ताज़ा खबर
 

किसानों को साधने पश्चिम बंगाल पहुंचे जेपी नड्डा, ‘एक मुट्ठी चावल’ अभियान शुरू कर बोले- ममता का जाना तय है

बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा फिर से पश्चिम बंगाल पहुंच गए हैं। एक जनसभा को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा- इस बार ममता का जाना तय है। उन्होंने एक मुट्ठी चावल योजना का भी आग़ाज़ किया।

West bengal, jp naddaपश्चिम बंगाल के दूसरे दौरे पर पहुंचे जेपी नड्डा। (तस्वीर- ANI)

विधानसभा चुनावों को लेकर जेपी नड्डा पश्चिम बंगाल के दूसरे दौरे पर पहुंच गए हैं। इससे पहले उनपर पत्थरबाजी हो गई थी। इस बार जेपी नड्डा ने ‘एक मुट्ठी चावल’ योजना की शुरुआत की है। इसका मकसद किसानों को साधना है। उन्होंने वर्धमान में राधा गोविंद मंदिर में पूजा की। इसके बाद एक जनसभा को संबोधित करते हुए कहा, इतने बड़े जनसैलाब को देखकर स्पष्ट है कि इस बार ममता का जाना तय है।

उन्होंने चुन-चुनकर ममता बनर्जी पर वार किए। नड्डा ने कहा, ‘इस सरकार में घोटाले- ही घोटाले हुए। यहां भ्रष्टाचार का बोलबाला है। यहां अंतिम संस्कार के लिए भी कट मनी ली जा रही है।’ उन्होंने ममता बनर्जी के भतीजे अभिषेक बनर्जी पर भी निशाना साधते हुए कहा कि राजकुमार धन बटोर रहे हैं। उन्होंने कहा कि अब ममता सरकार का जाना तय है और बीजेपी सरकार का आना तय है। उन्होंने कहा कि जब बीजेपी सरकार आएगी तो किसानों का विकास होगा।

नड्डा ने जगदानंदपुर गांव पहुंचकर ‘एक मुट्ठी चावल’अभियान शुरू किया। इस अभियान का लक्ष्य पार्टी का 73 लाख किसानों के घर पहुंचना है।  उनकी बंगाल यात्रा के मद्देनजर सुरक्षा के व्यापक इंतजाम किए गए हैं ताकि कोई अप्रिय घटना ना घट सके। वे दिन भर बर्धमान जिले में किसानों के साथ ही बिताएंगे और उन्हें नये कृषि कानूनों के फायदे बताएंगे। दिल्ली की सीमाओं पर पिछले चार सप्ताह से कड़ाके की ठंड के बीच पंजाब, हरियाणा और पश्चिमी उत्तर प्रदेश के किसान तीनों कृषि कानूनों को निरस्त करने की मांग को लेकर आंदोलन कर रहे हैं। सरकार और किसान संगठनों के बीच शुक्रवार को आठवें दौर की वार्ता भी हुई लेकिन कोई नतीजा नहीं निकल सका।

सरकार जहां कृषि कानूनों को वापस लेने की मांग को खारिज करती रही है वहीं किसान संगठनों ने स्पष्ट कर दिया है कि आखिरी सांस तक इन कानूनों को निरस्त करने की लड़ाई लड़ते रहेंगे। चावल संग्रह अभियान के तहत 2021 विधानसभा चुनाव से पहले पार्टी राज्य के 73 लाख किसानों के घर-घर पहुंचेगी। प्रदेश भाजपा के एक नेता ने बताया, ‘‘इस अभियान की शुरुआत होने के बाद पार्टी के कार्यकर्ता राज्य के 48,000 गांवों में जाएंगे और घर-घर पहुंचकर एक मुटठी चावल संग्रह करेंगे।’’

Next Stories
ये पढ़ा क्या?
X