ताज़ा खबर
 

IPL9- इस साल 50 करोड़ के पार पहुंच सकती है दर्शक संख्या: सोनी

इंडियन प्रीमियर लीग के प्रसारक सोनी ने शुक्रवार को कहा कि इस साल इस टी20 क्रिकेट लीग की बीएआरसी टीवी रेटिंग दर्शक संख्या 50 करोड़ के पार पहुंच सकती है।

Author कोलकाता | April 9, 2016 12:18 AM
इंडियम प्रीमियर लीग

 सनराइजर्स हैदराबाद के हरफनमौला युवराज सिंह इंडियन प्रीमियर लीग में पहले दो सप्ताह नहीं खेल सकेंगे क्योंकि वे अभी तक टी20 विश्व कप के दौरान लगी चोट से उबर नहीं सके हैं। सनराइजर्स हैदराबाद के कोच टाम मूडी ने कहा कि युवराज दो सप्ताह तक नहीं खेल सकेगा। हमें नहीं पता कि उसकी चोट कब तक ठीक होगी।
उन्होंने कहा कि युवराज सिंह जैसा खिलाड़ी किसी भी टीम के लिए काफी अहम है। वह बल्ले से ही मैच विनर नहीं है बल्कि बीच के ओवरों में उपयोगी गेंदबाज भी है। नीलामी के समय ही हमें पता था कि हमें अपना मध्यक्रम मजबूत बनाना है। इसीलिए हमने युवराज और दीपक हुड्डा को चुना था। युवराज को आस्ट्रेलिया के खिलाफ टी20 विश्व कप में करो या मरो के मैच में बल्लेबाजी के दौरान चोट लगी थी।

इंडियन प्रीमियर लीग के प्रसारक सोनी ने शुक्रवार को कहा कि इस साल इस टी20 क्रिकेट लीग की बीएआरसी टीवी रेटिंग दर्शक संख्या 50 करोड़ के पार पहुंच सकती है। सोनी पिक्चर्स नेटवर्क इंडिया के कार्यकारी उपाध्यक्ष और व्यवसाय प्रमुख (खेल) प्रसन्ना कृष्णन ने कहा कि पिछली बार टीएएम रेटिंग के तहत आइपीएल दर्शक संख्या 20 करोड़ थी जिसमें सिर्फ शहरी दर्शक शामिल थे। इस बार ग्रामीण दर्शकों को भी शामिल किया गया है जिससे दर्शक संख्या 50 करोड़ पार कर सकती है।
नौ अप्रैल से 29 मई तक होने वाले आइपीएल में आठ टीमें करीब 60 मैच खेलेंगी। सोनी ने यह भी कहा कि आइपीएल के नौवें सत्र से प्रसारण से राजस्व में 15 से 20 फीसद इजाफा होने की उम्मीद है। आइपीएल की हिंदी कमेंट्री सोनी मैक्स और सोनी सिक्स पर प्रसारित होगी जबकि सोनी सिक्स पर तमिल, तेलुगू और बंगाली में भी कमेंट्री होगी। अंग्रेजी में कमेंट्री सोनी ईएसपीएन और ईएसपीएन एचडी चैनलों पर होगी।
बांड ने कहा, हमारे पास हैं मालिंगा के विकल्प
मुंबई। गत चैंपियन मुंबई इंडियंस को भले ही अपने चोटिल तेज गेंदबाज लेसिथ मालिंगा की कमी खलेगी जिनका आइपीएल के पूरे नौवें सत्र में खेलना संदिग्ध लग रहा है लेकिन टीम को पूरा भरोसा है कि उनके पास इस श्रीलंकाई गेंदबाज की जगह भरने के लिए कई अन्य सक्षम खिलाड़ी मौजूद हैं।

मुंबई इंडियंस के गेंदबाजी कोच शेन बांड ने शुक्रवार को कहा कि फ्रेंचाइजी के मालिक और मुख्य कोच रिकी पोंटिंग ने टीम में कुछ तेज गेंदबाजों को शामिल करके अच्छा काम किया है। इसलिए हमारे पास उसका कवर मौजूद है। अगर वह फिट होता है तो वह निश्चित रूप से हमारी टीम में शामिल हो जाएगा। अगर ऐसा नहीं होता है तो हमारे पास उसके लिए अच्छे कवर खिलाड़ी मौजूद हैं।
मालिंगा कम से कम राउंड रोबिन चरण के पहले हिस्से में तो नहीं ही खेलेंगे। बांड ने कहा कि किसी की भी चोट से टीम में कुछ नहीं बदलता। जहां तक आइपीएल की बात है तो टीम में 16 खिलाड़ी होते हैं इसलिए आप सिर्फ एक ही खिलाड़ी पर निर्भर नहीं रह सकते।

आइपीएल फैन पार्क 34 शहरों में
नई दिल्ली। आइपीएल फैन पार्क देश के 34 शहरों में बनाए जाएंगे जिसमें इस टी20 क्रिकेट लीग के दौरान प्रति मैच 10000 लोग जमा हो सकेंगे। पिछले साल 15 शहरों में फैन पार्क बनाए गए थे। ये पार्क चुनिंदा खुले परिसर और स्टेडियम में बनाए जाते हैं जिसमें मैच देखने पर स्टेडियम जैसा अनुभव मिलता है। इन जगहों पर विशाल स्क्रीन लगाई जाती है। फैन पार्क में प्रवेश निशुल्क होता है और महिलाओं व बच्चों के लिए खास इंतजाम किए जाते हैं।
इस सत्र का पहला फैन पार्क नौ और 10 अप्रैल को अमृतसर, बिलासपुर, मेरठ और बड़ौदा में खुलेगा। आइपीएल अध्यक्ष राजीव शुक्ला ने एक बयान में कहा कि पिछले साल यह पहल काफी कामयाब रही थी और देश के 15 शहरों में पार्क बनाए गए थे। करीब डेढ़ लाख क्रिकेट प्रेमियों ने इसमें मैच देखे।

