ताज़ा खबर
 

पुतला फूंकने से रोका तो लेफ्ट प्रदर्शनकारियों ने पुलिस अफसर पर ही उड़ेल दिया केरोसिन तेल, की जलाने की कोशिश

पुलिस ने सोमवार की रात ही दो माकपा नेताओं पार्थ मैत्र और सुब्रत चक्रवर्ती को गिरफ्तार किया है। इसके अलावा करीब 10 अन्य आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए छापे मारे जा रहे हैं। माकपा के कार्यालय अनिल विश्वास भवन के सामने भी पुलिस ने घेराबंदी की हुई है।

पलिस का विरोध करते माकपा के कार्यकर्ता। एक्सप्रेस आर्काइव। (प्रतीकात्मक तस्वीर)

पश्चिम बंगाल के सिलीगुड़ी में माकपा के कार्यकर्ताओं ने पुलिस अफसर पर केरोसिन तेल डालकर जलाने की कोशिश की। हालांकि मौके पर मौजूद पुलिस के सिपाहियों ने अफसर को बचाया और तेल छिड़कने के आरोपी दो लोगों को गिरफ्तार कर लिया। ये माकपा कार्यकर्ता पश्चिम बंगाल के दिनाजपुर जिले के इस्लामपुर में पुलिस फायरिंग में दो छात्रों की मौत के विरोध में प्रदर्शन कर रहे थे।

इस्लामपुर में पुलिस की कथित फायरिंग से दो छात्रों की मौत पर विरोध-प्रदर्शन करने के लिए माकपा कार्यकर्ता सिलीगुड़ी में जमा हुए थे। सोमवार (24 सितंबर) को आयोजित किए गए इस प्रदर्शन के लिए माकपा कार्यकर्ता मुख्यमंत्री ममता बनर्जी का पुतला लेकर आए थे। कार्यकर्ताओं की तैयारी इस पुतले को फूंकने की थी। जब कार्यकर्ता इस पुतले पर केरोसिन डालकर फूंकने के लिए लाए। इसी बीच पुलिस ने इस पु​तले को छीनने की कोशिश की। पुलिस के पुतला छीनने पर कार्यकर्ताओं ने पुलिस अफसरों पर ही केरोसिन​ छिड़क दिया। उन्हें जलाने की कोशिश भी की गई।

पुलिस के सिपाहियों ने किसी तरह से अफसरों को वहां से बचाकर निकाला। इसके बाद पुलिस ने सोमवार की रात ही दो माकपा नेताओं पार्थ मैत्र और सुब्रत चक्रवर्ती को गिरफ्तार किया है। इसके अलावा करीब 10 अन्य आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए छापे मारे जा रहे हैं। माकपा के कार्यालय अनिल विश्वास भवन के सामने भी पुलिस ने घेराबंदी की हुई है।

माकपा कार्यकर्ताओं की गिरफ्तारी एसीपी ईस्ट अचिंत दासगुप्त की छापामारी में हुई है। स्थानीय मीडिया ने पुलिस अधिकारियों के हवाले से लिखा है कि घटना के समय मौके पर मेयर और विधायक अशोक नारायण भट्टाचार्य और जीवेश सरकार भी मौजूद थे। पुलिस ने इस मामले में 10 से ज्यादा लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया है। पुलिस ने इस प्रदर्शन की वीडियोग्राफी भी करवाई थी।

कार्यकर्ताओं को पुलिस के द्वारा गिरफ्तार किए जाने की माकपा नेता अशोक नारायण भट्टाचार्य ने कड़ी निंदा की है। उन्होंने स्थानीय मीडिया से बातचीत करते हुए कहा कि माकपा ऐसी पुलिस कार्रवाइयों से डरने वाली नहीं है। कार्यकर्ता फिर से सड़क पर उतरकर पुलिस के अत्याचारों का विरोध करेंगे। इस्लामपुर के बाद सिलीगुड़ी में भी पुलिस और माकपाइयों का संघर्ष जोर पकड़ने लगा है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App