ताज़ा खबर
 

प. बंगाल: भीड़ ने थाने में आग लगाई, कई पुलिसकर्मी घायल

हमलावर इतने उग्र थे कि थाने के पुलिसकर्मियों को जान बचाने के लिए छुपना पड़ा।

Author कोलकाता | January 29, 2017 3:27 AM
आग।

बर्दवान जिले के आउसग्राम थाने पर शनिवार को लोगों की भीड़ ने हमला कर दिया। हमले के दौरान र्इंट-पत्थर फेंके गए, जिसमें कई पुलिसकर्मी घायल हो गए। भीड़ ने थाने के वेटिंग रूम और कुछ कमरों में आग भी लगा दी। हमलावर इतने उग्र थे कि थाने के पुलिसकर्मियों को जान बचाने के लिए छुपना पड़ा।  घटनास्थल पर पहुंचे बर्दवान जिले के पुलिस अधीक्षक (एसपी) कुणाल अग्रवाल ने कहा ति भीड़ के हमले के बाद मौके पर बड़ी संख्या में पुलिसबलों को भेजा गया। हमले में कई पुलिसकर्मी घायल हुए हैं। इस घटना के सिलसिले में कई लोगों को हिरासत में लिया गया है। बर्दवान रेंज के आइजी राजेश कुमार सिंह भी घटनास्थल पर पहुंच गए हैं।

दरअसल लोगों की भीड़ ने शुक्रवार को आउसग्राम-गुसकरा रोड पर सड़क जाम की थी। प्रदर्शनकारी पुलिस द्वारा स्कूल के तीन शिक्षकों की गिरफ्तारी का विरोध कर रहे थे। उन्होंने यह आरोप भी लगाया कि गिरफ्तार किए गए शिक्षकों के साथ गुसकरा में बदसलूकी की गई। हालांकि जिले के एसपी कुणाल अग्रवाल ने कहा कि शनिवार की घटना के साथ शुक्रवार की घटना का कोई संपर्क नहीं है, क्योंकि यह मामला शांतिपूर्वक निपटा लिया गया था। घटना के सिलसिले में कुछ लोगों की पहचान की गई है। उनसे पूछताछ करने के बाद पता चलेगा कि इसमें कौन शामिल हैं।

इस बीच, विभिन्न टीवी चैनलों पर शनिवार को आउसग्राम थाने के सब-इंस्पेक्टर दीपक राय को घटनास्थल पर उपस्थित दिखाया गया। बड़ी बात यह है कि टीवी चैनल पर राय को रोते हुए घटना का विवरण देते दिखाया गया। राय ने दावा किया कि करीब तीन हजार लोगों ने पुलिसबलों पर हमला किया। उन्होंने कहा कि हमलावरों ने थाने के कुछ कमरे में आग लगा दी और पुलिस वाहन व बैरक को तोड़फोड़ दिया। टीवी चैनल पर राय को रोते हुए यह कहते सुना गया-उन्होंने (हमलावरों) भारी पत्थर फेंके, क्या मैं इसका सामना कर सकता हूं? उन्होंने कहा कि हमले में सात-आठ पुलिसकर्मी घायल हुए हैं। दूसरी ओर, तृणमूल कांग्रेस के स्थानीय विधायक अभेदानंद थंडर ने आरोप लगाया कि इस घटना के पीछे माकपा का हाथ है।

 

बंगाल: ज़मीन को लेकर हिंसक हुआ प्रदर्शन, 2 लोगों की मौत

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App