हाई कोर्ट ने दी जीएमआर को राहत
नई दिल्ली। दिल्ली हाई कोर्ट ने आइपीएल फ्रेंचाइजी दिल्ली डेयरडेविल्स का स्वामित्व रखने वाले जीएमआर स्पोर्ट्स को शुक्रवार को अंतरिम आदेश देते हुए फिलहाल आगामी सत्र के लिए मनोरंजन कर जमा कराए बगैर टी20 मैचों के आयोजन की स्वीकृति दे दी। न्यायमूर्ति बीडी अहमद और न्यायमूर्ति सिद्धार्थ मृदुल ने हालांकि जीएमआर स्पोर्ट्स प्राइवेट लिमिटेड को प्रायोजकों की जानकारी देने के अलावा दिल्ली डेयरडेविल्स के यहां होने वाले मैचों के संदर्भ में हुए अनुबंधों की प्रति छह मई को अगली सुनवाई की तारीख से पहले सील कवर में देने को कहा गया है।
अदालत ने कहा कि उन्हें (जीएमआर स्पोर्ट्स प्राइवेट लिमिटेड) मनोरंजन कर जमा कराने की जरूरत नहीं है। अदालत ने यह आदेश जीएमआर की याचिका पर दिया है जिसने दिल्ली सरकार के एक अप्रैल के उस नोटिस पर रोक लगाने की मांग की थी जिसमें प्रायोजन करार पर 15 फीसद की दर से मनोरंजन कर देने के अलावा प्रायोजकों की सूची के साथ टीम के यहां होने वाले मैचों के संदर्भ में हुए अनुबंधों की हस्ताक्षर वाली प्रति देने को कहा गया था। अदालत ने पांच अप्रैल को दिल्ली सरकार को जीएमआर के खिलाफ कोई बाध्यकारी कदम उठाने से रोक दिया था।
किसानों के कल्याण के प्रति समर्पित हैं : शुक्ला
मुंबई। सूखे की मार झेल रहे महाराष्ट्र में आइपीएल मैचों के भविष्य पर अनिश्चितता के बीच इंडियन प्रीमियर लीग अध्यक्ष राजीव शुक्ला ने शनिवार को कहा कि वे किसानों के कल्याण के प्रति प्रतिबद्ध हैं और उन्हें जो भी सुझाव दिया जाएगा, वे उस पर अमल करेंगे। पानी की कमी से जूझ रहे महाराष्ट्र से आइपीएल मैचों को स्थानांतरित करने से जुड़ी जनहित याचिका पर बंबई हाई कोर्ट ने फिलहाल शनिवार को होने वाले टूर्नामेंट के पहले मैच पर रोक नहीं लगाई है।

आइपीएल के नौवें टूर्नामेंट के उद्घाटन समारोह के दौरान शुक्ला ने कहा कि आइपीएल और बीसीसीआइ किसानों के कल्याण के प्रति समर्पित हैं। हमें जो भी सुझाव दिया जाएगा उस पर अमल करेंगे। हमें जो भी कहा जाएगा हम उसमें सहयोग देंगे। महाराष्ट्र के तीन शहरों मुंबई, पुणे और नागपुर को इस सत्र में कुल 19 मैचों की मेजबानी करनी है।

शुक्ला ने कहा कि यह धारणा गलत है कि आईपीएल मनोरंजन शो है। उन्होंने कहा कि लोग भले ही कुछ भी देखें पर मेरा अब भी मानना है कि आइपीएल गंभीर क्रिकेट है। यह सिर्फ मनोरंजन नहीं है। अधिकांश मैच अंतिम ओवर में खत्म होते हैं। आइपीएल से काफी उभरती हुई प्रतिभाएं सामने आती हैं। यह सत्र पिछले टूर्नामेंट से बेहतर होगा। हर साल आइपीएल प्रगति कर रहा है।

मुंबई, पुणे फ्रेंचाइजी से मिलेंगे ठाकुर
नई दिल्ली। सूखे की मार झेल रहे महाराष्ट्र में आइपीएल के लिए क्रिकेट पिचों के रखरखाव के मद्देनजर पानी के इस्तेमाल पर नाराजगी झेल रहे बीसीसीआइ के सचिव अनुराग ठाकुर आगे की योजना पर चर्चा करने के लिए यहां मुंबई इंडियंस और राइजिंग पुणे सुपरजाइंट्स के प्रतिनिधियों से बैठक करेंगे।
इस बैठक का मुख्य मुद्दा होगा कि स्थल को बदलने की संभावना हो सकती है या नहीं या फिर बीसीसीआइ पिचों के रखरखाव के लिए पानी रखीद सकता है। बीसीसीआइ के एक सीनियर अधिकारी ने कहा कि बीसीसीआइ सचिव इन दोनों फ्रेंचाइजी के मालिकों से बैठक करेंगे क्योंकि यह एक गंभीर मुद्दा है। बोर्ड को तैयार रहने और आपात योजना तैयार रखने की जरूरत है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App