ताज़ा खबर
 

बशीरहाट दंगा: मारे गए शख्स को बीजेपी ने बताया अपना कार्यकर्ता, परिवार ने किया इनकार

बीजेपी राष्ट्रीय सचिव कैलाश विजयवर्गीय ने कहा कि संप्रादायिक हिंसा में हमने हमारा एक कार्यकर्ता खो दिया है।
फेसबुक पर आपत्तिजनक पोस्ट के बाद पश्चिम बंगाल के उत्तरी 24 परगना में दंगा भड़क गया। (Photo-facebook)

पश्चिम बंगाल के 24 परगना जिले के बशीरहाट में गुरुवार को फेसबुक पर आपत्तिजनक पोस्ट के बाद हुई हिंसा में 65 वर्षीय एक व्यक्ति की भीड़ द्वारा हत्या कर दी गई थी। पुलिस ने मृतक की पहचान कार्तिक चंद्र घोष के रूप में की है। इस मामले में उस समय राजनीतिक मोड़ आ गया जब बीजीपे ने दावा किया कि मृतक बीजेपी का कार्यकर्ता था। वहीं कार्तिक के परिवार ने बीजेपी के दावा को सिरे से नकार दिया है। बीजेपी राष्ट्रीय सचिव कैलाश विजयवर्गीय ने कहा कि संप्रादायिक हिंसा में हमने हमारा एक कार्यकर्ता खो दिया है। हम उसके परिवार से मिलने आए थे लेकिन कुछ लोगों ने हमे उनसे मिलने नहीं दिया। वे टीएमसी के कार्यकर्ता लग रहे थे क्योंकि वे टीएमसी का नारा दे रहे थे। हमें हमारे कार्यकर्ता के परिवार से मिलने की इजाजत नहीं दी गई।

वहीं बीजेपी नेता और प्रदेश अध्यक्ष दिलीप घोष ने कहा कि पुलिस की मौजूदगी में टीएमसी कार्यकर्ताओं ने हमारा रास्ता रोका। हमारे घायल कार्यकर्ता को भीड़ द्वारा अस्पताल से बाहर खदेड़ा गया और उसकी पीट-पीटकर हत्या कर दी गई। इस मामले में जब कार्तिक के परिजनों से बात की गई तो उन्होंने कहा कि कार्तिक का बीजेपी के साथ कोई भी संबंध नहीं था। कार्तिक के बेटे प्रभासीस ने इंडियन एक्सप्रेस से घटना के बारे में बात करते हुए कहा कि पापा बाजार से कुछ सामान लेने के लिए गए थे। करीब एक बजे पापा मार्किट से आ रहे थे कि अलपसंख्यक समुदाय के लोगों ने उनपर हमला कर दिया। पापा पर तेज हथियार से कई वार कर हमलावर उन्हें सड़क पर खून से लतपत छोड़ वहां से फरार हो गए। वहीं पुलिस सूत्रों का कहना है कि रविवार को हुई हिंसा में एक व्यक्ति और घायल हुआ था जिसकी हालत अब ठीक बताई जा रही है।

आपको बता दें कि सोशल नेटवर्किंग साइट फेसबुक पर एक विवादित पोस्ट के बाद दो समुदाय में झड़प हो गई थी। आक्रोशित भीड़ ने मंगलवार को बदुरिया, बशीरहाट, हरोआ, स्वरूपनगर और देगंगा में हिंसा की। इन इलाकों में धारा 144 लगाई गई है। गुरुवार को, पुलिस ने भीड़ को काबू करने के लिए लाठीचार्ज किया, जिसमें कई लोग घायल हुए हैं। प. बंगाल की ममता सरकार का मानना है कि दो समुदायों के अलग-अलग संगठन आग में घी डालने का काम कर रहे हैं।

देखिए दंगे की आग में जल रहे पश्चिम बंगाल के बशीरहाट की तस्वीरें

देखिए वीडियो

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.