LPG के दामों को लेकर फिर आमने-सामने हुए राज्यपाल और TMC, सांसद महुआ मोइत्रा ने कहा- अंकल जी, WB को बदनाम करना बंद करें

हालांकि यह पहली बार नहीं है जब सांसद महुआ मोइत्रा ने अंकल जी कहकर राज्यपाल जगदीप धनखड़ पर हमला बोला हो। इससे पहले राजभवन में ओएसडी की नियुक्ति में परिवारवाद को बढ़ावा देने का आरोप लगाते हुए भी महुआ मोइत्रा ने अंकल जी कहकर ही तंज कसा था।

रसोई गैस के दामों में बढ़ोतरी को लेकर तृणमूल सांसद महुआ मोइत्रा ने अंकल जी कहकर राज्यपाल जगदीप धनखड़ पर निशाना साधा और उनसे पश्चिम बंगाल को बदनाम ना करने की अपील की। (फोटो – एएनआई)

सरकारी तेल कंपनियों ने एक बार फिर से रसोई गैस के दामों में 25 रुपए की बढ़ोतरी की है। रसोई गैस के दाम बढ़ने के बाद एक बार फिर से तृणमूल सांसद महुआ मोइत्रा ने पश्चिम बंगाल के राज्यपाल जगदीप धनखड़ पर हमला बोला है। राज्यपाल जगदीप धनखड़ को अंकल जी कहते हुए तृणमूल सांसद महुआ मोइत्रा ने कहा है कि आप पश्चिम बंगाल को बदनाम करना बंद करें।

पश्चिम बंगाल से तृणमूल सांसद महुआ मोइत्रा ने ट्वीट करते हुए राज्यपाल जगदीप धनखड़ पर हमला बोला। महुआ मोइत्रा ने लिखा कि रसोई गैस की बढती कीमतें भी कोलकाता स्थित राजभवन में गैस रिफिल को नहीं रोक पा रही हैं। इसलिए अंकल जी – पश्चिम बंगाल को बदनाम करना बंद करो। आगे महुआ मोइत्रा ने लिखा कि आप अपने मास्टर के वाइब्रेंट गुजरात पर सवाल उठाएं जहां 2015 और 2017 में 150 करोड़ खर्च किए गए थे और साथ ही जहां यूके ने संतोषजनक व्यावसायिक परिणामों में कमी की वजह से साल 2019 में इस कार्यक्रम में शामिल होने से मना कर दिया था।

हालांकि यह पहली बार नहीं है जब सांसद महुआ मोइत्रा ने अंकल जी कहकर राज्यपाल जगदीप धनखड़ पर हमला बोला हो। पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव के बाद महुआ मोइत्रा ने राज्यपाल पर राजभवन में ओएसडी नियुक्त करने में परिवारवाद को बढ़ावा देने का आरोप लगाया था और अंकल जी कहते हुए तंज कसा था। महुआ मोइत्रा ने ओएसडी के नाम वाली लिस्ट शेयर करते हुए लिखा था कि अंकल जी, आपने तो अपने विस्तारित परिवार को ही राजभवन में बसा रखा है। 

इसके अलावा महुआ मोइत्रा ने राज्यपाल जगदीप धनखड़ द्वारा पश्चिम बंगाल की सुरक्षा व्यवस्था पर सवाल उठाए जाने पर जवाब देते हुए अंकल जी कहकर ही हमला किया था। तृणमूल सांसद महुआ मोइत्रा ने जगदीप धनखड़ पर निशाना साधते हुए कहा था कि अंकलजी अगर आप क्षमा-याचना करके वापस दिल्ली चले जाएं और कोई दूसरी नौकरी तलाश कर लें तो पश्चिम बंगाल की स्थिति सुधर जाएगी। 

बता दें कि सरकारी तेल कंपनियों ने मात्र 15 दिनों में दूसरी बार गैस सिलेंडर के दामों में बढ़ोतरी की है. 1 सितंबर को बिना सब्सिडी वाले रसोई गैस की कीमत में भी 25 रुपए की बढ़ोतरी की गई थी। इससे पहले 18 अगस्त को भी प्रति सिलेंडर 25 रुपए का इजाफा किया गया था। सरकारी कंपनियों द्वारा सिलेंडर के दाम बढाए जाने के बाद अब कोलकाता में एक सिलेंडर की कीमत 911 रुपए हो गई है।

पढें राज्य समाचार (Rajya News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट