ताज़ा खबर
 

अमेरिकी राजनयिक की पत्नी को भाया रवींद्र संगीत, पश्चिमी शैली में गा रही हैं बंगाली गीत

मीरूंग ने कोलकाता में पिछले कुछ महीनों में रहने के दौरान राजभवन, अमेरिकन सेंटर और आईसीसीआर सभागार सहित शहर में कई प्रस्तुतियां दी हैं।

Author कोलकाता | June 24, 2016 15:44 pm
रबींद्रसंगीत की नियमित तौर पर कक्षाएं लेने से उन्हें टैगोर के कम से कम सात गानों में महारत हो गई है। ( file photo)

किस्मत मिरूंग हाल को अमेरिकी राजनयिक की पत्नी के तौर पर कोलकाता ले आयी लेकिन जानी मानी पश्चिमी शास्त्रीय गायिका को यह पता नहीं था कि एक दिन वह बंगाली में रवींद्रसंगीत के गीतों से श्रोताओं को मुग्ध कर देंगी। अमेरिकी महावाणिज्य दूत क्रेग हॉल की पत्नी मीरूंग ने कोलकाता में पिछले कुछ महीनों में रहने के दौरान राजभवन, अमेरिकन सेंटर और आईसीसीआर सभागार सहित शहर में कई प्रस्तुतियां दी हैं।

दक्षिण कोरियाई मूल की मीरूंग जब भी मंच पर प्रस्तुति देने के लिए आती हैं तो पश्चिमी शैली में बंगाली गीतों को प्रवाह से गाकर दर्शकों को हैरत में डाल देती हैं। रबींद्रसंगीत की नियमित तौर पर कक्षाएं लेने से उन्हें टैगोर के कम से कम सात गानों में महारत हो गई है और वह सात अन्य गाने सीख रही हैं। मीरूंग ने पीटीआई भाषा से कहा, ‘‘ एक दिन मैंने वाणिज्य दूतावास के एक स्टाफ को टैगोर का एक गाना गाते हुए सुना। मुझे वह बहुत पंसद आया और मैंने उसे सीखने का फैसला किया। ‘अलो अमर अलो’ पहला गाना था जो मैंने सीखा।’’ उन्हें अक्सर पियानों पर राजलक्ष्मी की संगत मिलती है जो संगीतकार और फैशन डिजाइनर है।

वह उन्हें टैगोर के गानों की बारीकी सिखा रही है। राजनयिक की पत्नी को टैगोर की कुशल और सच्ची छात्रा बताते हुए राजलक्ष्मी ने कहा कि उन्होंने बंगाली गीत का हर शब्द अंग्रेजी में अनूदित किया है और उन्हें धुन का मतलब समझाया है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App