ताज़ा खबर
 

पश्चिम बंगाल: थम नहीं रहीं वारदात, अब कूच बिहार में बीजेपी समर्थक पर चली गोली

पीड़ित शख्स की पहचान नारायण सरकार के रूप में की गई है। उसे रविवार रात कूच बिहार में गोली मारी गई है। हमले के तुरंत बाद पीड़ित को स्थानीय हॉस्पिटल में भर्ती कराया कराया है।

भाजपा कार्यकर्ता नारायण सरकार। (ANI PHOTO)

पश्चिम बंगाल के पुरुलिया जिले में दो भाजपा कार्यकर्ताओं के शव पेड़ से और हाईटेंशन तार से लटके मिलने के बाद अब तीसरा मामला सामने आया है। स्थानीय रिपोर्ट्स के मुताबिक राज्य के कूच बिहार में सत्तापक्ष पार्टी कार्यकर्ताओं द्वारा भाजपा कार्यकार्ता पर जानलेवा हमला किया गया है। न्यूज एजेंसी एएनआई की रिपोर्ट के मुताबिक पीड़ित शख्स की पहचान नारायण सरकार के रूप में की गई है। उसे रविवार रात कूच बिहार में गोली मारी गई है। हमले के तुरंत बाद पीड़ित को स्थानीय हॉस्पिटल में भर्ती कराया कराया है। घटना की जानकारी बीते सोमवार (5 जून, 2018) को मिली है।

बता दें कि बीते एक सप्ताह में राज्य में तीसरी बार भाजपा कार्यकर्ता पर हमला किया गया है। 31 मई को 18 वर्षीय त्रिलोचन मेहतो का शव मिला था, जो भाजपा की जिला युवा विंग का सदस्य था। शव पर लिखा गया कि ये भाजपा को समर्थन करने का परिणाम है। शनिवार को 32 साल के दुलाल कुमार का शव दाभा जिले में हाईटेंशन तार से लटका हुआ मिला। इस मामले में परिवार के सदस्यों के दावों के बावजूद नए नियुक्त हुए एसपी आकाश मघारिया का कहना है कि दुलाल ने आत्महत्या की। एसपी ने यह जानकारी कथित तौर पर पोस्ट मार्टम की रिपोर्ट के आधार पर दी।

गौरतलब है कि राज्य की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने हाल के दिनों में जोय बिश्वास की जगह आकाश मघारिया को जिले का एसपी नियुक्त किया था। मामले में भाजपा आलाकमान ने तब इन दोनों हत्याओं को राजनीतिक साजिश बताया था। साथ ही मामले में सीबीआई जांच की मांग की थी। दूसरी तरफ सीपीएम ने भी टीएमसी कार्यकर्ताओं पर पार्टी सदस्यों पर हमला करने का आरोप लगाया है। मामले में सीपीएम में ट्विटर पर लिखा, ‘सीपीआईएम छात्र नेता अताबुल इस्लाम जमालदाहा मेघलीगंज से पंचायत चुनाव जीते थे। तब से उन्हें टीएमसी के गुंडों द्वारा धमकिया दी जा रही थीं। बाद में टीएमसी के गुंडों ने जमालदाहा के घर पर हमला कर दिया। उनके चाचा की गोली मारकर हत्या कर दी गई। इसके अलावा पिता समेत परिवार के सात सदस्य की हालत गंभीर बनी हुई है।’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App