ताज़ा खबर
 

भड़कीं ममता बनर्जी, नरेंद्र मोदी को बताया तुगलक, बोलीं- हमारे यहां पाकिस्तानी कलाकारों का भी स्‍वागत, हम दिखाएंगे पद्मावती

तमतमायी ममता बनर्जी ने कहा, 'आप (केन्द्र) कंपनियों को कहते हैं कि पश्चिम बंगाल में निवेश नहीं करें, वे बंगाल आना नहीं चाहते हैं, हमारे प्रोजेक्ट्स पेंडिंग पड़े हुए हैं?'
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (फाइल फोटो)

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी शुक्रवार (24 नवंबर) को पीएम नरेंद्र मोदी से बेहद खफा नजर आईं। ममता बनर्जी ने पीएम मोदी को ‘तुलगक’ करार दिया। कोलकाता में इंडिया टुडे कॉन्क्लेव ईस्ट 2017 में अपना संबोधन देते वक्त ममता बनर्जी आक्रामक अंदाज में दिखीं। ममता बनर्जी ने पीएम मोदी को तुलगक तो कहा ही, साथ ही ये भी आरोप लगाया कि केन्द्र सरकार उद्योगपतियों को पश्चिम बंगाल में कल-कारखाने नहीं लगाने के लिए उकसा रही है। इंडिया टुडे की रिपोर्ट के मुताबकि ममता बनर्जी ने कहा, ‘ जीएसटी संसद में ध्वनि मत से पास कर दिया गया, हम कहते रहे जीएसटी को जल्दबाजी में मत पास करिए…क्या आप मुहम्मद बिन तुगलक हैं? क्या आपकी जो मर्जी है आप वो करेंगे? केन्द्र पर हमला करते हुए तमतमायी ममता बनर्जी ने कहा, ‘आप (केन्द्र) कंपनियों को कहते हैं कि पश्चिम बंगाल में निवेश नहीं करें, वे बंगाल आना नहीं चाहते हैं, हमारे प्रोजेक्ट्स पेंडिंग पड़े हुए हैं, इन प्रोजेक्ट्स को क्लियर क्यों नहीं किया जा रहा है?’

ममता बनर्जी ने कहा कि देश में सुपर इमरजेंसी का दौर चल रहा है। हर उद्योगपति पर निगाह रखी जा रही है, ऐसी हालत में कैसे काम करेंगे, सारी मीडिया पर भी नजर रखी जा रही है। ममता बनर्जी ने देश के बुनियादी स्वरुप को-ऑपरेटिव फेडरलिज़म पर भी सवाल उठाए। सीएम ममता बनर्जी देश में चल रहे पद्मावती विवाद पर भी बोलीं। ममता ने पद्मावती के निर्देशक संजय लीला भंसाली को न्यौता दिया और कहा कि अगर वह देश में कहीं भी अपनी फिल्म पद्मावती को प्रदर्शित नहीं कर सकते तो उनका पश्चिम बंगाल में स्वागत है। ममता ने कहा कि वे अपनी फिल्म का प्रीमियर बंगाल में कर सकते हैं। ममता यहीं नहीं रुकीं, उन्होंने कहा कि रचनात्मकता को सीमा में बांधा नहीं जा सकता है, अगर पाकिस्तान के भी कलाकार यहां आने चाहते हैं तो कला-संस्कृति की इस धरती पर उनका भी स्वागत है।

नोटबंदी के मुद्दे पर भी ममता बनर्जी बीजेपी सरकार पर बरसीं। उन्होंने कहा कि देश के वित्त मंत्री को भी इस फैसले की जानकारी नहीं दी गई। ममता ने कहा कि पीएम ने नोटबंदी से आतंक की घटनाओं में कमी होने का दावा किया था, लेकिन कश्मीर में आतंकवाद 12 फीसदी बढ़ गया है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. A
    AK
    Nov 25, 2017 at 5:09 am
    Mamta Banerjee is progressive leader who believes in freedom of expression and peoples power. This is precisely the reason for inviting Bhansali. However, please don't ask about Taslima Nasrin who is not allowed to enter WB and ban on her books.
    (0)(0)
    Reply