ताज़ा खबर
 

पश्चिम बंगाल: किराये को लेकर हुआ विवाद, 2 साल की मासूम को खौलते पानी में दे दिया धक्‍का, मौत

अस्पताल के डॉक्टरों का कहना है कि इस हादसे में दिपनविता की छाती, कंधे और हाथों में गंभीर चोटें आयी थीं। साथ ही वह इस घटना के सदमे से नहीं उबर पायी और बुरी तरह से जले होने के कारण शनिवार को उसने दम तोड़ दिया।

महिला ने दिया बच्ची को खौलते पानी में धक्का।

कोलकाता में एक चौंकाने वाले मामले के तहत दो महिलाओं के झगड़े में एक महिला ने 2 साल की बच्ची को खौलते पानी में धक्का दे दिया। इस दर्दनाक हादसे में बच्ची 75 प्रतिशत तक जल गई थी और 5 दिनों तक अस्पताल में जिंदगी और मौत के बीच झूलने के बाद शनिवार को बच्ची ने दम तोड़ दिया। खबर के अनुसार, कोलकाता के उल्टाडांगा इलाके की रहने वाली सुसेन भुनिया नामक एक महिला के घर में राजकुमारी शॉ नामक महिला किराएदार के तौर पर रह रही थी। सुसेन के अनुसार, राजकुमारी ने पिछले काफी दिनों से मकान का किराया नहीं दिया था। जिसके चलते दोनों के बीच कई बार बहस हो चुकी थी।

सुसेन का आरोप राजकुमारी उसके घर पर कब्जा करना चाहती है। खबर के अनुसार, बीते 14 अगस्त को सुसेन और राजकुमारी के बीच एक बार फिर किराए को लेकर बहस हो गई। जो धीरे धीरे काफी ज्यादा बढ़ गई। इसी बीच गुस्साई राजकुमारी ने सुसेन की 2 साल की बेटी दिपनविता, जो कि उस वक्त आंगन में खेल रही थी, को धक्का दे दिया। धक्का लगते ही दिपनविता पास में बन रहे चावल के भगोने में जा गिरी और 75 प्रतिशत तक झुलस गई। इसके बाद दिपनविता को तुरंत नजदीकी एसएसकेएम अस्पताल ले जाया गया।

अस्पताल के डॉक्टरों का कहना है कि इस हादसे में दिपनविता की छाती, कंधे और हाथों में गंभीर चोटें आयी थीं। साथ ही वह इस घटना के सदमे से नहीं उबर पायी और बुरी तरह से जले होने के कारण शनिवार को उसने दम तोड़ दिया। फिलहाल दिपनविता के परिजनों ने अपने किराएदारों और रिश्तेदारों के खिलाफ एफआईआर दर्ज करायी है। वहीं इस मामले में आरोपी राजुकमारी शॉ का कहना है कि यह हादसा सिर्फ एक दुर्घटना थी और बच्ची के परिजन उसे इस मामले में फंसाना चाहते हैं। फिलहाल पुलिस मामले की जांच में जुटी है और यह पता लगाने की कोशिश कर रही है कि किन परिस्थितियों में बच्ची को खौलते पानी में धक्का दिया गया।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App