ताज़ा खबर
 

बंगाल और असम से छह आतंकी गिरफ्तार

यह गुट इलाके में आतंकी हमले की योजना बना रहा था। इसके साथ ही बांग्लादेशी युवकों को कट््टरपंथ का पाठ पढ़ाने में भी जुटा था।

Author September 27, 2016 6:01 AM
(representative picture)

कोलकाता पुलिस के स्पेशल टास्क फोर्स (एसटीएफ) ने पूर्वी व पूर्वोत्तर भारत में सक्रिय आतंकी संगठन जमात-उल-मुजाहिदीन बांग्लादेश (जेएमबी) के छह आतंकियों को गिरफ्तार कर देश में बड़े आतंकी हमले की साजिश नाकाम करने का दावा किया है। गिरफ्तार आतंकियों में से तीन बांग्लादेशी नागरिक और तीन बांग्लादेशी मूल के भारतीय नागरिक हैं। दो साल पहले बर्दवान में हुए धमाकों के सिलसिले में पुलिस को इनमें से पांच की तलाश थी। एसटीएफ के संयुक्त आयुक्त विशाल गर्ग ने सोमवार को यहां इसकी जानकारी दी।
गर्ग ने बताया कि यह गुट इलाके में आतंकी हमले की योजना बना रहा था। इसके साथ ही बांग्लादेशी युवकों को कट््टरपंथ का पाठ पढ़ाने में भी जुटा था। उन्होंने कहा कि गुट के सदस्यों का सोशल मीडिया, मोबाइल फोन या कोई तकनीक इस्तेमाल नहीं करने की वजह से पकड़ा जाना मुश्किल था।

फिलहाल पुलिस को कुछ और लोगों की तलाश है। पुलिस अधिकारी के मुताबिक, इस बात की जांच की जा रही है कि गुलशन हमले में उनका हाथ था या नहीं और क्या इस्लामिक स्टेट के साथ उनका कोई संबंध है?पुलिस ने इन आतंकियों के कब्जे से सफेद पाउडर जैसा विस्फोटक जब्त किया है। इसे जांच के लिए भेजा गया है। विस्फोटकों को कोलकाता लाते समय ही इन लोगों को गिरफ्तार किया गया। इसके अलावा बिजली के कई सर्किट और बोर्ड, विस्फोटकों में इस्तेमाल होने वाले सर्किट, फर्जी कागजात, भारत व बांग्लादेश की फर्जी मुद्रा और किसी रूबेल हुसैन के नाम से जारी एक ट्रेड लाइसेंस भी बरामद किया गया है। गर्ग ने बताया कि आतंकियों के कब्जे से रासायनिक तत्वों के अलावा मेमोरी कार्ड, लैपटॉप और कुछ मोबाइल फोन भी बरामद किए गए हैं।

गिरफ्तार लोगों से पूछताछ के लिए राष्ट्रीय जांच एजंसी (एनआइए) की एक टीम भी यहां पहुंचने वाली है। गिरफ्तार लोगों में जेएमबी की बंगाल शाखा का प्रमुख इनाम उर्फ अनवर हुसैन भी शामिल है। इस गिरोह के मौलाना युसूफ पर एनआइए ने दस लाख रुपए का इनाम रखा था। शहीदुल इस्लाम पूर्वोत्तर में जेएमबी का प्रमुख है।  एनआइए को उसकी भी तलाश थी। गिरफ्तार मोहम्मद रूबेल उर्फ रफीक बांग्लादेश के जमालपुर का रहने वाला है। वह बांग्लादेशी युवकों को कट््टरपंथ का पाठ पढ़ा कर प्रशिक्षण के लिए भारत लाता था। उस पर एक लाख का इनाम था। एक अन्य आतंकी मोहम्मद अब्दुल करीम विस्फोटक विशेषज्ञ है। गिरोह का छठा सदस्य जाहिदुल इस्लाम भी बांग्लादेशी नागरिक है। वह बिना किसी पासपोर्ट और वीजा के भारत आया था।

गर्ग ने बताया कि युसूफ और शहीदुल को उत्तर 24 परगना जिले के बसीरहाट इलाके के नतून बाजार से गिरफ्तार किया गया जबकि फारूक और रूबेल को उसी जिले के बनगांव इलाके के बागदा रोड से पकड़ा गया। कलाम को रविवार को कूचबिहार स्टेशन से गिरफ्तार किया गया था। एक अन्य आतंकी जाहिदुल को शनिवार को असम के कछार जिले से पकड़ा गया था।

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App