ताज़ा खबर
 

पत्नी पर अश्लील कमेंट्स का बीएसएफ जवान ने किया विरोध, रात को घर में घुसे बदमाशों ने बीवी से छेड़खानी के बाद की पिटाई

पीड़ित जवान को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है, जहां उसकी हालत स्थिर बताई जा रही है। बीएसएफ जवान की पहचान बब्लू दास के रूप में हुई है। वह बीएसएफ की 173 बटालियन में है और जम्मू के सांबा सेक्टर में तैनात है।

बर्बरता के बाद महिला की मौत, कैदियों ने काटा हंगामा। (Representative Image)

पश्चिम बंगाल के नदिया जिले में बॉर्डर सिक्योरिटी फोर्स (BSF) के एक जवान से पत्नी के साथ हुई छेड़छाड़ का विरोध करने पर मारपीट का मामला सामने आया है। जवान ने पत्नी के साथ छेड़छाड़ करने पर हमलावरों को चेतावनी दी थी। जिससे गुस्साए हमलावरों ने उन पर अटैक कर दिया और मारपीट की। यह घटना रविवार को उस समय सामने आई जब बीएसएफ जवान और उसकी पत्नी मार्केट जा रहे थे। इस दौरान नशे में धुत कुछ लोगों ने महिला के लिए भद्दे और अश्लील कमेंट्स पास किए। इसका जवान ने विरोध किया और छेड़छाड़ करने वालों से दूर रहने को कहा। जवान की चेतावनी से गुस्साए हमलवार उस समय तो वहां से चले गए। लेकिन रात में उन्होंने जवान के घर पर धावा बोल दिया। आरोपियों ने जवान के घर में घुस गए और पत्नी से छेड़छाड़ की कोशिश की। यही नहीं जवान और उसकी पत्नी के साथ मारपीट भी की।

पीड़ित जवान को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है, जहां उसकी हालत स्थिर बताई जा रही है। बीएसएफ जवान की पहचान बब्लू दास के रूप में हुई है। वह बीएसएफ की 173 बटालियन में है और जम्मू के सांबा सेक्टर में तैनात है। वह छुट्टियों पर नदिया आया हुआ था जिस समय उसके ऊपर हमला हुआ। पुलिस ने इस मामले में शिकायत दर्ज कर ली है। हालांकि इस मामले में अभी तक किसी की गिरफ्तारी नहीं हो सकी है।

गौरतलब है कि पूरे देश भर में आए दिन छेड़छाड़ की घटनाएं सामने आती रहती हैं। साल 2013 में भारतीय दंड संहिता (आईपीसी) में बदलाव किया गया था। इसमें सेक्शन 354 के तहत छेड़खानी और पीछा किए जाने को अपराध माना गया था। इस बदलाव में 354D के नाम से एक धारा जोड़ी गई, जो छेड़खानी और पीछा करने के अपराध से संबंधित है। कोई आदमी जो किसी लड़की का पीछा करता है, उससे संपर्क करता है या उससे जबरदस्ती बात करने की कोशिश करता है। तो वो अपराध की कैटगरी में आता है। हालांकि इसके बाद भी छेड़खानी की घटनाओं में ज्यादा कमी देखने को नहीं मिली। महिलाओं के साथ छेड़छाड़ और हिंसक वारदातों के बाद देश भर में उनकी सुरक्षा को लेकर सवाल उठते रहे हैं।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 ट्रेन के कोच में पकड़े गए 35 बैगों में छिपाकर रखे गए 1500 कछुए, आरपीएफ ने 3 लोगों को किया अरेस्ट
2 दो अंतरराष्ट्रीय संधियों पर ममता बनर्जी का अड़ंगा, तीस्ता नदी जल बंटवारा और पद्मा नदी बांध परियोजना अटकी
3 पश्चिम बंगाल- जीते-जी इतिहास बन रही हैं ममता बनर्जी, सरकारी स्कूलों में पढ़ाया जाएगा सिंगुर आंदोलन
यह पढ़ा क्या?
X