ताज़ा खबर
 

शिवसेना ने ममता बनर्जी को ‘बंगाल की बाघिन’ बताया

पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव में प्रतिद्वंद्वी भाजपा के साथ कड़े मुकाबले के बाद तृणमूल कांग्रेस के पास ही सत्ता बरकरार रहने के आसार नजर आने के उपरांत शिवसेना के सांसद संजय राउत ने रविवार को ममता बनर्जी को ‘बंगाल की बाघिन’ बताते हुए उनकी प्रशंसा की।

शिव सेना के राज्यसभा सदस्य संजय राउत ने कहा, ‘हमें ममता दीदी को बधाई देनी है कि उन्होंने भाजपा की चुनौती को स्वीकार किया और वह एक ही सीट से चुनाव लड़ीं। भाजपा ने उन्हें हराने के लिए कठिन परिश्रम किया और काफी धन लगाया लेकिन ममता को पराजित करना आसान नहीं है।’

पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव में प्रतिद्वंद्वी भाजपा के साथ कड़े मुकाबले के बाद तृणमूल कांग्रेस के पास ही सत्ता बरकरार रहने के आसार नजर आने के उपरांत शिवसेना के सांसद संजय राउत ने रविवार को ममता बनर्जी को ‘बंगाल की बाघिन’ बताते हुए उनकी प्रशंसा की। राउत ने कहा, ‘भाजपा ने कठिन परिश्रम किया और पश्चिम बंगाल में चुनावों में काफी पैसा लगाया लेकिन बनर्जी को हराना आसान नहीं है।’

पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव के लिए चल रही मतगणना के रुझानों में तृणमूल कांग्रेस को बड़ी जीत मिलने के संकेतों के बीच राज्यसभा सदस्य ने ट्वीट किया, ‘बंगाल की बाघिन को बधाई।’ राउत ने यहां संवाददाताओं से यह भी कहा कि अब सभी लोग राजनीतिक आंकड़ों के बजाय कोविड-19 के आंकड़ों में वृद्धि से ज्यादा चिंतित हैं।

महाराष्ट्र में कांग्रेस एवं राकांपा के साथ गठबंधन में सत्तासीन में शिवसेना ने पश्चिम बंगाल चुनाव नहीं लड़ा था बल्कि उसने बनर्जी को अपना समर्थन दिया था। राउत ने कहा कि पुदुचेरी और तमिलनाडु छोड़कर किसी भी अन्य राज्य में राजनीतिक परिदृश्य में बदलाव नहीं होगा। राज्यसभा सदस्य ने कहा, ‘हमें ममता दीदी को बधाई देनी है कि उन्होंने भाजपा की चुनौती को स्वीकार किया और वह एक ही सीट से चुनाव लड़ीं। भाजपा ने उन्हें हराने के लिए कठिन परिश्रम किया और काफी धन लगाया लेकिन ममता को पराजित करना आसान नहीं है।’ शिवसेना प्रवक्ता ने कहा, ‘हमें कोई शक नहीं है कि तृणमूल पश्चिम बंगाल में अगली सरकार बनाएगी।

Next Stories
1 ‘बाहरी’ और ‘बंगाली अस्मिता’ के मुद्दों ने कर दिया ‘खेला’
2 पश्चिम बंगाल में ओवैसी के साथ हो गया ‘खेला’, AIMIM के सातों उम्मीदवारों की जमानत जब्त
3 सियासी भागदौड़ में धरे रह गए किसानों के असल मुद्दे
यह पढ़ा क्या?
X