ताज़ा खबर
 

जादवपुर विश्वविद्यालय की पूर्व छात्रा की रहस्यमय मौत के मामले में पति और सास-ससुर गिरफ्तार

मीता मंडल की शादी छह माह पहले हावड़ा जिला के उलबेड़िया के कुशबेरिया निवासी राणा मंडल नामक एक युवक के साथ हुई थी।

Author कोलकाता | October 19, 2016 6:32 PM
Love, Love affair, Murder, Suicide, Kidnap, 2001 to 2015, Terrorism, Death, One sided love, Crime, Crime news, Latest news, Jansattaलेडी गैंगलीडर ने चाकुओं से गोदकर की हत्या। (प्रतीकात्मक फोटो)

जादवपुर विश्वविद्यालय की पूर्व छात्रा मीता मंडल की ससुराल में हुई रहस्यमय मौत के मामले में दो और लोगों को गिरफ्तार किया गया है। मंगलवार को सीआइडी की ओर से इस बारे में पत्रकारों को जानकारी दी गई। पति और ससुर तो पहले ही पकड़े गए थे, लेकिन सास और देवर फरार हो गए थे। पुलिस ने सास और देवर को भी गिरफ्तार कर लिया है। इसके साथ ही इस मामले में कुल मिलाकर चार लोगों को गिरफ्तार किया गया है।

मालूम हो कि मीता मंडल की मृत्यु के बाद सोशल मीडिया से लेकर सड़क तक लोगों की ओर से नाराजगी जताते हुए दोषियों को सख्त सजा दिलाने के लिए लोगों ने जुलूस निकाला था। मुख्यमंत्री ने मौत के रहस्य से पर्दा उठाने के लिए सीआइडी को जांच के आदेश दिए और सीआइडी की विशेष टीम ने आदेश मिलते ही जांच शुरू कर दी है।  इससे पहले सोमवार को मीता के पिता व परिजनों ने मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने नवान्न में मुलाकात की। उनसे मुख्यमंत्री ने कहा कि दोषियों को नहीं बक्शा जाएगा। इसके साथ ही मुख्यमंत्री ने मृतका के बीमार पिता का सरकारी खर्चे पर इलाज व परिवार के एक व्यक्ति को नौकरी देने का आश्वासन दिया है।

गुवाहाटी: होटल के कमरे के अंदर सीसीटीवी मिला; 2 लोग पुलिस हिरासत में

मालूम हो कि गड़िया के शांति नगर निवासी एवं जादवपुर विश्वविद्यालय की पूर्व छात्रा मीता मंडल की शादी छह माह पहले हावड़ा जिला के उलबेड़िया के कुशबेरिया निवासी राणा मंडल नामक एक युवक के साथ हुई थी। गत मंगलवार तड़के मीता की संदिग्ध अवस्था में मौत हो गई। मृतका के परिवार का आरोप है कि एक लाख रुपए की मांग पूरी नहीं करने पर बेटी की हत्या कर दी गई है। जबकि ससुराल पक्ष ने आत्महत्या करने का आरोप लगाया। पीड़ित परिवार की ओर से दर्ज कराई गई रिपोर्ट के आधार पर पुलिस ने पति राणा मंडल और ससुर विजेंद्र मंडल को गिरफ्तार कर लिया था। इसके बाद सोमवार देर रात मीता के देवर राहुल मंडल और मंगलवार की सुबह सास कल्पना मंडल को उलबेड़िया में एक रिश्तेदार के घर से पकड़ा गया।

मीता मंडल की पोस्टमार्टम रिपोर्ट में गले पर रस्सी का निशान पाया गया। साथ ही एक सुसाइड नोट मिला है जिसमें लिखा है कि मेरे मौत के लिए कोई जिम्मेवार नहीं है। नीचे हस्ताक्षर के रूप में मीता मंडल लिखा है। इससे साफ है कि मीता की मौत फंदे पर लटकने से हुई है। मृतका के कंधे पर भी चोट के निशान पाए गए हैं। रिपोर्ट के अनुसार मौत से पहले बचाव में मीता का किसी के साथ संघर्ष भी हुआ था। नाक और मुंह से खून भी निकला था। जानकारों की माने तो आत्महत्या वाली अवस्था में भी खून निकलने से इन्कार नहीं किया जा सकता। हालांकि अभी यह खुलासा नहीं हुआ है कि मीता ने आत्महत्या की है या उसकी हत्या हुई है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 बंगाल: जंगल से भटक कर आए हाथियों ने बाजार में मचाई तोड़फोड़, दहशत में लोग
2 बंगाल में टाटा की वापसी, राज्य में बड़े निवेश को तैयार
3 पश्चिम बंगाल: कांग्रेस उपचुनाव में नहीं उतारेगी उम्मीदवार
ये पढ़ा क्या?
X