तृणमूल कांग्रेस के शानदार प्रदर्शन के पीछे ममता, भाजपा करेगी आत्ममंथन : विजयवर्गीय

पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव की मतगणना के बीच भाजपा महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने रविवार को चुनाव में तृणमूल कांग्रेस के शानदार प्रदर्शन का श्रेय मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को दिया और कहा कि उनकी पार्टी चुनावी नतीजों पर आत्ममंथन करेगी।

Author Updated: May 2, 2021 11:46 PM
BJP Leaderभाजपा नेता कैलाश विजयवर्गीय। फाइल फोटो।

पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव की मतगणना के बीच भाजपा महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने रविवार को चुनाव में तृणमूल कांग्रेस के शानदार प्रदर्शन का श्रेय मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को दिया और कहा कि उनकी पार्टी चुनावी नतीजों पर आत्ममंथन करेगी। इससे पहले, उन्होंने दावा किया था कि शुरुआती रुझान अंतिम चुनावी नतीजों की ओर संकेत नहीं करते हैं। साथ ही उन्होंने भाजपा की जीत का भरोसा जताया था।

भाजपा के पश्चिम बंगाल के प्रभारी विजयवर्गीय ने यह भी बताया कि केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने उन्हें फोन कर पार्टी के खराब प्रदर्शन के बारे में जानकारी ली। भाजपा महासचिव ने केंद्रीय मंत्री बाबुल सुप्रियो और सांसद लॉकेट चटर्जी के मतगणना में पीछे रहने पर आश्चर्य जताया।

उन्होंने कहा, ‘तृणमूल कांग्रेस ममता बनर्जी की वजह से जीती। ऐसा लग रहा है कि लोगों ने दीदी को पसंद किया। क्या गलती हुई, हम इसकी समीक्षा करेंगे। क्या कोई संगठनात्मक कमी रह गई या चेहरे का अभाव कारण रहा या बाहरी-भीतरी की बहस। हम देखेंगे क्या गलती हुई।’अभी तक आए मतगणना के रुझान संकेत कर रहे हैं कि ममता बनर्जी सत्ता की हैट्रिक लगा रही हैं।

वाईएसआर कांग्रेस को तिरुपति लोकसभा सीट पर उपचुनाव में जीत मिली

आंध्र प्रदेश में सत्तारूढ़ वाईएसआर कांग्रेस ने तिरुपति (एससी) लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र के उपचुनाव में मुख्य विपक्षी तेलुगू देशम पार्टी (तेदेपा) को 2.70 लाख से ज्यादा मतों के अंतर से हराया। वाईएसआरसी के उम्मीदवार एम गुरुमूर्ति ने तेदेपा उम्मीदवार और पूर्व केंद्रीय राज्य मंत्री पनबाका लक्ष्मी को शिकस्त दी।

भाजपा उम्मीदवार और पूर्व आइएएस अधिकारी के रत्ना प्रभा महज 5.16 फीसद वोट पाने में कामयाब रहीं। उनकी जमानत भी जब्त हो गई। भाजपा के लिए संतोष की बात यह रही कि 2019 के चुनाव में वोटों में उसकी भागीदारी महज 1.22 प्रतिशत थी जो इस बार बढ़ गयी। पूर्व राज्य मंत्री और कांग्रेस के प्रत्याशी ंिचंता मोहन 10,000 वोट भी नहीं हासिल कर सके। तिरुपति लोकसभा सीट से निवर्तमान सांसद बल्ली दुर्गा प्रसाद राव के कोविड-19 से निधन के कारण 17 अप्रैल को उपचुनाव कराया गया।

Next Stories
1 शिवसेना ने ममता बनर्जी को ‘बंगाल की बाघिन’ बताया
2 ‘बाहरी’ और ‘बंगाली अस्मिता’ के मुद्दों ने कर दिया ‘खेला’
3 पश्चिम बंगाल में ओवैसी के साथ हो गया ‘खेला’, AIMIM के सातों उम्मीदवारों की जमानत जब्त
यह पढ़ा क्या?
X