ताज़ा खबर
 

प्रशांत किशोर ने संभाली टीएमसी के चुनाव की जिम्मेदारी! 21 जुलाई को मेगा रैली से होने जा रहा रणनीतिक आगाज

चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर लगातार टीएमसी नेताओं से मिल रहे हैं।

Author नई दिल्ली | July 18, 2019 12:57 PM
ममता ने लोकसभा चुनाव के परिणाम के बाद प्रशांत किशोर को विधानसभा चुनाव की रणनीति बनाने की जिम्मेदारी सौंपी है। (फाइल फोटो)

पश्चिम बंगाल में मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने आगामी विधानसभा चुनाव के लिए तैयारियां शुरू कर दी हैं। खबर है कि टीएमसी अपनी इसी रणनीति के चलते 21 जुलाई को पार्टी के वार्षिक समारोह में शक्ति प्रदर्शन करेगी और चुनाव के लिए बिगुल फूंकेगी। पार्टी 21 जुलाई को शहीदी दिवस के रूप में भी मनाती है। दरअसल पिछले कुछ महीनों में भाजपा ने प्रदेश में अपनी स्थिति को मजबूत कर ममता सरकार की परेशानी बढ़ा दी हैं। जिसके चलते टीएमसी ने विधानसभा चुनावों के लिए राजनीतिक रणनीतिकार प्रशांत किशोर को जिम्मेदारी सौंपी है।

इससे पहले साल 2018 में शहीदी दिवस पर भी ममता बनर्जी ने कुछ लक्ष्य निर्धारित किए थे। इसमें दिल्ली में पार्टी को स्थापित करना और राज्य की सभी 42 सीटें पर जीत सुनिश्चित करना शामिल था। मगर आम चुनाव में टीएमसी अपने पुराने प्रदर्शन को भी नहीं दोहरा पाई। हालांकि पार्टी नेता टीएमसी के इस कमजोर प्रदर्शन को स्वीकार नहीं करना चाहते हैं जबकि उन्हें पता है इस बार विधानसभा चुनाव खासा मुश्किल होने वाला है।

टीएमसी नेता सुब्राता बख्शी ने 21 जुलाई को होने वाली रैली पर कहा कि किसी चैलेंज का सवाल ही नहीं है। इस साल होने वाली रैली पिछले 26 सालों से खूब बड़ी होगी। इस दौरान उनसे प्रशांत किशोर द्वारा सुझाए गए सवाल पर पूछा तो उन्होंने कहा, ‘जब मैं उनके बारे में बात करुंगा तो कुछ कहूंगा।’ बंगाल में 294 विधानसभा सीटें हैं। 2014 में टीएमसी ने 211 सीटों पर जीत हासिल की थी।

जानकारी के मुताबिक चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर लगातार टीएमसी नेताओं से मिल रहे हैं। हालांकि उनकी नियुक्ति पर बंगाल भाजपा इकाई के उपाध्यक्ष जयप्रकाश मजूमदार का बयान सामने आया है। मजूमदार ने कहा कि पार्टी में प्रशांत किशोर की नियुक्ति सीएम ममता बनर्जी की कमजोरी और अनिश्चितता का प्रतीक है। वह डर और खतरा महसूस कर रही हैं।

भाजपा नेता ने कहा, ‘टीएमसी प्रमुख सोचती है कि उनके लिए आगामी चुनाव जीतना मुश्किल है। लोकसभा चुनाव के नतीजों से उन्हें झटका लगा है कि वो दोबारा चुनाव जीत भी पाएंगी या नहीं।’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App