीन पर आरोप लगाया था कि वह भाजपा की मदद करने के लिए पश्चिम बंगाल में आना चाहते हैं जिससे की ध्रुवीकरण हो सके। ओवैसी ने ममता को जवाब देते हुए कहा है कि कोई ऐसा इंसान पैदा नहीं हुआ जो ओवैसी को खरीद सके। उन्होंने कहा कि ममता बनर्जी का पाला अभी तक किसी सच्चे मुसलमान से नहीं पड़ा है।

ओवैसी ने कहा, ‘जब गुजरात में इतना बड़ा फसाद हुआ तो वह एनडीए का हिस्सा थीं। उनका पाला अभी तक मीर जाफर से पड़ा है। सच्चे मुसलमान से पाला नहीं पड़ा लेकिन पड़ जाएगा। दुनिया में कोई इतना बड़ा इंसान पैदा नहीं हुआ जो कि दौलत से मुझे खरीद सके। यह इनकी बौखलाहट है। ममता बनर्जी को अपने घर की फिक्र करनी चाहिए। इतने लोग उनके बीजेपी में जा रहे हैं वह उसकी फिक्र करें। ममता बनर्जी को हम सलाह देना चाहते हैं कि उन्होंने जिस तरह बीजेपी का मुकाबला किया, बिहार के वोटर्स की बेइज्जती की है। जो लोग हमको वोट दिए हैं, उनकी तौहीन कर रही हैं। उनकी पार्टी में बहुत गड़बड़ है इसलिए पार्टी का गुस्सा ओवैसी से निकाल रही हैं।’

ममता बनर्जी ने कहा था कि बीजेपी एआईएमआईएम को पश्चिम बंगाल में लाना चाहती है जिससे कि हिंदू-मुस्लिम वोट उनके बीच बंट जाए। बता दें कि बिहार में अच्छा प्रदर्शन करने के बाद AIMIM ने पश्चिम बंगाल के चुनाव में भी उतरने की घोषणा की थी। बिहार में पार्टी ने पांच सीटों पर जीत हासिल की।

बनर्जी ने एक रैली में कहा था, ‘मुस्लिम वोटों को बांटने के लिए हैदराबाद की एक पार्टी को लाने के लिए भाजपा करोड़ों रुपये खर्च कर रही है। हिंदू वोटों को भाजपा के पाले में लाने और मुस्लिम वोटों को हैदराबाद की पार्टी को दिलाने का प्लान है।’ पश्चिम बंगाल में चुनाव नजदीक है और यहां कई जगहों पर हिंसा की खबरें भी मिल रही हैं। इसी को लेकर चुनाव उपायुक्त सुदीप जैन ने राज्य का दौरा किया था। बीजेपी ने राज्य में हिंसा और धमकियों के आरोप लगाए हैं। पिछले दिनों बीजेपी अध्यक्ष पर पत्थऱबाजी की भी घटना सामने आई थी।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 TMC को झटका! ममता के करीबी मंत्री शुभेंदु अधिकारी का इस्तीफा, चल रहे थे खफा