ताज़ा खबर
 

कोलकाता में अमित शाह की रैली: ‘BJP वापस जाओ’ के लगे पोस्‍टर, कार्यकर्ताओं की बस पर हमला

शहर के मध्य मायो रोड स्थित रैली स्थल के आसपास ऐसे पोस्टर लगे दिखे जिन पर ‘‘भाजपा बंगाल छोड़ो’’ लिखा है। एएनआई ने पोस्टरों के तस्वीर जारी किये हैं। इन पोस्टरों पर ‘‘भाजपा बंगाल छोड़ो’’ और ‘‘बंगाल विरोधी भाजपा वापस जाओ’’ लिखा है।

Author Updated: August 11, 2018 12:49 PM
घुसपैठियों के मुद्दे पर बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह कोलकाता में बड़ी रैली कर रहे हैं।

भाजपा अध्यक्ष अमित शाह की कोलकाता रैली से पहले बीजेपी ने दावा किया है कि उसके कार्यकर्ताओं को लाने जा रही बस पर हमला किया गया है। समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक रैली में शिरकत करने आ रहे कार्यकर्ताओं की बस पर पश्चिमी मिदनापुर में हमला किया गया। बदमाशों ने बस के शीशे तोड़ डाले। ये बस पश्चिमी मिदनापुर के नया बस्ती इलाके में खड़ी थी और बीजेपी कार्यकर्ताओं के आने का इंतजार कर रही थी, इस बावत चंद्रकोना टाउन पुलिस पोस्ट में एफआईआर दर्ज कराया गया है। इधर रैली से पहले शहर के मध्य मायो रोड स्थित रैली स्थल के आसपास ऐसे पोस्टर लगे दिखे जिन पर ‘‘भाजपा बंगाल छोड़ो’’ लिखा है। एएनआई ने पोस्टरों के तस्वीर जारी किये हैं। इन पोस्टरों पर ‘‘भाजपा बंगाल छोड़ो’’ और ‘‘बंगाल विरोधी भाजपा वापस जाओ’’ लिखा है। समाचार एजेंसी पीटीआई के मुताबिक ये पोस्टर तृणमूल कांग्रेस कार्यकर्ताओं द्वारा लगाये गए हैं। हालांकि इस आरोप से पश्चिम बंगाल में सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस ने इनकार किया।

पश्चिम बंगाल भाजपा अध्यक्ष दिलीप घोष ने कहा, ‘‘इससे पता चलता है कि तृणमूल कांग्रेस कल होने वाली हमारी रैली से भयभीत है। राज्य के लोग भाजपा के सुशासन का इंतजार कर रहे हैं।’’ भाजपा के एक अन्य नेता ने कहा कि बंगाल तृणमूल कांग्रेस की ‘‘निजी सम्पत्ति’’ नहीं है, पार्टी को ऐसी मांगें करने का कोई अधिकार नहीं है। उन्होंने कहा, ‘‘आने वाले दिनों में राज्य के लोग इसका निर्णय करेंगे कि कौन रुकेगा और कौन जाएगा।’’ यद्यपि तृणमूल कांग्रेस महासचिव एवं पश्चिम बंगाल के शिक्षा मंत्री पार्थ चटर्जी ने कहा कि ‘‘भाजपा विरोधी पोस्टरों’’ से उनकी पार्टी का कोई लेना देना नहीं है।

वहीं जिस मार्ग से शाह रैली स्थल पर पहुंचेंगे, उस पर तृणमूल कांग्रेस प्रमुख एवं पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के कटआउट लगे हैं। भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने कहा कि तृणमूल कांग्रेस ने गत जून में शाह के पुरुलिया दौरे और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की पश्चिमी मिदनापुर में पिछले महीने हुई रैली के दौरान भी ऐसे पोस्टर लगाये थे। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री ने यह कहते हुए तृणमूल कांग्रेस का मजाक भी उड़ाया था कि सत्ताधारी पार्टी ने उनका स्वागत करने के लिए पोस्टर लगाये हैं। विजयवर्गीय ने कहा, ‘‘उन्होंने ऐसा (तृणमूल कांग्रेस द्वारा पोस्टर लगाना) पूर्व में भी किया है। हो सकता है कि यह उनका राज्य में लोगों का स्वागत करने का तरीका हो।’’ चटर्जी ने कहा कि उनकी पार्टी सुप्रीमो के पोस्टर और तख्तियां लगाने में कुछ भी गलत नहीं है। बता दें कि अमित शाह असम में राष्ट्रीय नागरिक पंजी (एनआरसी) पर ममता बनर्जी के रवैये को लेकर रैली कर रहे हैं। ममता ने कहा है कि बीजेपी देश को लोगों को बांटना चाहती है और वो बीजेपी को अपने मुहिम में कामयाब नहीं होने देगी।

(एजेंसी इनपुट्स के साथ)

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories