बंगाल: रथयात्रा से पहले बीजेपी अध्‍यक्ष ने कुत्‍तों, सांपों से कर डाली टीएमसी की तुलना

इससे पहले भाजपा अध्यक्ष ने एक कार्यक्रम में टीएमसी के उन कार्यकर्ताओं का एनकांउटर कराने की धमकी दी थी जो भाजपा कार्यकर्ताओं संग मारपीट करते हैं। एक अन्य कार्यक्रम में दिलीप घोष ने टीएमसी कार्यकर्ताओं को शमशान पहुंचाने की कसम खाई थी।

Author Updated: November 25, 2018 10:20 AM
Dilip Ghoshपश्चिम बंगाल भाजपा अध्यक्ष दिलीप घोष। (Express file photo/Partha Paul)

पश्चिम बंगाल में निर्धारित रथ यात्रा से पहले स्टेट बीजेपी चीफ दिलीप घोष ने विवादित बयान दिया है। उन्होंने राज्य की सत्ता पर काबिज टीएमसी की तुलना सांपों और कुत्तों से तक कर डाली। शुक्रवार (23 नवंबर, 2018) को मिदनापुर टाउन में एक पब्लिक रैली को संबोधित करते हुए भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि पुलिस भाजपा को ऐसी रैली और मीटिंग करने के लिए हमेशा मना कर देती है।

उन्होंने कहा, ‘यहां भाजपा को हमेशा रैली और पब्लिक मीटिंग करने के लिए पुलिस द्वारा अनुमति नहीं दी जाती है। मुझे नहीं पता कि वो हमसे इतना क्यों डरे हुए हैं। आपको पता होना चाहिए कि जब डर लगता है तब सांप काटते हैं। इसी तरह जब कुत्ते किसी चीज से डरते हैं वो भी काटते हैं। ठीक उसी तरह टीएमसी भी काटती है जब वो भाजपा से डर जाती है।’

बता दें कि राज्य में भाजपा बड़े पैमाने पर रथयात्रा को कामयाब बनाने के लिए लगातार रैली और पब्लिक मीटिंग करने में जुटी है। ऐसी ही कुछ मीटिंग में भाजपा नेता सत्तापक्ष टीएमसी पर कुछ मुद्दों को लेकर लगातार आक्रमक रहे हैं। इससे पहले उन्होंने एक कार्यक्रम में टीएमसी के उन कार्यकर्ताओं का एनकांउटर कराने की धमकी दी थी जो भाजपा कार्यकर्ताओं संग मारपीट करते हैं। एक अन्य कार्यक्रम में दिलीप घोष ने टीएमसी कार्यकर्ताओं को शमशान पहुंचाने की कसम खाई थी।

घोष की इन टिप्पणियों पर टीएमसी के वरिष्ठ नेता और स्टेट पंचायत मिनिस्टर सुब्रत मुखर्जी ने कहा कि पार्टी ने कभी भाजपा कार्यकर्ताओं पर हमले की धमकी नहीं दी। उन्होंने कहा, ‘हमारी पार्टी ने कब उनके (भाजपा) कार्यकर्ताओं को निशाना बनाया। हम तभी अपनी आवाज उठाते हैं जब भाजपा हमारे खिलाफ अभद्र भाषा का इस्तेमाल करती है। भाजपा कार्यकर्ताओं पर हमले कने का हमारा कतई विश्वास नहीं है।’

Next Stories
1 राजपाट: शह और मात
2 अमित शाह को पश्चिम बंगाल से चुनाव लड़ाना चाहते हैं राज्य बीजेपी प्रमुख, तृणमूल ने दी ‘खुली चुनौती’!
3 कोलकाता: भयंकर आग की चपेट में एपीजे हाउस, कड़ी मशक्‍कत के बाद आग पर पाया काबू
यह पढ़ा क्या?
X