ताज़ा खबर
 

पश्चिम बंगाल: मिड-डे मील में निकली मरी हुई छिपकली, दूषित खाना खाकर 87 बच्‍चे पहुंचे अस्‍पताल

खाना खाते समय एक बच्चे की प्लेट में एक मरी हुई छिपकली पाई गई।
Author कोलकाता | November 19, 2017 17:34 pm
इस तस्वीर का इस्तेमाल केवल प्रतीक के तौर पर किया गया है।

पश्चिम बंगाल के एक स्कूल में मिड डे मील में मरी हुई छिपकली निकलने का मामला सामने आया है। इस खाने को खाकर 87 छात्र बीमार पड़ गए हैं। यह मामला बंकुआ जिले के एक सरकारी स्कूल का है जहां पर दूषित खाना खाने के कारण छात्रों की हालत बिगड़ी जिसके बाद उन्हें तुरंत इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती करा दिया गया। फिलहाल सभी बच्चों की हालत अब स्थिर बताई जा रही है और उन्हें उपचार के बाद घर भेज दिया गया है। यह घटना शुक्रवार की है। एनडीटीवी के अनुसार मंडरमणी प्राइमरी स्कूल में बच्चों को लंच टाइम में खाना बांटा गया था। खाना खाते समय एक बच्चे की प्लेट में एक मरी हुई छिपकली पाई गई। अपने साथी की प्लेट में मरी हुई छिपकली देखकर वहां मौजूद सभी बच्चों में डर बैठ गया।

मोनिरुल इस्लाम ब्लॉक के मेडिकल ऑफिसर ने इस मामले पर जानकारी देते हुए कहा जिला प्रशासन और स्कूल ऑथोरिटी बिना किसी देरी के बच्चों को स्थानीय को अस्पताल लेकर पहुंचे लेकिन कोई भी ज्यादा गंभीर हालत में नहीं पाया गया जिसके बाद प्राथमिक उपचार के बाद उन्हें वापस भेज दिया। वहीं ओंडा सुपर स्पेशिलिटी अस्पताल के सुप्रींटेंडेंट ने कहा कि ज्यादातर छात्रों को तुरंत छुट्टी दे गई थी लेकिन दो या तीन बच्चों को रातभर निरीक्षण के लिए अस्पताल में रखा गया जिन्हें शनिवार सुबह छुट्टी दे दी गई।

बता दें कि यह पहला मामला नहीं है जहां पर मिड डे मील खाकर बच्चों के बीमार होने का मामला सामने आय़ा है। इससे पहले ओडिशा में मिड डे मील खाने से 200 से ज्यादा बच्चे बीमार पड़ गए थे। ये पांच स्कूल के छात्र थे जिनके लिए एक ट्रस्ट खाने की आपूर्ति का काम करता था। इस मामले के सामने आने के बाद जांच और आरोपियों पर उचित कार्रवाई करने के आदेश दे दिए गए थे। वहीं इसी प्रकार का एक मामला जमुई में देखने को मिला था जहां पर मिड डे मील में मरी हुई छिपकली मिलने के बाद करीब 25 बच्चे बीमार पड़ गए थे।

देखिए वीडियो

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App